कोरोना काल में लोगों की जिंदगी में नया जोश भरने के लिए सयानी पालित ने लोकप्रिय रेट्रो गीत ‘ऐ जिंदगी गले लगा ले’ का कवर वर्जन किया रिलीज

1 min


डेढ़ वर्ष से कोरोना महामारी ने लोगों की जिंदगी में विपदा ही विपदा बरसायी है। लोग परेशान हैं। निराश हैं। ऐसे ही लोगों की जिंदगी में नया जोश व सुकून भरने के लिए मशहूर गायिका सयानी पालित फिल्म ‘सदमा’ का गीत ‘ऐ जिंदगी गले लगा ले..’ का कवर वर्जन लेकर आयी हैं।

वैसे भी सयानी पालित कोरोना काल में भी अपने घर पर रहते हुए लोगों का मनोरंजन करने व उन्हें सकून दिलाने के लिए नित नए गाने लाती रही हैं। खुद सयानी पालित कहती हैं- ‘मेरी कुछ बड़ी फिल्में कोरोना की वजह से अटकी हुई हैं। पर ओटीटी के लिए कुछ कर रही हूँ। इसके अलावा ‘वर्च्युअल जाम सीरीज’ षुरू किया है, जिसका नाम है- ‘सायनीज म्यूजी कोलाब’ इसमें मैं हिंदी और बंगाली फिल्म इंडस्ट्री के म्यूजीषियन के साथ वच्युअल कोलेब्रेषन से कार्यक्रम बनाकर यूट्यूब चैनल पर डाल रही हूँ। इसमें मान लीजिए कोई बड़ा पियानिस्ट है, जो कि पियानो बजाकर मुझे भेज रहा है, मैं यहां से गा रही हूँ। फिर उसका वीडियो बनाकर यूट्यूब पर डाल रही हूँ, जिससे संगीत जगत में कुछ न कुछ रचनात्मक काम होता रहे। लोगों को निरंतर गाने सुनने को मिलते रहे। हम सभी जानते हैं कि संगीत, म्यूजिक थेरैपी भी है, जो इंसान को सकून देता है। इंसान की कई बीमारीयों में राहत देता है। ‘सयानीज म्यूजी कोलाब’ में कुछ नए व कुछ पुराने गीतों को गा रही हूँ। पुराने गीतो को आधुनिक रंग देकर पेश करने का भी प्रयास है।

सयानी पालित आगे कहती हैं- ‘फिल्म ‘सदमा’का बहुत मषहूर गाना है- ‘ऐ जिंदगी गले लगा ले’’। इस गाने को हम नए रूप में 16 जुलाई को बाजार में ला रहे है। इस लोकप्रिय रेस्ट्रो गीत के संगीत को पुनः बंगाल के मषहूर संगीतकार सुवम मोएत्रा ने गढ़ा है। गाने का एनीमेषन वीडियो बनाया है। गाने को मैंने गाया है। इस गाने को नए अंदाज में पेष करने का हमारा यह प्रयास है। इसके वीडियो के लिए एक प्रतिभाषाली लड़के रीमो मोंडाल ने गीत को समझकर ड्राइंग बनाकर उसकी ग्राफिक करते हुए एनीमेषन के माध्यम से कहानी रची है।’

31 वर्षीय षास्त्रीय गायक व संगीतकार सयानी पालित पिछले सात वर्षों से संगीत की दुनिया में धमाल मचाए हुए हैं। मूलतः कोलकाता निवासी और बांगला फिल्मों में व्यस्त सयानी पालित ने संगीतकार षंकर एहसान लॉय के निर्देषन में हिंदी  फिल्म ‘‘कट्टी बट्टी’’ के लिए एक गीत ‘‘ओे जानिए’’ को अपनी आवाज में स्वरबद्ध किया था। जिसमें कंगना रनौट और इमरान खान की रोमांटिक भूमिकाएं थीं। उसके बाद वह बंगला फिल्मों में व्यस्त हो गयीं। फिर सयानी पालित ने राम कमल मुखर्जी की हिंदी फिल्म ‘‘सीजंस ग्रीटिंग्स’’ में रवींद्रनाथ टैगोर के मैथली भाषा के गीत ‘‘सजनी सजनी राधिका लो..’’ गाकर हंगामा मचा दिया। यह फिल्म अभी भी फिल्म समारोहो में धमाल मचा रही है।

‘ऐ जिंदगी गले लगा ले’ को ही नए अंदाज में पेष करने की बात दिमाग में कैसे आयी? इस सवाल पर सयानी पालित ने कहा- ‘‘पिछले डेढ़ वर्ष से हम सभी जिंदगी को लेकर परेषान हैं। इस गाने को जब हम सुनते हैं, तो जिंदगी जीने के लिए एक प्रेरणा मिलती है। यह गाना हमें बताता है कि जिंदगी में उतार चढ़ाव तो रहेंगे, मगर जिंदगी कभी रूकती नही है। जिदंगी निरंतर आगे बढ़ती जाती है। यह जिंदगी जिस रूप में भी है, उसे हमें स्वीकार ही करना है. और हमें चुपचाप आगे बढ़ते जाना है। तो मुझे लगा कि वर्तमान समय में जो परिस्थिति बनी हुई है, उसमें यह गाना एकदम समसामायिक है। कोरोना लॉक डाउन के चलते हर इंसान किसी न किसी समस्या से ग्रस्त है। कुछ लोग घर में रहते हुए कंुठित हो रहे हैं, तो कुछ लोग निराष होने लगे हैं। ऐसे लोगों के अंदर यह गाना नया जोष भरने का काम करेगा। हमने इसका म्यूजिक वीडियो एनीमेषन में बनाया है, मगर वीडियो में आपको जीवन के संघर्ष के साथ जीवन की खुषी नजर आएगी।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये