INTERVIEW: मेरी तुलना ऐश्वर्या राय बच्चन से नहीं की जा सकती : सायशा सहगल

1 min


0

लिपिका  वर्मा 

सायशा ने एक साथ तीनों फ़िल्मी जगत-तमिल,तेलुगु एवम बॉलीवुड में डेब्यू किया है। और सायशा  इस बात से बहुत खुश भी है कि उनकी पहली फिल्म अजय देवगन के साथ है जिस में वो न केवल अभिनय कर रही है अपितु अजय का यह ड्रीम प्रोजेक्ट है जिसे वह निर्देशित भी कर  रहे है।

सायशा  के साथ लिपिका  वर्मा की बातचीत के कुछ अंश

आप दिलीप साहब के परिवार से सम्बन्धित  है तो उनसे कुछ बातचीत के अंश हमसे शेयर करे?

मैं उन्हें नानू कह कर  बुलाती हूँ और यह भी सच है कि बचपन से मुझे अभिनय का शौक रहा है। लगभग 9 वर्ष की आयु से ही मैंने डांस सीखना  शुरू कर दिया था। नानू की फ़िल्में देख कर ही बड़ी हुई हूँ और जब कभी वक़्त मिलता तो उनकी फ़िल्में अब भी देख लिया करती हूँ।saishay

बॉलीवुड में फिल्म, शिवाय” से डेब्यू कर रही है, क्या यह आपके लिए सबसे अच्छा समय है?

जी हाँ, इस से बेहतर मौका और क्या मिल सकता था मुझे। अजय सर के साथ काम करने का मौका मिला है सो मेरा सौभाग्य ही तो है। मेरा ऑडिशन हुआ और उसके बाद अजय सर ने यही कहा कि  जिस तरह तुम नेचुरल परफॉर्मेंस  करती हो, बस वैसे ही कैमरे  के सामने भी सहज रूप से काम करना है। फिल्म, “शिवाय” एक बहुत ही बड़ी फिल्म है। इस फिल्म का मै एक हिस्सा हूँ  सो मैं  बहुत ही खुश हूँ। मेरा रील कैरेक्टर रियल लाइफ से बहुत मिलता जुलता है। मैं  काफी उसी की तरह हूँ। यह किरदार करने में मुझे बहुत  आनंद आया।

अजय अभिनेता या फिर निर्देशक-दोनों  बाग़ डोर सम्भाल  रहे है – क्या कहना चाहेंगी आप?

मैं तो अभी शुरुआत ही कर रही हूँ  सो मैं क्या कहूँ ? लेकिन हाँ बतौर अभिनेता-वह बड़ी सरलता से अभिनय  करते है मैं तो बस उन्हें देखती  ही रह जाती थी। वह एक बहुत ही अनुभवी एक्टर है। बतौर निर्देशक भी वह आयोजित है और कॉल शीट से लेकर सब कुछ बहुत व्यवस्थित रहता  है। शॉट के समय भी यदि वह निर्देशन दे रहे होते है तो एक कैमरा सम्भाल  ही लेते। फिल्म की  शूटिंग लगभग 6 कैमरो  के साथ हुई है। बस यही  कहूँगी बतौर निर्देशक वह, “वेल प्लांड डायरेक्टर है।”

आपको कैमरे के सामने भय नहीं लगा?

जी नहीं, वैसे भी मैंने तेलुगु और तमिल फिल्म में भी डेब्यू कर  लिया है। और बचपन से अभिनय का शौक रहा है सो मैं बड़ी सरलता से कैमरे  के सामने काम कर लेती हूँ। कैमरा  फियर (भय) तो बिलकुल भी नहीं है मुझ में। नो साल की थी तभी से नृत्य  की शिक्षा भी ली है। और अक्सर शीशे के सामने खड़े हो कर एक्टिंग किया करती थी।

अजय ने कभी आपको सेट पर चिल्लाया  होगा?

हंस कर बोली -बिलकुल भी नहीं। वह बहुत ही शांत प्रवर्ती के  है। और बहुत ही ज़मीन  से जुड़े किस्म का व्यतित्व रखते है। यदि कुछ गड़बड़ भी हो जाती तो बड़ी सरलता से उसे लेते, उसे सही करते और फिर आगे बढ़  जाते।shiva

क्या आप भी अपनी माता शाहीन की तरह जल्दी  शादी के बंधन में बन्धना  पसन्द करोगी? कोई है आपके जीवन में?

 जी नहीं मेरे जीवन में  फ़िलहाल कोई भी नहीं है। और मैं अभी बहुत छोटी हूँ। मैं अपनी माता जी की तरह जल्दी शादी के बंधन में कदापि नहीं बन्धना  चाहूंगी। सीधी  सी बात है मेरे कुछ इरादे है। पेशेवर होने हेतु अपना काम जी जान से करना चाहती हूँ। और कुछ मुकाम हासिल करना चाहती हूँ। मेरी ख्वाहिश है कि सब मुझे मेरे काम से जाने।

 शाहीन (आपकी माँ)  ने जल्दी शादी की इस बारे में उनसे कभी कोई बातचीत हुई आपकी?

जी हाँ! माँ ने हमेशा से मुझे यही  कहा जल्दी शादी करके घर बसाने  में उन्हें कोई एतराज नहीं रहा। अपने परिवार की देख -रेख में और मुझे बड़ा करने में उन्हें अच्छा ही लगा। वह अपने जीवन में बहुत खुश रही।

आपके पिता सुमित सहगल से  कोई सलाह लेती है क्या आप ? और उनसे मिलती जुलती है आप?

जी हाँ ,मै अपने पिताजी से लगभग रोज़ाना  ही मिलती हूँ। मेरे पैरेंट्स ने मुझे यही सलाह दी है – अपना काम जी जान से करों। मन लगा  कर मेहनत  करो और बाकी सब ईश्वर पर छोड़ दो। जीवन में सही चलो, हार्ड वर्क करो बस यही सब आपको आगे ले कर जायेगे।sayesha-saigal-new-glam-stills-1

 फिल्म, ऐ दिल है  मुश्किल” और, शिवाय” दोनों फ़िल्में साथ रिलीज़ हो रही है। आपको डर लगता है कि  ऐश्वर्या एवम अन्य कलाकारों से भी आपकी तुलना हो सकती है ?

देखिये, मुझे ट्रेड के बारे में कुछ ज्यादा जानकारी नहीं है। और अभी मैं बहुत छोटी हूँ सो मेरी तुलना  ऐश्वर्या जी और अन्य कलाकारों से नहीं की जा सकती है। ऐश्वर्या जी और अन्य कलाकार एक बड़े आइकॉन है। दोनों फिल्में अलग है। और दोनों फिल्मे अच्छा कारोबार करें यहीं चाहती हूँ। मुझे किसी तरह का भय नहीं है। न ही मैं असुरक्षित महसूस करती हूँ। किन्तु हां एक  चाह है – मुझे लोग पसन्द करे और बस मुझे काम करने का मौका मिले ताकि मैं अपने  मन की इच्छा पूरी कर सकूँ – यही  इच्छा है मेरी कि मैं  तीनो इंडस्ट्री में और फिल्में कर पाऊँ।  यह मंशा है मेरी। मुझे अभी फिल्म इंडस्ट्री में एक लंबा सफर तय करना है और दुआ करती हूँ कि  मुझे लोग मेरी पहली फिल्म “शिवाय” में पसन्द करें।


Mayapuri

0 Comments

Leave a Reply