एसबीआइ पिंकथॉन का वीमेन्स हॉर्लिक्स-एम्पावरिंग इंडियन वीमेन के सहयोग से मुम्बई में लगातार चौथा आयोजन

1 min


भारत की महिलाओं की सबसे बड़ी दौड़, वीमेन्स हॉर्लिक्स-एम्पावरिंग इंडियन वीमेन द्वारा समर्थित एसबीआइ पिंकथॉन का आयोजन मुम्बई में लगातार चौथी बार रविवार, 14 दिसम्बर 2015 को होने जा रहा है। 3 किलोमीटर, 5 किलोमीटर और 10 किलोमीटर वलिनी बहुवर्गीय दौड़ के लिए ऑनलाइन पंजीकरण www.pinkathon.in पर जारी है। 21 किलोमीटर दौड़ के लिए info@pinkathon.in पर ईमेल भेजें।

आज बंग्लो 9 रेस्त्राँ में आयोजित एक प्रेस सम्मेलन में मशहूर मॉडल, अभिनेता, फिटनेस समर्थक, जोशीले नंगे पाँव के धावक और पिंकथॉन के संस्थापक मिलिन्द सोमन के साथ युनाइटेड सिस्टर्स फाउंडेशन एवं मैक्सिमस इवेंट्स ने मुम्बई में इस दौड़ के चौथे संस्करण के आयोजन की विधिवत घोषणा की। सम्मेलन में अभिनेत्री एवं फिटनेस आइकन बिपाशा बसु, रेड एफएम की रेडियो जॉकी मलिश्का, वीमेन्स कैंसर इनिशिएटिव-टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल की वाइस प्रेसीडेंट देविका भोजवानी, भारत की पहली ब्रेल लाइफस्टाइल पत्रिका व्हाइट प्रिंट की संस्थापिका उपासना मकाती उपस्थित थीं जिन्होंने इस नेक कार्य में हार्दिक समर्थन व्यक्त किया।
मुम्बई में वीमेन्स हॉर्लिक्स द्वारा समर्थित एसबीआइ पिंकथॉन के चौथे संस्कार के आरंभ पर खुशी जाहिर करते हुए, संस्थापक मिलिन्द सोमन ने कहा कि मुम्बई में एक बार फिर पिंकथॉन का आयोजन करके हमें बेहद खुशी हो रही है। हमें पूरा भरोसा है कि इस दौड़ को सफल बनाने में हमें इस शहर और यहाँ के लोगों का भरपूर सहयोग मिलेगा। पिंकथॉन मैराथन से भी बढ़कर है। इसमें बदलाव का बीज छिपा है। यह एक आन्दोलन की शुरुआत है जिसे ऐसी सशक्त महिलाओं के विकासमान समुदाय द्वारा आगे बढ़ाया जा रहा है जो इस बात में विश्वास करती हैं कि एक स्वस्थ परिवार, स्वस्थ राष्ट्र और स्वस्थ विश्व की शुरुआत सशक्त महिलाओं के साथ ही संभव है। अपने स्वास्थ्य का नियंत्रण स्वयं लेना, स्वयं का सम्मान करना, आपकी बदौलत आपके परिवार और समाज में जो आदर्श पैदा होते हैं उनकी समझ और सम्मान करना ही सशक्तीकरण की दिशा में पहला कदम है। सशक्तीकरण समाज का कोई उपहार नहीं, बल्कि यह आपके द्वारा स्वयं को दिया गया एक उपहार है।
प्रसिद्ध अभिनेत्री और फिटनेस आइकन विपाशा बसु ने कहा कि लगातार चौथे वर्ष में पिंकथॉन से जुड़ना मेरे लिए खुशी की बात है। मेरे ख्याल में पिंकथॉन एक महत्वपूर्ण प्लेटफॉर्म है जिससे महिलाओ को बंद घरों से बाहर निकलने और कैंसर के खिलाफ अपनी लड़ाई के बारे में बताने की प्रेरणा मिलती है। इससे उन्हें दुनिया को यह दिखाने का मौका मिलता है कि तमाम मुश्किलों के खिलाफ खड़ा होने और सचमुच उनपर विजय पाने के मामले में वे कितनी सख्त हैं। इस नेक प्रयास में मैं मिलिन्द की सफलता की कामना करती हूँ और मुम्बई की महिलाओं से अपील करती हूँ कि भारी संख्या में इस दौड़ में भाग लें।“

Bipasha Basu at  Mumbai SBI Pinkathon Press Announcement event
वीमेन्स हॉर्लिक्स द्वारा समर्थित एसबीआइ पिंकथॉन में दृष्टि विकार से पीडि़त लड़कियाँ अलग-अलग श्रेणी में सहभागिता करेंगी। मुख्य दौड़ के दिन की तैयारी के लिए उन्हें सामान्य धावकों के सहयोग और समन्व से विशेष प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है। मुख्य दौड़ के लिए जिन पंजीकृत लोगों ने प्रशिक्षण की इच्छा जताई है उनके लिए वीमेन्स हॉर्लिक्स द्वारा समर्थित एसबीआइ पिंकथॉन की ओर से मुम्बई के विभिन्न हिस्सों में विशेष प्रशिक्षण दौड़ का आयोजन किया जा रहा है। 13 दिसम्बर के दिन पिंकथॉन मुम्बई 2015 में अन्य रूप से सक्षम लोगों की भी सहभागिता होगी।
पिंकथॉन के हरी-भरी मुम्बई अभियान की याद में बजाज इलेक्ट्रिकल्स द्वारा 1000 पेड़ लगाए जाएंगे। पिंकथॉन के इस अनूठी पहल में हमारे मेडिकल पार्टनर पिंकथॉन मुम्बई 2015 के एक-एक सहभागी के लिए मेडिकल टैग मुहैया करेंगे। इस मेडिकल टैग से 45 साल से अधिक उम्र वाली सभी सहभागियों का निःशुल्क मैमोग्राम किया जाएगा और 45 साल से कम उम्र वाली धाविकाओं की निःशुल्क जाँच/अस्थि घनत्व परीक्षण किया जाएगा।
भारत में महिलाओं के एकमात्र और सबसे बड़े दौड़ आयोजन का जोर महिलाओं में स्तन कैंसर एवं अस्थियों की तंदुरुस्ती के प्रति बेहद जरूरी जागरूकता पैदा करते हुए एक सक्रिय जीवनशैली और सम्यक तंदुरुस्ती को प्रोत्साहित करने के साथ-साथ पहली बार दौड़ने वाली हजारों महिलाओं को दौड़ में शामिल होने के लिए उत्साहित करने पर है।

SHARE

Mayapuri