जी क्लासिक पर देखें ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी के साथ ‘माय लाइफ माय स्टोरी’ का अंतिम एपिसोड

1 min


प्रस्तुत करता है

ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी के साथ ‘माय लाइफ माय स्टोरी’ का अंतिम एपिसोड, 6 मई को दोपहर 1 बजे

सदाबहार सुंदरी हेमा मालिनी ने इस वीकली चैट शो के अंतिम एपिसोड

में बताया अपने स्टारडम का सफर

किसी शायर की गजल, ड्रीम गर्ल

किसी झील का कमल, ड्रीम गर्ल

कहीं तो मिलेगी, कभी तो मिलेगी

आज नहीं तो कल, ड्रीम गर्ल

साल 1977 में फिल्म ‘ड्रीम गर्ल’ की रिलीज से काफी पहले, उनके मेंटर डी. अनंतस्वामी ने उन्हें 1968 में ही ये नाम दे दिया था। उनकी पहली हिन्दी फिल्म ‘सपनों का सौदागर’ की रिलीज से पहले बॉम्बे (अब मुंबई) शहर में होर्डिंग्स लगाई गई थीं जिस पर लिखा था – ‘शहर में उतरी ड्रीम गर्ल’। जहां वे इस बात से नाखुश थीं कि इसमें उनके असली नाम का इस्तेमाल कहीं नहीं किया गया, वहीं सारे देश को एक नया चेहरा मिल गया था जिससे वे प्यार कर बैठे। एक जबर्दस्त डांसर और एक बेमिसाल एक्टर हेमा मालिनी की पहचान उनकी शालीनता और सुंदरता से है। ‘वो जमाना करे दीवाना’ की अपनी ब्रांड विचारधारा के साथ अब ज़ी क्लासिक इस शनिवार 6 मई को ‘माय लाइफ माय स्टोरी’ के अपने अंतिम एपिसोड में हेमा मालिनी के साथ कुछ यादगार पल गुजारेगा।

मेरा नाम जॉनी, सत्ते पे सत्ता, सीता और गीता और शोले से लेकर खुशबू , प्रतिज्ञा, बागबान और वीर-जारा जैसी फिल्मों तक, हेमा मालिनी ने अपने हर किरदार में जान डाल दी है। इस एक्ट्रेस ने बताया कि उनके जन्म से पहले ही उनकी मां ने उनके नाम और एक डांसर के रूप में उनके करियर के बारे में फैसला कर लिया था। भरतनाट्यम जैसे शास्त्रीय नृत्य में प्रशिक्षित हेमा मालिनी ने बहुत छोटी उम्र में ही सफलता का स्वाद चख लिया था। जब तक वे 12 साल की हुई तब तक वे जवाहरलाल नेहलू और डॉ राजेन्द्र प्रसाद जैसी शीर्ष हस्तियों के सामने प्रस्तुति दे चुकी थीं और उनके अनेक फैन्स बन चुके थे।

बॉलीवुड में उन्हें राज कपूर की खोज माना जाता है जिन्होंने भविष्यवाणी की थी कि हेमा एक दिन बहुत बड़ी स्टार बनेंगी। इसके बाद उन्होंने देव आनंद, राजेश खन्ना, अमिताभ बच्चन और अपने पति धर्मेन्द्र के साथ अनेक फिल्मों में काम किया। वे हाल ही में रिलीज फिल्म ‘एक थी रानी ऐसी भी’ में भी नजर आई थीं। हेमा मालिनी बताती हैं, ‘‘हॉलीवुड में आज भी मेरिल स्ट्रीप जैसी एक्टर के लिए रोल लिखे जाते हैं। मुझे लगता है कि हमें भी उसी दिशा में आगे बढ़ना चाहिए।’’

यह एपिसोड ‘माय लाइफ माय स्टोरी’ के इस सीजन का अंतिम एपिसोड होगा। यह ऐसा वीकली चौट शो है जिसने दर्शकों को हिन्दी सिनेमा के दिग्गज कलाकारों से रूबरू होने का सुनहरा मौका दिया। इस शो के पिछले एपिसोड्स में मशहूर लेखक सलीम खान, बप्पी लाहिरी, सुभाष घई, जीनत अमान, कुमार सानू, पद्मिनी कोल्हापुरे, गुलशन ग्रोवर, रवीना टंडन, हेलन, अल्का याग्निक, रंजीत और मौसमी चटर्जी जैसे मशहूर कलाकार ने आकर अपने जिंदगी और करियर के बारे में कुछ दिलचस्प बातें बताईं थीं।

खूबसूरत हेमा मालिनी के साथ देखिए ‘माय लाइफ माय स्टोरी’ के इस सीजन का अंतिम एपिसोड, शनिवार 6 मई को शाम 7 बजे सिर्फ ज़ी क्लासिक पर!


Mayapuri