शाहिद कपूर के सौतेले पिता 52 साल की उम्र में बने पापा, सामने आई पहली फोटो

0

बॉलीवुड एक्टर ईशान खट्टर के पिता राजेश खट्टर एक बार फिर से पिता बन गए हैं। हाल ही में उनके घर एक बेटे का जन्म हुआ है। बता दें कि राजेश खट्टर ने 11 साल पहले वंदना सजनानी से शादी की थी लेकिन इतने साल तक वो माता-पिता नहीं बन सके थे। अब शादी के 11 साल बाद उनके घर बेटे का जन्म हुआ है। उन्होंने अपने बेटे का नाम वनराज कृष्ण रखा है।

- Advertisement -

राजेश खट्टर और वंदना सजनानी के बेटे का जन्म 3 महीने पहले हुआ था लेकिन उन्होंने इस खबर को सामने नहीं आने दिया क्योंकि उनका बेटा लंबे समय तक अस्पताल में था। हाल ही में उन्होंने अपने बेटे के साथ पहली जन्माष्टमी सेलिब्रेट की जिसे लेकर वो बहुत खुश हैं।

View this post on Instagram

Happy Anniversary love 💕 @vandanasajnaniofficial

A post shared by Rajesh Khattar (@rajesh_khattar) on

उन्होंने अपने बेटे के जन्म पर खुशी जाहिर करते हुए कहा, ‘यह बहुत अच्छी फीलिंग है, लेकिन यह सफर हमारे लिए आसान नहीं रहा। कई महीने पहले उस समय हम बहुत खुश थे जब डॉक्टर ने बताया कि वंदना के गर्भ में ट्विंस पल रहे हैं लेकिन तीसरे महीने में उसकी हालत खराब हो गई और उसे अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा।

कुछ महीने बाद पता चला कि दोनों में से एक बच्चे की ग्रोथ काफी कम और धीमी है जिसके बाद हमने उसे खो दिया। इसके बाद दूसरे बच्चे को बचाने के लिए हमें तुरंत डिलीवरी करवानी थी, जिसके बाद तीन महीने पहले हमारे बेटे का जन्म हुआ।’

राजेश खट्टर ने बताया कि सर्जरी के बाद उनकी पत्नी वंदना को ठीक होने में काफी समय लग गया। इसके साथ ही उनके बेटे को भी NICU (न्यूबॉर्न इंटेंसिव केयर यूनिट) में 2.5 महीने तक रखा गया। हमारा बेटा और वंदना दोनों साथ में स्ट्रगल करते रहे और फिर जन्माष्टमी के मौके पर हमारा कृष्णा घर आ गया। यह हमें भगवान का सबसे खूबसूरत तोहफा है।

बता दें कि वंदना से पहले राजेश ने एक्ट्रेस नीलिमा अजीम से शादी की थी और दोनों का एक बेटा ईशान खट्टर है। वहीं एक्टर शाहिद कपूर राजेश के सौतेले बेटे हैं। राजेश ने कहा कि 50 की उम्र के बाद पिता बनना अपने आप में एक चैलेंज था लेकिन इस उम्र में पिता बनने वाला मैं ना पहला शख्स हूं ना ही आखिरी।

राजेश ने बताया कि पैरेंट्स बनना उनके लिए मुश्किल रहा है। उन्होंने बताया कि 11 साल में वंदना के तीन बार मिसकैरिज हुए, तीन फेल आईयूआई (Intrauterine Insemination), तीन फेल आईवीएफ और तीन फेल सरोगेसी के बाद उन्हें संतान मिली है। उन्होंने कहा कि मैं अपनी खुशी जाहिर नहीं कर सकता। मैं कपल्स को प्रोत्साहित करने के लिए अपनी कहानी बताना चाहता हूं कि वो हमेशा उम्मीद बनाए रखें।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

Advertisement

Advertisement

- Advertisement -

Leave a Reply