शशि मित्तल ने ‘ये उन दिनों की बात है’ में अहमदाबाद को नमन किया

1 min


90 के दशक में सेट की गई सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन का नया शो ‘ये उन दिनों की बात है’ सभी ओर दर्शकों का दिल जीत रहा है। यह शो पहले प्यार के जादू और संवेदनशीलता व हास्य से जुड़ी हुई भरमाने वाली भावनाओं से संबंधित एक दिल को छूने वाली प्रेम कहानी दिखाएगा। ‘ये ​उन दिनों की बात है’ की क्रि​एटिव टीम ने उस समय के अहमदाबाद को फिर से बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। टीम ने ढेर सारी रिसर्च की है और शशि मित्तल ने भी खास बातें बताई हैं, जो अहमदाबाद में ही पैदा हुई थी और साथ ही इस सीरीज की लेखिका व निर्माता हैं।

संपर्क किए जाने पर शशि मित्तल इसकी पुष्टि करते हुए कहती हैं, “हां, सुमीत और मैंने यह सुनिश्चित करने के लिए क्रिएटिव टीम के साथ सक्रिय रूप से काम किया है कि हम सीरीज में अहमदाबाद के लुक व फील को फिर से पैदा कर सकते हैं। वे सड़के व स्थानीय चीजें जहां मैंने अपना ​बचपन बिताया था, वे 2001 में इस शहर को तबाह करने वाले भूकंप में बर्बाद हो गई थी। सेट्स पर सिटीस्केप को फिर से बनाकर, मैंने अपने सपनों के शहर को नमन किया है। मैं अहमदाबाद से भावनात्मक तौर पर काफी जुड़ी हुई हूं और हम उस समय की विरासत को मैंटेन करने के लिए पूरी कोशिश की है जैसे कि दुकानों के नाम, स्थानीय लोगों के ड्रेसिंग सेंस, प्रसिद्ध नाश्ता व ब्रांड्स का प्रयोग इस सीरीज में किया गया है।”

निर्माता शशि व सुमीत की असल जिंदगी की कहानी से प्रेरित ‘ये उन दिनों की बात है’ एक साहसी, सरस व निडर लड़की नैना (आशी सिंह द्वारा अभिनीत) व एक बड़े दिलवाले, उज्जवल व जिद्दी लड़के समीर (रणदीप राय द्वारा अभिनीत) की युवा प्रेमी कहानी है। एक ऐसा समय जो स्मार्ट फोन्स से अनछुआ है, वहां यह किशोरवय प्यार की खोज है, जिसमें इसकी मासूमियत, अनाड़ीपन व चिंताएं हैं।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये