मुझे काॅमेडी करना बेहद पसंद है – श्रुति शर्मा

1 min


श्रुति शर्मा

श्रुति शर्मा ने रियलिटी और काल्पनिक शोज में बतौर काम कर अपना एक मुकाम बना लिया है। नेक्स्ट सुपर स्टार्स, गठबंधन और हाल ही में किया एक बेहतरीन शो, ‘जादू जिन्न का’ से वह फिल्मी पर्दे और छोटे पर्दे पर काफी पहचान बना चुकी है। उनकी आने वाली फिल्म, ‘पगलेट’ एकता कपूर और शुबहा कपूर के बालाजी मोशंस पिक्टर्स द्वारा बहुत जल्द रिलीज होने वाली है। फिलहाल वो टेलीविजन शो नमक इस्सक का में बेतहाशा शूटिंग करते हुए बिजी है। –लिपिका वर्मा

 आपके कैरियर की यात्रा के बारे में कुछ बताइए?

श्रुति मैंने, ‘इंडीयाज नेक्स्ट सुपरस्टार’ में काम किया है। तब से मुड़कर नहीं देखा। मैंने गठबंधन, एजेंट साईं श्रीनिवास अथरेया और फिर ये जादू है जिन का और ‘नजर 2’ भी किया है । यात्रा अभी शुरू हुई है और अभी भी जारी है।

 ये जादू है जिन का अचानक क्यों बंद हुआ?

 यह पूर्व नियोजित था। यह हमेशा एक परिमित श्रृंखला माना जाता था, चैनल इसे समाप्त करने के लिए तैयार नहीं था लेकिन गुल मैम (गुल खान), को समाप्त करने के अपने निर्णय पर निर्धारित किया गया था। यह 100 एपिसोड की सीरिज थी।

 फिल्म के फ्रंट पर क्या हो रहा है, मेरा मानना है कि आप करण जौहर, रोहित शेट्टी के साथ भी काम करना चाहते हैं। क्या आपने उनसे संपर्क किया?

श्रुति मैं उनके साथ काम करना चाहती हूं, लेकिन मेरी हिंदी फिल्म पगलेट रिलीज होने वाली है, इसलिए मैं उस फिल्म के लिए बहुत उत्साहित हूं, लेकिन यह आने वाले 2-3 महीनों में रिलीज होगी। महामारी के कारण इसका पोस्ट प्रोडक्शन पूर्ण नहीं हो पाया। फिल्म में सान्या मल्होत्रा और आशुतोष राणा भी हैं, वे शानदार अभिनेता हैं और मुख्य रूप से कहानी ही हीरो है इस फिल्म में मैं नाजिया का किरदार निभा रही हूं जो सान्या मल्होत्रा की सबसे अच्छी दोस्त है। और यह एक परिवार उन्मुख कहानी है और लोग इससे रेलेट कर पाएंगे।

 आपको किस तरह की भूमिकाएँ पसंद हैं?

कॉमेडी मेरे पसंदिदा जॉनर में से एक है। मुझे कॉमेडी करना बेहद पसंद भी है।

 अब आप एकता कपूर की शरण में हैं क्योंकि अब आप उनकी फिल्म ‘पगलेट’ से उनके साथ जुडी है, उनके बारे में क्या कहना चाहेंगी आप?

श्रुति शर्मा एकता मैम, बाद में फिल्म में बतौर प्रोड्यूसर जुडी है। क्योंकि पहले निर्माता अलग थे। हालांकि मैं एकता मैम से कभी नहीं मिली लेकिन वह सभी के लिए एक प्रेरणा हैं।

 आपको यह फिल्म कैसे मिली?

मैं ऑडिशन के लिए गयी थी, मुझे कास्टिंग वालो से फोन कॉल आया और मैं आगे बढ़ गयी और ऑडिशन दिया और इस तरह मुझे शो में ले लिया, कहानी लखनऊ पर आधारित है।

 कहीं न कहीं एक खबर थी जहाँ आपने कहा था कि आपके साथ भेदभाव हुआ क्योंकि आप लखनऊ से ताल्लुक रखती हैं, क्या यह सच है?

श्रुति यह एक झूठी खबर थी। किसी ने कभी भी मेरे साथ कोई भेदभाव नहीं किया। मुझे लगता है कि कभी-कभी पत्रकार मेरे बारे में लिखते समय काफी भावुक हो जाते हैं। मुझे नहीं पता कि यह खबर कहाँ से आई है।

 ग्लिट्ज और ग्लैमर के क्षेत्र में शामिल होने की शुरुआत कैसे हुई?

मुझे अभिनय करना पसंद है। मैं अपने बैंकिंग के काम में व्यस्त थी लेकिन यह अभिनय करना मेरी किस्मत में था। वैसे मुझे टेलीविजन और फिल्मों में काम करने का चाव भी था फिर मैंने सोचा कि मुझे कम से कम अपने जुनून के लिए प्रयास करना चाहिए और ऐसा ही हुआ।

 आपके माता-पिता के क्या विचार था और आपको उन्होंने कितना सपोर्ट किया है?

मेरी माँ गृहिणी हैं। और मेरे पिता सर्विस क्षेत्र में हैं। उनके सपोर्ट के बिना मैं आज इस मुकाम पर नहीं पहुँच पाती। जाहिर सी बात है उनके साथ की वजह से आज मैं यहाँ पर सफलतापूर्वक काम कर रही  हूँ


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये