रामानंद सागर की रामायण के सुग्रीव नहीं रहे

1 min


रामायण के सुग्रीव

इस दुनिया को अलविदा कह गए रामानंद सागर की रामायण के सुग्रीव

1987 में दूरदर्शन में सबसे ज्यादा लोकप्रियता पाने वाले सुप्रसिद्ध धारावाहिक यानी रामांनद सागर की रामायण के सुग्रीव इस दुनिया में नहीं रहे। रामायण के सुग्रीव यानी ‌शयाम सुंदर जी का निधनं सोमवार यानी 6 अप्रैल को पंचकूला के नजदीक कालका में हो गया। उनके घरवालों के मुताबिक, वो लंबे समय से कैंसर से लड़ रहे थे।

लंबे समय से थे बीमार

आज हर घर में टीवी पर दोबारा से रामायण देखा जा रहा है। लोग पहले की तरह अब भी रामायण शुरु होने के समय अपना सब काम पूरा कर टीवी खोलकर बैठ जाते हैं। आज हर कोई दोबारा से रामायण देख रहा है और वो भी जिसने पहले रामानंद सागर की रामायण को नहीं देखा होगा। लेकिन ऐसे में रामायण के सुग्रीव यानी श्याम सुंदर जी के निधन की खबर सभी के लिए दुखदायी है।

महाभारत सीरियल में बने भीम

आपको बता दें कि रामानंद सागर की रामायण से श्याम लाल जी को खास लोकप्रियता मिली। इसके बाद रामायण के सुग्रीव यानी श्याम सुंदर ने महाभारत सीरियल में भी भीम का किरदार निभाया था। इसके अलावा जय हनुमान सीरियल में उन्होंने हनुमान का किरदार निभाया।

कई फिल्मों में भी किया काम

इसके अलावा रामायण के सुग्रीव यानी श्याम सुंदर जी ने हीर-रांझा, छैला बाबू, त्रिमूर्ति जैसी कई फिल्मों में भी काम किया। उनके निधन पर कालका के बॉलीवुड एक्टर रोहताश गोड़, कालका निवासी बॉलीवुड एक्टर संदीप नाहर और शिवालिक विकास मंच के अध्यक्ष विजय बंसल ने शोक प्रकट किया।

रामायण के दोबारा शुरु होेने से बहुत खुश थे

रोहताश गोड़ ने बताया कि वो जब कालका कॉलेज में पढ़ते थे उस समय टीवी पर रामायण देखते थे। सच में ऐसे ही कलाकारों की मेहनत से रामायण दूरदर्शन का उस समय सबसे सुप्रसिद्ध धारावाहिक बन सका। ऐसा बताया जा रहा है कि वो रामायण को दोबारा से टीवी पर देखने के लिए बहुत खुश थे।

ये भी पढ़ेंरामानंद सागर की रामायण में दारा सिंह को कैसे मिला था हनुमान का रोल ?


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये