INTERVIEW: ‘‘मैं तो बचपन से उन्हें एक्शन फिल्मों में देखता आ रहा हूं’’ – सिद्धार्थ मल्होत्रा

1 min


पिछले आठ दस सालों के दौरान अगर देखा जाये तो गैर फिल्मी परिवार से आये लोगों में कंगना रनौत, अनुष्का शर्मा के बाद सिद्धार्थ मल्होत्रा ऐसा वाहिद स्टार है जिसने बहुत कम समय में अपनी कड़ी मेहनत से बॉलीवुड में एक पुख्ता जगह बना ली है। करण जौहर द्धारा लॉन्च होने के बाद सिद्धार्थ रोमांटिक, कॉमेडी इमोशनल हर तरह की फिल्में कर चुका है। अब वो ‘ जेन्टलमैन  जैसी कॉमेडी और फुल फ्लैश एक्शन पैक्ड फिल्म में एक्शन के कारनामें करता दिखाई देने वाला है। फिल्म को लेकर क्या कहना है सिद्धार्थ का।

इससे पहले चिंरजीवी की भी इसी टाइटल की एक एक्शन फिल्म आ चुकी है?

मैने देखा तो नहीं लेकिन उस फिल्म के बारे में सुना है कि वह भी काफी अच्छी फिल्म थी। दूसरे चिरंजीवी साउथ के सुपर स्टार रहे हैं उन्हें डांस और एक्शन में तो वैसे ही महारत हासिल है। जंहा तक मेरी बात है तो इससे पहले मैं ब्रदर्स और एक विलन जैसी फिल्में कर चुका हूं जिनमें एक्शन था। इस फिल्म के लिये आप कह सकते हैं कि ये मेरी पहली ऐसी एन्टरटेनर फिल्म है जिसमें सब कुछ है यानि रोमांस है,कॉमेडी है,एक्शन है तथा बेहतरीन लोकेशन हैं। इसमें आप कोई मैसेज वगैरह न ढूंढते हुये बस दो घंटे लगातार एंजॉय कर सकते हैं।

आपको लगता है कि इस प्रकार की फिल्मों में भी मेहनत करनी पड़ती है?

अरे सर। ऐसी फिल्मों में तो और ज्यादा मेहनत लगती है। आप देखिये इसमें डांस है, आप फिल्म का चंद्रलेखा गाना देखिये, मैने उसमें जो डांस किया है उसके लिये मुझे बहुत मेहनत करनी पड़ी। यही नहीं मुझे इस प्रकार के हर गाने के लिये अलग से मेहनत करनी पड़ती है जिसकी शुरूआत हुई थी ‘काला चश्मा’ से। यहां मौका मिला तो यहां भी मैं पीछे नहीं हटा। हमारे कोरियोग्राफर सिरिल रफायल जो फ्रांस के हैं,वे हॉलीवुड की ढेर सारी फिल्में कर चुके हैं। उन्होंने मुझे दो तीन महीने तक डांस की ट्रेनिंग दी थी।

फिल्म के एक्शन की काफी तारीफ हो रही है?

मैं कहना चाहूंगा कि ये थोड़ा अलग सा एक्शन है। हैंड टू हैंड एक्शन है जिसकी पहले बाकायदा ट्रेनिंग हुई। सबसे बड़ी बात कि यहां आपको रीयल एक्शन मिलेगा, ऐसा नहीं कि हीरो के एक पंच से पांच लोग हवा में उड़ रहे हों। एक्शन में आपको हल्की सी कॉमेडी भी मिलेगी इसके अलावा काफी सारे स्टंट जो बिलिवेबल हैं चाहे वे मोटरबाइक के स्टंट हो या बिल्डिंग से नीचे कूदने के। हम लोग मियामी में थे और जिस बिल्डिंग पर स्टंट कर रहे थे वो पचास साठ मंजिल की थी मैं उससे नीचे कूदने का स्टंट कर रहा था। वैसे भी मुझे ऊंचाई से डर नहीं लगता, लेकिन मेरे डायरेक्टर जो चॉपर से शॉट ले रहे थे वे उस स्टंट को देख बीमार हो गये थे।

कहानी के बारे में क्या कहना है?

कहानी गौरव नामक एक ऐसे युवक की है जो इंडिया से मियामी में शिफ्ट हो गया है। उसका सपना है कि उसका एक घर हो, बीवी बच्चे हों, उसने घर ले लिया है, गाड़ी भी है, अच्छी नौकरी है,बस बीवी की जरूरत है। गौरव बहुत ही ओल्ड फैशन क्लासिक टाइप किरदार है जो चाहता है कि वो लड़की से बात करने से पहले अपने घरवालों से बात करें। वो लड़की को डिनर पर ले जाकर उससे, उसके और उसके परिवार वालों के बारें में बात करें वगैरह इसीलिये उसे जैन्टलमैन का टाइटल दिया गया। रिस्की पोर्शन किरदार है ऋषि, जो मुबंई बेस्ड है। वो काफी एग्रेसिव तथा हर वक्त लड़ने मरने के लिये तैयार रहता है। बाद में किस तरह गौरव और ऋषि के बीच कैसे कंफयूजन होता है, और उससे क्या सिचुवेशन निकलती है। ये दोनों पात्र कॉमेडी पैदा करते हैं।

जैकलिन किसके अपोजिट है?

जैकलिन गौरव के अपोजिट है वे दोनों एक ही ऑफिस में काम करते हैं। वो गौरव की स्वीटहार्ट जैसी है वो उसे बहुत पंसद करता है। फिलहाल वे अच्छे दोस्त हैं, जिसे गौरव प्यार में बदलने की कोशिश में लगा हुआ है।

इस बार नगेटिव किरदार में आपके सामने सुनील शेट्टी हैं। उनके साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?

अरे क्या बात है। क्या प्रजेंस है उनकी। मैं तो बचपन से उन्हें एक्शन फिल्मों में देखता आया हूं। उनकी अभी भी फिटनेस और प्रजेंस को देखकर मैं बहुत प्रभावित हूं। उनके साथ सेट पर शूटिंग के अलावा मौका मिला उनसे ढेर सारी बातें करने का, अलग अलग कहानियां सुनने का, सबसे बड़ा काम हुआ जब मैने उनसे फिटनेस का मंत्र सीखा। अगर काम की बात करें तो उनके साथ सीन करने में हमेशा मजा आया। वैसे भी उन जैसे सीनियर एक्टर से बहुत कुछ सीखा जा सकता है। निजी तौर पर वे बहुत सिंपल और डाउन टू अर्थ इंसान हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये