सिकंदर खेर ने कास्टिंग डायरेक्टर सहर लतीफ को ट्रिब्यूट देते हुए कहा, “अगर वो ना होती तो मैं उस राह में कभी ना उतरता”

1 min


सुलेना मजुमदार अरोरा –

सिकंदर खेर अपने द्वारा निभाई गई भूमिकाओं के प्रति सहज रूप से ईमानदार रहे हैं। चाहे वह ’ज़ोया फैक्टर’ में जोरावर सिंह सोलंकी का चित्रण हो या ’रोमियो अकबर वाल्टर’ में श्रद्धांजलि खान का, वह अपने साथियों के बीच अपनी छाप छोड़ते हैं। हॉलीवुड की ओर , जीवन की अपनी नयी यात्रा पर सिकंदर मिक्स भावनाओं को साथ लेकर निकल पड़े हैं।

’मंकी मैन’ एक आगामी अमेरिकी एक्शन थ्रिलर है, जो प्रसिद्ध देव पटेल द्वारा निर्देशित है, इस फ़िल्म में सिकन्दर अभिनय करते हुए दिखेंगे। ’मंकी मैन’ शायद सिकंदर के जीवन में सुख और दुख के दुर्लभ क्षणों का एक याद बनकर रहेगा। फिल्म के लिए ऑडिशन देते समय उन्हें इस बात का अंदाज़ा नहीं था कि वह कास्टिंग डायरेक्टर सहर लतीफ को मरणोपरांत इस भूमिका के लिए धन्यवाद देंगे। सहर का इस साल जून में अचानक हार्ट अटैक से निधन हो गया।

इस बारे में बात करते हुए कि उन्हें हॉलीवुड फिल्म की यह भूमिका कैसे मिली, सिकंदर कहते हैं, “एक कास्टिंग डायरेक्टर वह होता है जिससे एक्टर को हमेशा आशा बंधी रहती है। कोई ऐसा व्यक्ति जिस पर वह अपना जीवन बनाने के लिए निर्भर रहता है। मेरे लिए सहर एक ऐसी ही महिला थी। मधु-भाषी, हमेशा मुस्कुराते हुए और बेहद पेशेवर, मुझे पता था कि किसी दिन सहर मुझे सही भूमिका देंगी, जिसके लिए वह तलाश कर रही थी। वह हमेशा मेरे लिए कुछ अच्छा ढूँढने की कोशिश में रहती थी। जब मैं उनसे ’मंकी मैन’ के ऑडिशन के लिए फेमस स्टूडियो में मिला, तो देव भी वहां मौजूद थे और उन्होंने ऑडिशन लिया और फिर हम तीनों खाना खाने चले गए। वह बहुत अद्भुत क्षण था और आज भी है। बस फर्क सिर्फ इतना है कि सहर अब उस रोमांचक राह को देखने के लिए जीवित नहीं है, जिस पर उन्होंने मुझे चलाया था। अगर वह न होती तो मैं इस रास्ते पर कभी नहीं उतरता। इस रोल के लिए मेरे बारे में किसी ने न तो जाना होगा और न ही सोचा होगा। इसका श्रेय मैं सहर को देता हूं। वह कहीं भी हो, मैं उनके लिए शांति और मेरा ढेर सारा प्यार की कामना करता हूं।”

SHARE

Mayapuri