‘सिया के राम’ मातृसत्ता की मौजूदगी के महत्व को रेखांकित करेगा: – दिलीप ताहिल

1 min


रामायण पर आधारित सीता के दृष्टिकोण से बने शो ‘सिया के राम’ में दशरथ की पौराणिक भूमिका निभाने वाले दिग्गज अभिनेता दिलीप ताहिल कहते हैं कि यह शो समाज में महिलाओें के महत्व को रेखांकित करेगा। दिलीप का मानना है कि आज भी महिलाओं को दोयम दर्जे का नागरिक माना जाता है और इसीलिये सीता के किरदार की गलत ढंग से व्याख्या की गई है।

‘‘सालों के अभ्यास से हमारी संस्कृति का स्वरूप ऐसा हो गया है कि लोग इसका फायदा उठा कर महिलाओं का उत्पीड़न करते हैं और उनका शोषण करते हैं। यह शो महिलाओं को लेकर वर्षों से बने गलत नजरिये को रेखांकित करने के साथ बतायेगा कि मातृसत्ता में मौजूदगी का बहुत महत्व है,’’ सिया के राम के लांच के दौरान ‘‘बुनियाद’’ के अभिनेता ने कहा।

स्टार प्लस के इस शो में सीता के पिता की भूमिका निभा रहे दिलीप का मानना है कि आज के लोगों के लिये यह जानना जरूरी है कि सीता का किरदार असली टेक्स्ट के अनुसार क्या था। उन्होंने कहा, ‘‘सिया के राम’’ सीता के दृष्टिकोण से कही गयी कहानी है। शो में सीता एक सशक्त महिला के रूप में होंगीं जिसकी अपनी विचारधारा है और जो सच्चे अर्थों में राम की अर्धांगिनी है। हम उसके किरदार को आज की महिलाओं के लिये प्रासंगिक बनाना चाहते हैं।’’


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये