सोनाक्षी ने, “प्रवेशक” के तौर पर अपना सफर शुरु किया

1 min


लिपिका वर्मा 

हाल ही में लैक्मे फैशन वीक के दौरान जब सोनाक्षी सिन्हा अनीता डोंगरे के लिए रैंप पर चली तो हमने  दोनों माँ बेटी सोनाक्षी और पूनम सिन्हा से सवाल तलब किये –

पेशकश – लिपिका वर्मा

आज आप वही हैं जहाँ से आपने अपना, “लाईम लाइट” का सफर शुरू किया था क्या कहना चाहेंगी ?

हंसकर बोली सोनाक्षी – जी हाँ, मैंने यहीं से अपना सफर लगभग 5/6 साल पहले शुरु किया था और तब मैं एस एन डी टी कॉलेज में स्टूडेंट की हैसियत से काम किया करती थी। जब भी मैं यहाँ पर आती तो  लोगों के कार्ड देखती और उनकी कुर्सी तक उन्हे पहुंचाने का काम किया करती थी। मैंने बैक स्टेज भी काम किया है। फिर कुछ वर्ष बाद मैं लैक्मे फैशन वीक के लिए रैंप पर चली थी पहली बारी।”

0

पूनम सिन्हा ने कुछ सोच कर कहा – जी हाँ यह सही बात है – मैं और सोनाक्षी के पिताजी उस वक़्त पहली सीट पर बैठे सोनाक्षी को चीयर कर रहे थे। हम सोनाक्षी का आत्मबल बढ़ाने की कोशिश में जुटे हुए थे। किन्तु जब सोनाक्षी रैंप पर चली तो उसके अंदर ढ़ेर सारा कॉन्फिडेंस नजर आया मुझे यह बहुत अच्छा लगा। वह पहली बारी देव और नील के लिए रैंप की शो – स्टॉपर बनी थी।

आज अनीता डोंगरे के लिए वापस चल रही हो किन्तु काफी फर्क है आज में और उस दिन में अब आप एक जानी मानी स्टार भी हैं, क्या कहना है ?

सोनाक्षी – जी हाँ लाइफ इज फुल ऑफ सर्किल यह आपने सही कहा है। किन्तु अभी भी मुझे बहुत कुछ करना है। आज मैं खुशी के साथ कहना चाहूँगी कि अनीता डोंगरे ने मुझे इस खूबसूरत लहंगे में चलाया है और मैं इन्हे बाहर खींच कर लायी हूँ ताकि यह भी कुछ लाइम लाइट ले सके। बहुत मेहनती है किन्तु हमेशा पीछे ही रहती हैं लेकिन उनके काम की सराहना तो होनी ही चाहिए न ? देखिये यह परल बलजेर कट कोट कितनी खूबसूरती से डिजाईन किया है अनीता ने।

सोनाक्षी की माताजी पूनम – हाँ यह बात तो सही है कि हमारी सोनाक्षी ने नाम और शोहरत पा ली है। हमें इस बात का गर्व है और सोनाक्षी ने लाइम लाइट में रहने के लिए कड़ी मेहनत भी की है अपनी मेहनत के बल बुते पर अच्छा काम कर रही है और क्या चाहिए होता है माँ – बाप को ?

Actress-Sonakshi-Sinha-and-Anita-Dongre-at-LFW-SR-2016

पूनम सिन्हा की सोनाक्षी को सलाह – गो किल इट!! बस हमेशा यही सलाह देती हूँ सोनाक्षी को जो कुछ भी करना है दिल से और दिमाग से बेहतरीन तरीके से करना है।

अंततः सोनाक्षी की मम्मी आ गयी ऐसा संबोधित करते है लोग। मुझे यह सुनकर सचमुच बेहद ख़ुशी होती है जब लोग कहते हैं, “देखो सोनाक्षी की माँ आ रही है !!


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये