सिकंदर से लोहा लेने वाले महान पोरस की कहानी

1 min


पोरस सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन की सबसे महत्वाकांक्षी सीरीज है जो दुनिया के महानतम आक्रमणकारी सिकंदर और भारत के महानतम रक्षक पोरस की अनकही कहानी बताती है।

यह कहानी क्रालक्रमबद्ध कथानक को प्रस्तुत करेगी और इन दोनों पौराणिक योद्धाओं के जन्म से लेकर उनके युद्ध तक के सफर के बारे में बताएगी। ये दोनों जिनका जन्म एक ही दिन हुआ था लेकिन दोनों को पूरी तरह से अलग परवरिश मिली थी।

350 ईसापूर्व में सेट की गई, यह कहानी उस समय की बातों व इतिहास के बारे में बताएगी जब भारत को उसकी अमीरी की वजह से ‘सोने की चिड़िया’ कहा जाता था और उस समय महान रक्षक पोरस ने भारत की मिट्टी में अब तक के महानतम हमलावर सिकंदर के पहले हमले का विरोध किया था।

आदर्श कथानक, विजुअल्स, प्रोडक्शन, कैरेक्टराइजेशन और परफॉर्मेंस में, यह शो प्राचीन भारत व ग्रीस के इतिहास से किरदारों को फिर से जिंदा कर देगा और अलग—अलग दुनियाएं दिखाएगा, जो भारतीय टेलीविजन पर पहले कभी भी नहीं देखी गई है।

भारतीय टीवी पर कुछ सबसे बड़े ऐतिहासिक व पौराणिक शोज़ के पीछे के समर्थक सिद्धार्थ कुमार तिवारी सबसे अच्छी वीएफएक्स तकनीक के सााि सबसे प्रीमियत सामग्री का निर्माण करके नए मापदंड स्थापित करेंगे।

भव्य सेट

350 ईसापूर्व के काल को फिर जीवंत करने के लिए, उंबेरगांव, गुजरात में 9 एकड़ की जमीन पर फैला एक बड़ा सेट। भारतीय टेलीविजन पर पहले कभी न देखे गए संकल्पित भव्य सेट से पौरव राष्ट्र, तक्षशिला राष्ट्र, दस्यु राज्य, फारस व मकदूनिया जैसी पांच असाधारण दुनियाओं का निर्माण किया गया है।

पौरव राज्य: पौरव राज्य के प्रवेश में पूरी तरह से वीएफएक्स के जादू से एक शानदार नंदी का विकास किया गया है जो आपको छोटे पर्दे पर मूवी थिएटर का अनुभव देता है। इस राज्य के बाहरी व्यू की कल्पना झेलम नदी के किनारे की गई है, पौरव राज्य जलमार्ग से व्यापार को दिखाएगा।

तक्षशिला राज्य: उत्कृष्ट निर्माण इस राज्य के अंदरूनी प्रांगण और संरचनाओं को दिखाता है। किए गए शोध व उस काल के यथार्थ डिजाइंस के आधार पर।

दस्यु दुनिया: पानी पर डाकुओं द्वारा बसाया गया नगर, जहां पोरस अपने पालक माता—पिता वभाई के साथ बड़ा होगा। थाईलैंड के असली लोकेशंस में बनाए व शूटिंग किए गए। सेट पर एक बड़ी जहाज बनाई गई और उसे 350 ईसापूर्व के काल की तरह दिखाने के लिए तैयार किया गया।

मकदूनिया: सिकंदर की राजधानी जिसे संरचनाओं की इसकी बेहद औपचारिक खूबियों से विशिष्ट बनाया गया है। यहां हर इमारत की कल्पना एक मूर्तिकला के तत्व की तरह की गई है। संतुलन व अनुरूपता पर आधारित संरचनात्मक सुंदरता। भारतीय टेलीविजन पर पहली बार पुन: जीवंत किए गए, प्राचीन ग्रीक सभ्यता के ये उत्कृष्ट विजुअल्स पार्थेनॉन जैसी संरचना को जीवंत कर देंगे। पहली बार ट्रेपेजियम व बहुउद्देशीय सेट के रूप में एक बदलने योग्य सेट। एक बंदरगाह का निर्माण; 3 बंदरगाहों में बदलने योग्य, भारतीय टेलीविजन में पहली बार।

एक महान कृति

थाईलैंड में कई लोकेशंस में शूटिंग की गई, जैसे खाओ सोक, पटाया व बैंकॉक।

दक्षिणी थाईलैंड के प्राकृतिक रिजर्व खाओ सोक में शॉट किया गया एकमात्र भारतीय प्रोजेक्ट। इस लोकेशन में शॉट की गई एकमात्र अन्य शो थी फिल्म ‘पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन’। अजंता व एलोरा की गुफाओं की पैनारॉमिक घाटी से प्रेरित आलीशान संरचना व आर्किटेक्चर। 500 करोड़ रुपए का भव्य प्रोजेक्ट, भारतीय टेलीविजन पर अब तक का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट।

बहुत बड़े स्तर के विजुअल, उच्चतम निर्माण उत्कृष्ट, काफी विषय वस्तु, मजबूत कैरेक्टराइजेशन, परिधानों, एसेसरीज, बॉडी आर्ट और खुद बनाए गए जेवर व हथियार। एक्शन व स्टंट: अनिवार्य अंडरवॉटर प्रशिक्षण, घुड़सवारी व हाथी की सवारी का व्यापक प्रशिक्षण, तलवारबाजी व बख्तर का प्रशिक्षण।

वीएफएक्स शॉट्स, वीएफएक्स से होने वाले कामों में मिलने वाली वर्चुअल एक्टिंग के लिए एक्टर्स का प्रशिक्षण। विशेषज्ञों के साथ उच्चारण व हावभाव का निराकरण करने के प्रशिक्षण, डायलॉग बोलने, चेहरे की अभिव्यक्तियां और बॉडी लैंग्वेज पर खास ध्यान दिया गया। प्रत्येक किरदार के कपड़ों, हेयरस्टाइल, बॉडी आर्ट और उनके हाथों से बने जेवरों में बारीकी व अनोखेपन के स्तर को पर्याप्त शोध के साथ जीवंत व विकसित किया गया है और उस काल को दिखाया गया है जब लोग अपनी वेशभूषा व बॉडी आर्ट से खुद को प्रदर्शित किया करते थे। पुराने समय के पारंपरिक फारसी, मकदूनियन और भारतीय फैशन से प्रेरित, यह उत्कृष्ट व भव्य परिधान व एसेसरीज को 350 ईसापूर्व के पेचीदा काम, नाजुक कपड़ों और दुर्लभ धानों से डिजाइन किया गया है। 400 डांसर्स के साथ एक दिलचस्प डांस सीन, भारतीय टेलीविजन पर पहली बार।

प्रतिभाएं:

लक्ष्य लवानी पोरस के रूप में, सिकंदर बने हैं रोहित पारीक, अनुसूया हैं रति पांडे, बामिनी बने हैं आदित्य रेदीज, लच्छी के रूप में हैं सुहानी धनकी, डैरियस बने हैं प्रणीत भट्ट, फारुस बने हैं विशाल पटनी, अमनदीप सिंह हैं शिवदत्त के रूप में, ​दरस्यू के रूप में चिराग जानी इसकी बेहतरीन स्टार कास्ट के कुछ ही नामक हैं।

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता चिन्नी प्रकाश भव्य डांस सीक्वेंस को कोरियोग्राफ करेंगे। प्रसिद्ध एक्शन निर्देशक टीनू वर्मा न केवल प्रशिक्षण देने बल्कि एक्शन सीक्वेंसेस को डिजाइन करने के लिए जोड़ा गया है। ‘बैंग बैंग’ व ‘रेडी’ मूवी के अंतर्राष्ट्रीय एक्शन डायरेक्ट नुंग विदेश के एक्शन सीक्वेंस के शॉट के लिए भारतीय टेलीविजन में डेब्यू करेंगे। विदुर ने डायलॉग व हावभाव का निराकरण किया है। कई बड़े बैनर की बॉलीवुड फिल्म से जुड़े व्यक्ति, कबीर लाल, इस शो के डीओपी हैं।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये