जल्द ही असत्यापित प्रोडक्ट्स के विज्ञापनों के समर्थन के लिए ब्रांड एम्बेसडर्स को 50 लाख का देना होगा जुर्माना

1 min


unveling-brand.gif?fit=650%2C450&ssl=1

केंद्र सरकार मौजूदा उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम की जगह एक नया कानून पर काम कर रही है। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने इस बारे में बताया कि ‘प्रोडक्ट्स की बिक्री को बढ़ावा देने के लिए ब्रांड एम्बेसडर्स को मशहूर हस्तियों की गुणवत्ता की पुष्टि किये बिना प्रोडक्ट्स की बिक्री को बढ़ावा देने पर 50 लाख रुपये जुर्माना व पांच साल की कैद होगी।‘ यह नए कानून मौजूदा उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, 1986 की जगह लेगा। मौजूदा उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, 1986 सेलेब्स के खिलाफ प्रावधानों के लिए होता है।

क्योंकि कई हस्तियों उत्पादों की पुष्टि के लिए विज्ञापन कर रहे हैं। कुछ प्रमुख एक्टर्स अमिताभ बच्चन, सलमान खान ने यह दावा किया कि वह किसी प्रोडक्ट की ताकत को बढ़ावा नहीं देते ना ही यह कहते है कि इस प्रोडक्ट के इस्तेमाल करने से गंजे के सर पर बाल आ जाएगे। रामविलास पासवान ने इसी बात पर अपनी बात रखते हुए कहा कि ‘इस तरह की बातें बंद कर देनी चाहिए। किसी भी प्रोडक्ट का विज्ञापन तभी करना चाहिए जब आप पहले खुद को आश्वस्त कर सके।‘

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये