हैप्पी बर्थडे “जग्गू दादा ” (जैकी श्रॉफ)

1 min


आज बी टाउन के जग्गू दादा यानि जैकी श्रॉफ का जन्मदिन है, आज के दिन जैकी पुरे 59 के हो गए हैं पर उनकी पर्सनेलिटी को देखकर लगता है कि जैसे समय उनके लिए रुक सा गया है क्योंकि वो आज भी यंग ही दिखते हैं आज उनके जन्मदिन पर हम आपको उनके कुछ अनछुए पहलुओं से रूबरू करवाएँगे जिनके विषय में शायद आपको न पता हो।

जैकी दादा यानि जैकी श्रॉफ का जन्म 1 फरवरी 1957 को मुंबई की एक चॉल की गुजराती फैमिली में हुआ था उनके पिता काफी नामी ज्योतिष थे, जिन्होंने अपने बेटे जैकी के विषय में पहले ही भविष्यवाणी की थी कि एक दिन वो बहुत बड़े स्टार बनेंगे।

जैकी श्रॉफ का नाम जग्गू दादा कैसे पड़ा इसके पीछे भी एक दुखद कहानी है। असल में ये नाम उनके भाई का था जो कि अपने चॉल के लोगों को बहुत प्यार करते थे उनकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहते थे। एक दिन जैकी के भाई किसी की जान बचाने के लिए समुन्दर मे कूदे पर उन्हें तैरना नहीं आता था जैकी ने अपने भाई को बचाने की कोशिश की पर वो अपने भाई को नहीं बचा पाए और अपने भाई को अपनी आँखों के सामने उन्होंने डूबता हुआ देखा उसके बाद जैकी ने अपने भाई का नाम ( जग्गू दादा) और काम दोनों को अपना लिया इस तरह जैकी को जग्गू दादा नाम मिला।

जैसा कि सब जानते हैं जैकी श्रॉफ बहुत अच्छे कुक भी हैं और उनका बैंगन का भरता सारे स्टार्स में बहुत मश्हूर भी है। पर अपने स्ट्रग्लिंग टाइम में जब जैकी श्रॉफ ने होटल ताज में शेफ की जॉब के लिए इंटरव्यू दिया तो उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया। उसके बाद उन्होंने एयर इंडिया मे फ्लाइट अटेंडेंट की जॉब के लिए अप्लाई किया पर वहाँ भी रिजेक्ट हो गए। फिर एक दिन वो बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रहे थे कि एक आदमी ने उन्हें मॉडलिंग का प्रस्ताव दिया, उस समय वो कुछ नहीं कर रहे थे और उन्हें पैसों की जरुरत थी तो उन्होंने तुरंत हाँ कह दी। इसके बाद इन्हें सबसे पहले देव आनंद साहब की फिल्म स्वामी दादा में एक छोटी सी भूमिका मिली! 1983 में निर्माता निर्देशक सुभाष घई ने इनको अपनी एक फिल्म हीरो में प्रमुख भूमिका प्रदान की ! खुशकिस्मती से उनकी ये फिल्म बहुत ही ज्यादा सफल हुई और वो रातों रात एक बड़े सितारे बन गए ! इस प्रकार उनका करियर स्टार्ट हुआ।

jackie-shroff (2)

जैकी श्रॉफ और आयशा की लव स्टोरी के बारे में जग जाहिर है कि ये जब शुरू हुई जब आयशा सिर्फ 14 साल की थी और बस से स्कूल जा रही थीं दोनों ने एक दूसरे को देखा और पहली नज़र में एक दूसरे को चाहने लगे, उस समय जैकी कुछ नहीं करते थे और जहाँ आयशा एक राज परिवार से थी उन्होंने जैकी के लिए सब कुछ छोड़ दिया। जैकी खुद बताते हैं कि जब से आयशा उनकी ज़िंदगी में आई उन्होंने उनकी ज़िन्दगी को न सिर्फ पूरी तरह बदल दिया बल्कि एक स्टैंडर्ड भी एड किया व हर कदम पर उनका साथ भी निभाया।

उन्होंने अब तक 150 से अधिक फिल्मों में बतौर अभिनेता काम किया है और अपना बेस्ट ही दिया है और आज भी वे साउथ और बॉलीवुड की कई फिल्मों में काम कर रहे हैं और उनके जन्मदिन पर हमारी तरफ से ढ़ेर सारी शुभकामनाएं और हमारी ये ही दुआएं है कि वो ऐसे ही एक के बाद एक हिट्स देते रहें।

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये