सुनील शेट्टी

1 min


बॉलीवुड और रियल लाइफ दोनों में सफल हैं अन्ना उर्फ़ सुनील शेट्टी

बॉलीवुड में अन्ना के नाम से मसहूर सुनील शेट्टी न केवल एक फिल्म एक्टर हैं बल्कि एक निर्माता, टेलीविजन प्रिजेंटर और एक सफल बिज़नेस मैन भी हैं जो कि मुख्यतः हिन्दी फिल्मों में काम करते हैं और जिन्होंने अभी तक लगभग 110 फिल्मों में काम किया होगा। उन्होंने बॉलीवुड में अपना स्थान एक्शन हीरो के रूप में बनाया है। सुनील शेट्टी उर्फ़ अन्ना का जन्म 11 अगस्त 1961 मुल्की में एक महाराष्ट्रियन परिवार में हुआ था। अगर उनकी पर्सनल लाइफ की बात करें तो सनुील शेट्टी की शाद्दी माना शेट्टी से हुई और उनके दो बच्चे भी हैं अथिया शेट्टी और आहन जिसमे अथिया अपना बॉलीवुड करियर फिल्म हीरो से शुरू कर चुकी हैं।

बॉलीवुड के अलावा उन्होंने इंग्लिश फिल्म डोंट स्टॉप ड्रीमिंग और तमिल फिल्म 12बी में काम किया। उनकी सफल फिल्मों में बलवान, दिलवाले, अंत, मोहरा, गोपी किशन, कृष्णा, रक्षक, बार्डर, भाई, हेराफेरी, धड़कन, ऑफिसर, ये तेरा घर ये मेरा घर, आवारा पागल दीवाना, मसीहा, कांटे, कयामतः सिटी अंडर थ्रेट, रूद्राक्ष, मैं हूं ना, आनः मेन एट वर्क, हलचल, टैंगो चार्ली, दस, फाइट क्लब-मेंबर्स आनली, चुप चुप के, फिर हेराफेरी, अपना सपना मनी मनी, शूटआउट एट लोखंडवाला, कैश, वन टू थ्री, दे दना दन, रेड अलर्टः द वार विद इन, नो प्राब्लम, थैंक्यू, लूट, एनेमी, कोयलांचल आदि शामिल है। 2014 में उन्होंने न्यूमरोलाजी के आधार पर अपने नाम की स्पेलिंग को चेंज कि।

उन्होंने 2001 में धड़कन फिल्म के लिए बेस्ट विलेन का फिल्मफेयर पुरस्कार भी जीता। उन्होंने पापकार्न मोशन पिक्चर्स बैनर तले कई फिल्में भी प्रोड्यूस कीं जिसमें खेल-नो आर्डनरी गेम, रक्त, भागमभाग शामिल हैं। उन्हें 2009 में साउथ एशिया इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में फिल्म रेड अलर्टः द वार विद इन के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड मिला। इसके अलावा भी उन्हें कई बार कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है जैसे 2001 फ़िल्मफ़ेअर बेस्ट विलेन अवार्ड और ज़ी सिने बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर अवार्ड फॉर धड़कन, 2005 जी आई ऍफ़ अवार्ड्स में बेस्ट विलेन अवार्ड और 2005 फ़िल्मफ़ेअर बेस्ट विलेन अवार्ड फॉर मैं हूँ न फिल्म, 2007 साइफ बेस्ट एक्टर अवार्ड फॉर रेड अलर्ट : दी वॉर वीथिन ,2011 स्टारडस्ट सर्च लाइट अवार्ड फॉर बेस्ट एक्टर फॉर रेड अलर्ट फॉर दी वॉर वीथिन, सुनील शेट्टी को करीना कपूर और सचिन तेंदुलकर के साथ राजीव गाँधी अवार्ड भी दिया गया।

हालांकि अब सुनील फिल्मो में कार्यरत नहीं हैं पर फिर भी उनकी सालाना इनकम 100 करोड़ से ज़्यादा की है व सुनील शेट्टी ही वह व्यक्ति हैं जिन्हें बॉलीवुड में बिजनेस कल्चर लेन का श्रेय देना चाहिए वो एक सफल बिज़नेस मैन है क्योंकि उनका अपना उड़ीसा के उडुप्पी में एक रेस्ट्रोरेंट है व अपना एक “पापकार्न मोशन पिक्चर्स” नामक प्रोडक्शन हाउस भी है व ये सेलिब्रिटी क्रिकेट लीग में मुंबइ हीरोज क्रिकेट टीम के कप्तान हैं इतना ही नहीं उनका खुद का अपना कपड़ों का बुटीक भी है। तो इससे तो साफ ज़ाहिर है वो न केवल फ़िल्मी बल्कि रियल लाइफ हीरो भी हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये