जब सुनील शेट्टी ने अपनी ही शादी के लिए किया था 9 साल इंतज़ार

1 min


बॉलीवुड में सबके बड़े भाई के नाम से जाने जाते ‘अन्ना’ यानी सुनील शेट्टी यूँ तो हर किसी की दुविधाओं का समाधान करने के लिए तैयार रहते हैं पर उनकी ख़ुद की ज़िन्दगी में एक ऐसी मुश्किल आई थी जिसके खत्म होने के लिए उन्हें क़रीब दस साल इंतज़ार करना पड़ा था.

सुनील शेट्टी यूँ तो बड़े पर्दे पर अक्सर एक्शन और कॉमेडी करते नज़र आए हैं पर असल ज़िन्दगी में उनकी लव स्टोरी ऐसी है जिसकी मिसालें दी जा सकें.

हुआ यह था कि एक रोज़ सुनील शेट्टी मालाबार हिल्स में एक बेकरी से कुछ सामान ले रहे थे कि उनकी नज़र एक लड़की पर पड़ी. सुनील शेट्टी को पहली ही नज़र में कुछ ऐसा महसूस हुआ जैसा पहले कभी नहीं हुआ था. उनको लगा जैसे इस लड़की से मिलने के लिए ही वह यहाँ आए हैं. उन्होंने जब बात की तो पता चला उसका नाम ‘माना’ है.

‘माना’ से बातों बातों में दोस्ती हो गयी और इन दोनों का रोज़ का मिलना जुलना शुरु हो गया. जब रोज़ मिलने लगे तो भला प्यार होने में कितनी देर लगती. दोनों जल्द ही डेटिंग करने लगे और सुनील शेट्टी ने एक रोज़ चाहा कि वह उनसे शादी कर लें. पर शादी करना इतना आसान न था. सुनील शेट्टी ने जब अपने घर पर बात की तो घरवालों ने साफ़ मना कर दिया. क्योंकि माना आधी सिख और आधी मुस्लिम थीं. उनके पेरेंट्स की तरफ से भी ऑब्जेक्शन था लेकिन सुनील शेट्टी के परिवार की ओर से तो साफ़ न थी.

यह दोनों चाहते तो घर से भाग सकते थे लेकिन इन्होने ऐसा नहीं किया. बल्कि सुनील शेट्टी ने प्रण लिया कि जबतक फैमिली मान नहीं जाती तबतक वह शादी नहीं करेंगे और शादी करेंगे तो सिर्फ ‘माना’ से करेंगे. यह बात 1982 की थी जब सुनील शेट्टी 21 साल के थे. इसके 9 साल बाद, जब वह बॉलीवुड में अपना डेब्यू करने वाले थे, तब जाके उनकी फैमिली मानी और उन्होंने लम्बे अरसे बाद ही सही, अपने पेशेंस की परीक्षा देते हुए उन्होंने माना से ही शादी की.

आज भी उन्हें अपने परिवार से ज़्यादा प्यारा कुछ नहीं है. उनकी बेटी आथिया शेट्टी बॉलीवुड में अपना कैरियर बना रही हैं वहीँ उनके बेटे अहान शेट्टी जल्द ही अपना डेब्यू करने वाले हैं.