‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में गोकुलधाम वासी बन गए पौराणिक पात्र 

1 min


गोकुलधाम में गणपति बप्पा के आने पर टप्पू सेना ने सभी को ये चेतावनी दे डाली कि या तो सभी रहवासी पूजा के लिए किसी पौराणिक पात्र के रूप में आएं या फिर उन्हें एक लाख का फाइन भरना पड़ेगा।

पैसा बचाने के लिए सभी ने ये शर्त मान ली और अंत में सभी ने एक मस्ती, मनोरंजन व आमोद प्रमोद की एक सुनहरी यादगार रात संजो ली। पोपट नारद मुनि बन कर आया,  बबिता दुर्गा मां, गोगी हनुमान,रोशन भारत माता, डॉ हाथी लाफिंग बुद्धा, टप्पू कृष्ण, दया लक्ष्मी, चम्पक ब्रह्मा, भिड़े शंकर भगवान, व माधवी सरस्वती बनकर स्टेज पर आये।  हर कोई किसी न किसी पौराणिक पात्र के रूप में ही आया।

“ये एक बहुत ही मजेदार ट्रैक है। कलाकारों को पौराणिक पात्र बनने में  मजा आया और मेकअप आर्टिस्ट को इनका मेकअप करके इनका रूप बदलने में पूरा आनंद आया। क्योंकि ये गणेश जी के आगमन का आयोजन था इसलिए पौराणिक पात्रों का ट्रैक बिलकुल सही था। हमारे शो के लिए ये एक नया अनुभव था,” इस शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा के क्रियेटर व निर्माता असित कुमार मोदी ने कहा।

Popat Narad Muni
Disha as Lakshmi Ji
Dr Hathi as Laughing Buddha
Gogi as Hanuman Ji

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये