तीन पीढ़ियों से कपूर फैमिली का ‘पृथ्वी’

1 min


 

''prithvi'' 3 pidhiyon se kapoor family ka

 

हर साल की तरह ही इस साल भी ‘पृथ्वी’ थिएटर का सालाना जलसा देखने लायक था। नसीरुद्दीन शाह के द्वारा अभिनीत किये गए नाटक के साथ शुरुआत पाने वाले समारोह में कपूर खानदान की तीन पीढ़ियां विशिष्ठ झलकियों में थी। थिएटर से जुड़े सारे लोग अपनी उपस्तिथि दर्ज करने की होड़ में थे और लगता था पृथ्वी की गोद में मुंबई का थिएटर जगत आ बैठा है। बता दें कि पृथ्वी थिएटर की शुरुआत स्व.पृथ्वीराज कपूर के समय की है। पृथ्वीराज कपूर ने यहां अपने नाटकों का सामान रखने के लिए गोदम बनाये थे और सामने के झोपड़े (जहाँ आज शशि कपूर का ऑफिस है) में रहा करते थे। फिर शशि कपूर की पत्नी स्व.जेनिफ़र कपूर ने विधिवत थिएटर का रूप दिया। जेनिफ़र के बाद उनकी बेटी संजना और कुणाल थिएटर की देखभाल करने लगे। अब कपूर खानदान की तीसरी पीढ़ी एक मंदिर की तरह इस थिएटर को दर्जा देती है। सचमुच! मुंबई-थिएटर कर्मियों के लिए ‘पृथ्वी’ माँ की गोद जैसा ही है।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये