प्रेमचंद को पढ़ने वाले नृत्य निर्देशक टेरेंस लेविस

1 min


नृत्य निर्देशक टेरेंस लेविस मूलतः क्रिश्चियन हैं और उनकी मातृभाषा अंग्रेजी है, पर उन्हें हिंदी से मोह है. वह जब भी नृत्य के रियालिटी शो में हिंदी में बात करते हैं, तो लोग आश्चर्य चकित होते हैं. पर टेंरेस ने आठवीं कक्षा से ही हिंदी बोलना व पढ़ना शुरू किया था. उन्होंने तमाम हिंदी के लेखकों को पढ़ा है.टेंरेस लेविस अब अभिनेता बन चुके हैं. वह एक फिल्म की पटकथा भी लिख रहे हैं. खुद टेरेंस लेविस बताते हैं-‘‘मैने प्रेमचंद की तमाम कहानियां पढ़ी हैं. मेरे पास गुलजार की कुछ किताबें हैं, जिन्हें पढ़ता रहता हूं. मैं ज्यादातर हिंदी में लिखी हुई किताबें घर पर लेकर आता हूं और उन्हें पढ़ता हूं. मैं जब भी पृथ्वी थिएटर जाता हूं, तो वहां से कोई न कोई हिंदी साहित्य या नाटक की किताब लेकर आता ही हूं. मैंने अपने सदगुरू की आध्यात्मिक किताबें भी हिंदी में ली हैं. मेरे लिए आध्यात्मिक किताबों को हिंदी में पढ़ना मुष्किल हो जाता है, पर मैं ऐसा ही करता हूं. मुझे अच्छा लगता है, जब कोई मुझसे साफ शुद्ध या क्लिष्ट हिंदी में बात करता है।’’

मगर वह अंग्रेजी भाषा में ही लिखते हैं. वह कहते हैं-‘‘सच कहूं तो मैं अंग्रेजी में ही लिखता रहा हूं. मैं हिंदी में कविताएं नहीं लिखता,पर अंग्रेजी में बड़ी फूर्ती से कविताएं लिख लेता हूं. सच यह है कि हिंदी में लिखते समय मुझे समय लगता है. कुछ कहानियां लिखी हैं. अभी एक टूटे दिल की कहानी लिखी है, पर वह भी अंग्रेजी में लिखी है. एक कविता को लिखने में मुझे एक माह का वक्त लगता है. दिल को छू जाने वाली कविताएं लिखना पसंद करता हूं.व्यंग नहीं लिखता. मैं किसी पर व्यंग नहीं करता।’’


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये