‘पद्मावत’ के निर्माताओं ने रोक के खिलाफ अब सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

1 min


उच्चतम न्यायलय दीपिका पादुकोण अभिनीत फिल्म पद्मावत के विभिन्न राज्यों में प्रदर्शन पर प्रतिबंध के खिलाफ इसके निर्माताओं की याचिका पर सुनवाई करने के लिए सहमत हो गया. प्रधान न्यायधीश दीपक मिश्रा न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड की खंडपीठ ने फिल्म के निर्माता वायकॉम 18 और अन्य के वकील की इस दलील पर विचार किया की इसका अखिल भारतीय प्रदर्शन 25 जनवरी को होने वाला है ऐसी स्तिथि में इस याचिका पर शीघ्र सुनवाई की आवश्यकता है.

हरियाणा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश राजस्थान और उतराखंड राज्य की सरकारों ने घोषणा की थी कि वे इस फिल्म के प्रदर्शन की अनुमति नहीं देंगे. याचिका में कहा गया है कि इस फिल्म केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने मंजूरी दे दी है और इसलिए राज्य इसके प्रदर्शन पर प्रतिबंध नहीं लगा सकते. याचिका के अनुसार कानून व्यवस्था की समस्या होने पर ऐसे क्षेत्रों में फिल्म का प्रदर्शन निलंबित किया जा सकता है इससे पहले दो मौकों पर शीर्ष अदालत ने फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने के प्रयास विफल कर दिए थे. फिल्ममेकर्स ने 24 तारीख को फिल्म की रिलीज डेट की घोषणा कर दी है तो करणी सेना ने आज यानि 17 तारीख से ही धरना-प्रदर्शन की चेतावनी दी थी


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये