बहुचर्चित फ़िल्म ‘सूराराई पोटरू’ जल्द ही अबुंदंतिया एंटरटेनमेंट और एक्टर सुरिया की 2डी एंटरटेनमेंट के साथ मिलकर हिंदी में बन रही है

1 min


भारत के दो प्रमुख कंटेंट क्रिएटर्स और प्रोड्यूसर, यानी 2डी एंटरटेनमेंट और अबुंदंतिया एंटरटेनमेंट ने आज विश्व स्तर पर प्रशंसित फ़िल्म ’सूरराई पोटरू’ (बहादुर की प्रशंसा करें) के रीमेक के लिए हाथ मिलाने की घोषणा की। सूराराई पोटरु, नेदुमारन राजंगम उर्फ “मारा“ की एक भावनात्मक और प्रभावशाली कहानी है, जिसे सूर्या ने निभाया है, जो आम आदमी को हवाई जहाज में उड़ने के लिए तैयार करता है और इस प्रक्रिया में अपने परिवार, दोस्तों और इच्छाशक्ति की मदद से दुनिया के सबसे अधिक पूंजी प्रधान उद्योग से भिड़ जाता है।

यह फिल्म आंशिक रूप से एयर डेक्कन के संस्थापक कैप्टन जी.आर. गोपीनाथ के जीवन पर आधारित है। यह 78वें गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड्स में सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म श्रेणी के तहत प्रदर्शित होने वाली दस भारतीय फिल्मों में से एक थी और इसे 93वें अकादमी पुरस्कारों में स्क्रीनिंग के लिए भी भेजा गया था। ’सूराराई पोटरू’ ने आईएमडीबी की उच्चतम रेटेड फिल्मों की सूची में 9.1 की रेटिंग के साथ, केवल दो महान फिल्मों- ’शॉशंक रिडेम्पशन’ (1994) और ’द गॉडफादर (1972)’ के बाद तीसरे स्थान पर रहने वाली एकमात्र भारतीय फिल्म बनकर इतिहास रच दिया था। इसके हिंदी रीमेक के लिए कासिं्टग को अंतिम रूप दिया जाना बाकी है, ओरिजिनल की निर्देशिका सुधा कोंगारा अब हिंदी रीमेक का भी निर्देशन करेंगी। विक्रम मल्होत्रा के नेतृत्व वाली अबुंदंतिया एंटरटेनमेंट, अब सूर्या, ज्योतिका सदाना और राजसेकर पांडियन के नेतृत्व में, ’2डी एंटरटेनमेंट’, हिंदी फिल्म में भागीदारी करेंगे।

अभिनेता सूर्या के दिमाग की उपज, ये ’2डी एंटरटेनमेंट’, लोगों का मनोरंजन करने के साथ-साथ लोगों के जीवन को छूने वाली महान कहानियों की शक्ति का उपयोग करने में विश्वास करता है। उनकी विविध प्रकार की फिल्में जैसे 36 वायथिनिले, 24, पोनमाल वंधल, कदईकुट्टी सिंगम, मगलिर मट्टम और निश्चित रूप से सूराराई पोटरू, उनके इस भावना को प्रतिध्वनित करते हैं। फिल्मों के लिए सही मायने में रेखांकित, रचनात्मक संवेदनाएं और जुनून प्रोडक्शन हाउस के बीच इस तरह की पहली साझेदारी, मानो ऊपरवाले ने बना कर भेजा है।

जबर्दस्त एंटरटेनमेंट और प्रभावशाली कंटेंट देने वाली ये कम्पनी, जिनकी फिल्में, हाल ही में रिलीज हुई विद्या बालन अभिनीत शेरनी, शकुंतला देवी, एयरलिफ्ट या टॉयलेटः एक प्रेम कथा की तरह ही अपने विषयों में हमेशा यथार्थवादी और प्रभावशाली रही हैं। ’सूराराई पोटरु’ एक ऐसी फिल्म है जो समान भावना और सार को दर्शाती है, इसलिए प्रोडक्शन हाउस द्वारा हिंदी रीमेक के लिए इसे एक बढ़िया और दिलचस्प विकल्प चुनती है।

कैप्टन जी.आर. फिल्म के प्रेरणास्रोत, एयर डेक्कन के संस्थापक गोपीनाथ ने अब हिंदी में बनाई जाने वाली कहानी पर अपना उत्साह व्यक्त किया, “जब सुधा पहली बार मेरे पास अपनी जर्नी स्टोरी बताने का विचार लेकर आई, तो मैं तुरंत सहमत हो गया। मैं ’सूराराई पोटरू’ को मिली प्रतिक्रिया से अभिभूत हूं और अब फिल्म के हिंदी रूपांतरण का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं।”

अभिनेता-निर्माता और 2डी एंटरटेनमेंट के संस्थापक, सूर्या कहते हैं, “सूराराई पोटरु पर जो प्यार और प्रशंसा बरसाई गई, वह अभूतपूर्व थी। जिस क्षण से मैंने पहली बार यह कहानी सुनी, मुझे लगा कि यह एक अखिल भारतीय फिल्म होनी चाहिए क्योंकि इस कहानी में वो बात है। कैप्टन गोपीनाथ की प्रेरक कहानी को हिंदी में बनाने के लिए, अबुदंतिया एंटरटेनमेंट के साथ साझेदारी करने में मुझे बहुत खुशी मिल रही है जिन्होंने हमेशा गुणवत्तापूर्ण सामग्री बनाई है।”

अबुदंतिया एंटरटेनमेंट के संस्थापक और सीईओ विक्रम मल्होत्रा ने 2डी एंटरटेनमेंट और हिंदी रीमेक के साथ गठबंधन के बारे में बात करते हुए कहा, “ऐसी कहानियां, जो दर्शकों पर भरपूर एंटरटेनमेंट के अलावा एक चिरस्थायी प्रभाव छोड़ती है उसे अबुदंतिया एंटरटेनमेंट के तहत बनाने में हमें सबसे ज्यादा दिलचस्पी है। हम सूर्या, ज्योतिका और राजसेकर के साथ साझेदारी करते हुए उत्साहित हैं ताकि हम मिलकर  हिंदी भाषा में नए और लार्जर ऑडियंस के लिए ’सूराराई पोटरु’ का जादू ला सके। इस फ़िल्म की हाई क़्वालिटी सामग्री के साथ हम अपने प्रशंसकों को खुश करना जारी रखेंगे। मैं सुधा के साथ काम करने के लिए भी रोमांचित हूं, जिन्हें हम देश के बेहतरीन फिल्म निर्माताओं में से एक के रूप में आंकते हैं और इस फ़िल्म को दुनिया भर में उनके प्रशंसकों तक ले जाने के लिए बेसब्र है।

निर्देशक सुधा कोंगरा आगे कहती हैं, “मैं सूराराई पोटुरू की कहानी यानी कैप्टन गोपीनाथ की कहानी, (जो 90 के दशक के न्यू इंडिया के प्रतीक थे और एक साहसी मनमौजी तथा एक प्रेरक एंटरप्रेन्योर थे) की ओर आकर्षित हुई। अब तक हमें मिले भरपूर प्यार के लिए मैं आभारी हूं और इस अनूठी और अद्भुत कहानी को हिंदी में प्रस्तुत करने के लिए उत्सुक हूं। मुझे उम्मीद है कि इस आधिकारिक हिंदी रीमेक को भी ओरिजिनल की तरह ही प्यार मिलेगा।”

सुधा कोंगरा, इन दिनों इस फ़िल्म के हिंदी रूपांतरण की पटकथा लिखने के लिए लेखकों के टीम के साथ काम कर रही हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये