युवा वर्ग की स्पीड कंट्रोल करेगी फे़स फिल्म्स की रफ्तार, दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन ने किया रफ्तार को रिलीज

1 min


फे़स फिल्मस द्वारा निर्मित शॉर्ट फिल्म रफ्तार को दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के चेयरमैन जाकिर खान द्वारा आई० टी० ओ० स्थित आयोग के कार्यकाल में रिलीज किया गया। इस मौके पर फे़स ग्रुप के चेयरमैन व रफ्तार के डायरेक्टर, प्रोडयूसर डॉ० मुश्ताक अंसारी, रफ्तार की स्टार कास्ट संजय कर्णवाल, एडवोकेट पल्लवी डेम, मिन्टू डेम, शिवानी चौधरी सहित और भी कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

इस अवसर पर जाकिर खान ने फेस ग्रुप के प्रयासों व समाज सेवी कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि रफ्तार से रफ ड्राईविंग करने वाले वाहन चालकों को प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने कहा देश में प्रति वर्ष डेढ लाख से अधिक मौते सड़क दुर्घटनाओं के कारण होती है। दुर्घटना में हुई मृत्यु के कारण परिजनों को जो पीड़ा होती है उसको सहन करना आसान काम नही होता।

डॉ० मुश्ताक अंसारी ने शॉर्ट फिल्म रफ्तार के पोस्टर रिलीज के मौके पर कहा कि फेस फिल्मस द्वरा निर्मित शॉर्ट फिल्म रफ़्तार से युवा वर्ग की स्पीड अवश्य कंट्रोल होगी। उन्होंने कहा इस फिल्म के माध्यम से युवा वर्ग को हमने एक संदेश यह भी दिया है कि वह रात-रात भर अपनी पसंद की चीजों को व्हाट्टसप पर देखते हैं लेकिन समाज सुधार, ज्ञानवर्धक व जानकारी वाले संदेशों को नजऱअंदाज कर देते हैं।
फिल्म अभिनेता संजय कर्णवाल ने कहा कि रफ्तार नामक यह शॉर्ट फिल्म दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की नई स्पीड़ गाइडलाइन पर आधोरित है जिसमें हिदायत दी गई है कि दिल्ली के मुख्य मार्गों पर 60 व सर्विस लेन तथा बाजारों में 30 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक स्पीड नही होनी चाहिए।

एडवोकेट पल्लवी डेम व मिंटू डेम ने बताया कि वाहन चालकों को स्पीड के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से रफ्तार का निर्माण किया गया। इन्होंने कहा कि हमने पहली बार किसी फिल्म में अभिनय किया है, अच्छा अनुभव रहा। फे़स फिल्मस के सभी प्रोजेक्ट्स में समाज सुधार के संदेशों को प्रसारित किया जाता है और उभरते हुए कलाकारों को भी मंच दिया जाता है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये