कागज़ फिल्म का सोंग “बुलावे” आम आदमी की असामान्य यात्रा की एक झलक है

1 min


Pankaj Tripathi

पंकज त्रिपाठी स्टारर फिल्म ‘कागज़’ भारतीय इतिहास के सबसे अजीब मामलों में से एक को दर्शाती है।

बायोपिक में त्रिपाठी को भरत लाल मृतक के रूप में दिखाया गया है, जिसे सरकारी दस्तावेज द्वारा मृत घोषित कर दिया जाता है, भले ही वह जीवित हो।

ज्योति वेंकटेश

फिल्म जब से रिलीज हुई है तब से इसे आलोचकों और दर्शकों द्वारा सराहा जा रहा है

Kaagaz

हाल ही में फिल्म के लिए सलमान खान द्वारा सुनाई गई एक कविता जारी करने के बाद, निर्माताओं ने पंकज त्रिपाठी का एक नया गीत ‘बुलावे’ एक भावपूर्ण भारतीय गीत जारी किया है।

गीत आपको एक आम आदमी भरत लाल मृतक की असामान्य यात्रा के माध्यम से चलता है। गाने को पापोन ने गाया है और अंकुर घोष द्वारा संगीतबद्ध किया गया है, गीत श्वेता राज ने लिखे हैं।

‘कगाज’ को सलमान खान फिल्म्स द्वारा सतीश कौशिक एंटरटेनमेंट प्रोडक्शन के साथ प्रस्तुत किया गया है और सलमा खान, निशांत कौशिक और विकास मालू द्वारा निर्मित है।

यह फिल्म अब जी5 प्रीमियम पर स्ट्रीमिंग कर रही है और उत्तर प्रदेश के कुछ चुनिंदा सिनेमाघरों में रिलीज हुई है।

अनु- छवि शर्मा


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये