वोमन सिनेमा एन्ड आर्ट्स इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2020  सम्मान समारोह सम्पन्न। कान्स फेस्टिवल में शामिल फिल्म “फास” पर हुई चर्चा।

1 min


9 जुलाई को मुम्बई के होटल कोहिनूर कांटिनेंटल में वोमन सिनेमा एंड आर्ट्स इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (WCAIFF) 2020 का आयोजन किया गया। इस फेस्टिवल में हर वर्ष दुनिया भर से 100 महिलाओं का चयन करके उनको सम्मानित किया जाता है। मुम्बई में आयोजित इस समारोह के फाउंडर-एमडी हैं- विक्रांत मोरे और डायरेक्टर हैं प्रिया जायसवाल।

अविनाश कोल्टे द्वारा निर्देशित मराठी फिल्म “फास” (“द हैंगिंग”) का जिसका कान्स इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में गत दिनों प्रीमियर हुआ है, पर खास रूप से चर्चा की गई।

शरद जोशी विचार मंच शेतकरी संघटना द्वारा आयोजित सिनेमा केटेगरी में विभिन्न क्षेत्रों से आयी महिलाओं का सम्मान किया गया। मराठी फिल्मों की मशहूर निर्मात्री- निर्देशिका अरुणा राजे, मिसेज ज्योति तोमर (कोरियोग्राफर फिल्म ‘पद्मावत’ का ‘घूमर’ गीत), अनुराधा सिंह जैसी  महिलाओं का सम्मान किया गया। फिल्म ”फास” की लेखिका ने अपने स्ट्रगल को बताया।

”फास” एक प्रयोगात्मक फिल्म है जो महाराष्ट्र में हो रही  किसानों द्वारा आत्महत्या करने की घटनाओं पर एक संदेश है।फिल्म में आत्महत्या किसी समस्या का निदान नहीं है, यह समझाने की कोशिश की गई है। यह फिल्म अब तक विभिन्न राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्मोत्सवों में सराही गई है। मुख्य कलाकार हैं — उपेन्द्र लिमये, सयाजी शिंदे, कमलेश सावंत और पल्लवी पलकर आदि।

पाँच राष्ट्रीय पुरस्कार जीतनेवाली फिल्मकार अरुणा राजे  तथा अन्य पुरस्कृत की गई महिलाओं ने अपने संघर्ष को सुनाया। कांग्रेस पार्टी विधायक बाबा साहेब मोहनराव पाटिल विशेष अतिथि रूप में उपस्थित थे। समारोह के फाउंडर तथा एमडी विक्रांत मोरे ने सभी उपस्थित कलाकारों, प्रेस और  मेहमानों का आभार व्यक्त किया।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये