फिल्मों में इंतजार बहुत है – रूपल त्यागी

1 min


लोकप्रिय धारावाहिकों में ‘सपने सुहाने लड़कपन के’ शामिल। इस शो की लीड एक्ट्रेस रूपल त्यागी बेसिकली मैंगलौर से है। उसने बचपन में चार पांच विज्ञापन फिल्में की थी, वहीं से उसने निश्चय किया कि उसे बड़े होकर अदाकारा ही बनना है। लेकिन यहां उसने शुरूआत बतौर एसिस्टेंट कोरियोग्राफर की । और जब उसने एक्टिंग करने का निश्चय किया तो छोटा पर्दा चुना। इस शो के अलावा कुछ अन्य बातों को लेकर उससे एक मुलाकात ।

roopal

इसीलिये सहायक डांस अभिनय के लिये तैयार नहीं थी, क्या मास्टर बनी ?
ऐसा नहीं था । दरअसल मैं मैंगलौर से मुबंई पहले कोरियोग्राफर बनने ही आई थी और आते ही कोरियोग्राफर पोनी वर्मा का बतौर सहायक ऑफर मिला तो मैने वह फौरन स्वीकार कर लिया । करीब दो साल तक पोनी के साथ करीब पच्चीस फिल्मों में पचास साठ गाने बतौर सहायक कोरियोग्राफ किये ।

लेकिन आपने तो बचपन से ही अभिनेत्री बनने का निश्चय किया हुआ था ?
हां, लेकिन थोड़ा समझदार होने के बाद मुझे बताया गया था कि फिल्मों में काम करने के लिये पहली शर्त होती हैं डांस । इसलिये मैं शामक डावर के साथ जुड़ गई थी । फिल्म भूल भुलैया में एक कत्थक डांस का सीक्वेंस करना था इसके लिये मैने पहले बाकायदा कत्थक की वर्कशॉप ली ।

roopal-tyagi-at-ankita-bhargavas-birthday-party_image-courtesy-k-himaanshu-shukla

एक्टिंग के लिये फिल्मों की अपेक्षा छोटा पर्दा चुना ?
फिल्मों में इंतजार बहुत है । दूसरे में फिल्म इन्डस्ट्री को भीतर तक देख और समझ चुकी थी । टीवी में आज अपार संभावनायें हैं । यहां रैगुलर काम है और अच्छा काम है ।

कौन से धारावाहिक से शुरूआत हुई ?
जब मुझे लगा कि अब एक्टिंग करनी चाहिये तो मैने अपना पोर्टफोलिया बनवाया । जिसके बल पर जीटीवी का पहला धारावाहिक ‘हमारी बेटियों का विवाह’ मिला । उसके बाद दिल मिल गये, फोजी टू (शाहरूख खान के शो का रीमेक जो टेलीकोस्ट नहीं हुआ ) छोटी सी जिन्दगी आदि । इन सभी में मैने लीड रोल किये ।

मौजूदा धारावाहिक के बारे में क्या कहना चाहती हैं ?
जीटीवी पर इस सीरियल को काफी अरसा हो चुका हैं । अगर मेरी भूमिका की बात की जाये तो मैं इसमें एक ऐसी स्ट्रांग लड़की गुजंन हूं जो सच कहने से नही चूकती । जबकि उसकी फैमिली थोड़ी कजंरवेटिव है लेकिन वह आजाद ख्यालों की ऐसी लड़की है जो अपनी मर्यादा को भी पहचानती है । बाद में वह अपनी मोसी के घर रहने लगी तो उसे अपने आपको वहां के माहौल से ढाल लिया । मौसी की लड़की उसकी बेस्ट फ्रेण्ड है । उसकी शादी मौसी के देवर के लड़के मंयक से होती है । मयंक उसे अधिकतम बातों के लिये सर्पोट करता है तो कभी विरोध भी करता है

rupal tyagi 2

निजी तौर पर इस भूमिका से कितना लगाव है ?
बहुत । आई लव गुंजन। क्योंकि यह भूमिका मेरी प्रसनल लाइफ के बहुत करीब है । जबकि पर्सनल लाइफ से जुड़ी भूमिका करना आसान नहीं होता । फिर भी इसे करते हुए मजा आ रहा है ।

क्या धारावाहिकों में कोरियोग्राफी करने का अवसर मिला ?
जब भी कोई नाच गाने का सीन आता है तो मुझे कहा जाता है कि अपनी कोरियोग्राफी खुद ही करो लेकिन मैं सख्ती से मना कर देती हूं क्योंकि मैं सिर्फ एक्टिंग पर फोकस करना चाहती हूं ।

सुना है कि छोटे परदे पर आजकल कलाकारों का शोषण किया जाता है ?
हो सकता है कि ऐसा होता हो । लेकिन मुझे कभी ऐसी स्थिति से दो चार नहीं होना पड़ा । ऐसा इसलिये भी हुआ हो सकता है क्योंकि मैं फिल्मों से यहां आई हूं और ऐसी सारी स्थितियों से पहले से वाकिफ हूं ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये