‘‘इस शो को ना कहने का तो सवाल ही नहीं था’’- स्मिता सरवदे

1 min


इस शो का कॉन्‍सेप्‍ट क्‍या है ?

यह पारंपरिक मान्‍यताओं को मानने वाले सिद्धांतवादी, अन्‍ना और बदलते समय के साथ चलने पर भरोसा करने वाले महेंद्र के बीच का दिलचस्‍प मतभेद की कहानी है। इसके साथ ही, इसमें गोखले परिवार के अंदर जीवन के इन सख्‍त तरीकों और नई पीढ़ी के बीच विवाद के बारे में भी बताया गया है। हालांकि, इन सभी विवाद को काफी मजाकिया तरीके से पेश किया गया है और दर्शकों के लिये यह काफी मनोरंजन होने वाला है। यह शो परिवार में रिश्‍तों के इर्द-गिर्द घूमता है और साथ ही दो परिवारों के बीच भी।

अपने किरदार ज्‍योत्‍सना के बारे में कुछ बतायें।

ज्‍योत्‍सना, अन्‍ना की पत्‍नी है। थोड़ा अजीब होने के बावजूद भी वह उसकी काफी इज्‍जत करती है। मेरा किरदार काफी संतुलित है, लेकिन साथ ही आज की पीढ़ी के बच्‍चों और घर के बाकी सदस्‍यों के साथ भी रिश्‍ता बनाये रखने में भी अच्‍छी है। अन्‍ना ऐसे विचार के व्‍यक्ति हैं कि एक बार किसी के साथ रिश्‍ता टूट जाये तो फिर उसे सुधारने की कोई गुंजाइश नहीं होती है। हालांकि, मैं और अभिषेक ऐसे लोगों में से हैं, जोकि हर रिश्‍ते का ख्‍याल रखते हैं। यूं तो वह बहुत ही पॉजिटिव और साधारण किरदार है लेकिन अन्‍ना जब भी कोई गलती करते हैं ज्‍योत्‍सना कभी चुप नहीं रहती है। वह उसकी गलतियों का विरोध करती है और इसलिये यह बेहद सशक्‍त किरदार है।

इस भूमिका को स्‍वीकार करने की आपकी वजह क्‍या रही?

यह भूमिका ही अपने आप में उसकी वजह रही। यह बेहद खूबसूरत और व्‍यवस्थित रिश्‍ता है। साथ ही सोनी सब पर यह ड्रामा होने के कारण यह काफी अलग और रोमांचक है। इसलिये, इस शो के लिये और इस भूमिका के लिये ना कहने का तो कोई सवाल ही पैदा नहीं होता।

अब तक सेट पर किस तरह का अनुभव रहा है?

कमाल का रहा है। इतनी अच्‍छी भूमिका, लोगों के साथ काम करना सोने पर सुहागा है। मैंने पहले भी देवेन भोजानी के साथ काम किया है वह भी सोनी सब पर ही, इसलिये उनके साथ मेरा अच्‍छा तालमेल है। हालांकि, ज्‍यादातार ऐसे कलाकार हैं जिनके साथ मैं पहली बार काम कर रही हूं, लेकिन पहले ही दिन से हमारे बीच काफी अच्‍छा रिश्‍ता बन गया है और मुझे पूरी उम्‍मीद है कि वह परदे पर भी नज़र आयेगा। सेट पर आना बहुत अच्‍छा लगता है और एक साथ काम करना क्‍योंकि हर कोई एक-दूसरे की इज्‍जत करते हैं और साथ ही मदद भी करते हैं।

इस शो से आपकी क्‍या उम्‍मीदें हैं? दर्शकों को ‘भाखरवड़ी’ में क्‍या पसंद आयेगा?

इस शो में रिश्‍तों को जिस तरह से पेश किया गया है दर्शक उसे पसंद करेंगे। साथ ही उन्‍हें यह देखकर मजा आयेगा कि ‘भाखरवड़ी’ में ड्रामा को कॉमिक रूप में दिखाया गया है।

ज्‍योत्‍सना और स्मिता के बीच किसी तरह की समानता है?

बिलकुल भी नहीं। मैं ज्‍योत्‍सना की तरह बिलकुल भी नहीं हूं और यही वजह है कि इस भूमिका को निभाने में मुझे ज्‍यादा मजा आ रहा है।

आपने कई बेहतरीन मराठी शोज में काम किया है। आपको मराठी इंडस्‍ट्री और हिन्‍दी इंडस्‍ट्री में काम करने में कोई फर्क महसूस होता है?

दरअसल मैंने हैट्स ऑफ प्रोडक्‍शन के साथ हिन्‍दी इंडस्‍ट्री के लिये पहले भी काम किया है। इसलिये, मुझे कोई फर्क महसूस नहीं होता, लेकिन मुझे काफी मजा आ रहा है।

यदि वास्‍तविक जीवन में भी आप इतने ही सिद्धांतवादी पति की पत्‍नी होतीं तो उस परिस्थिति को किस तरह संभालती?

मुझे नहीं लगता कि मैं इतनी अच्‍छी तरह चीजों को संभाल पाती। एक व्‍यक्ति जोकि सख्‍त है लेकिन दिल का बहुत अच्‍छा है तो उसे संभालना थोड़ा मुश्किल होता क्‍योंकि ऐसे में आप दुविधा में होंगे कि कैसी प्रतिक्रिया दें।

इस शो में आपका पसंदीदा किरदार कौन-सा है?

भारती और अमोल। उनके किरदार कमाल के हैं और दोनों ही उसे उतनी ही खूबसूरती से निभा रहे हैं।

क्‍या आप सोनी सब देखती हैं? इस चैनल पर आपका पसंदीदा शो कौन-सा है?

हां। ‘तारक मेहता का उल्‍टा चश्‍मा‘ मेरा सबसे पसंदीदा शो है।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये