फिल्म ‘‘बागी’’ पर लगा विदेशी फिल्म की नकल का आरोप

1 min


2011 में प्रदर्शित इंडोनेशियन फिल्म ‘द रेड रिडेम्पशन’ की निर्माण कंपनियों अमेरीकन फिल्म निर्माण कंपनी ‘एक्स वाय जेड प्रोडक्शन एलएलसी’ और इंडोनेशियन फिल्म निर्माण कंपनी ‘‘पी टी मेरन्टाउ’’ ने भारती फिल्म निर्माता गुनीत मोंगा की कंपनी ‘शिख्या इंटरेनमेंट’ के साथ मिलकर पिछले दिनों मुंबई हाई कोर्ट में ‘बागी’ के खिलाफ याचिका डाल दी। इन फिल्म निर्माण कंपनियों ने आरेाप लगाया है कि फिल्म ‘बागी’ के निर्माताओं ने उकनी फिल्म ‘द रेड रिडेम्पशन’ की नकल की है। वास्तव में कुछ समय पहले भारतीय निर्माता गुनीत मोंगा ने इंडोनेशियन व अमरीकन कंपनी से फिल्म ‘‘द रेड रिडेम्पशन’ के हिंदी में बनाने के अधिकार खरीदे थे। पर जब फिल्म ‘‘बागी’का ट्रेलर आया, तो उन्हे लगा कि यह तो पहले ही चोरी करके बना दी गयी। इसलिए उन्होने अदालत मे केस कर दिया। जिस पर सुनवायी करते हुए सात अप्रैल को अदालत ने ‘‘नाडि़यादवाला एंड संस’’ के साजिद नाडि़यावाडवाला और यूटीवी डिज्नी के सिद्धार्थ रॉय कपूर को आदेश दिया है कि वह फिल्म ‘‘बागी’’ को 29 अप्रैल को रिलीज नहीं कर सकते। इतना ही नहीं अदालत ने गुनीत मोंगा की कंपनी के वकील की मांग पर ‘बागी’ के निर्माताओं को आदेश जारी किया है कि वह फिल्म ‘‘बागी’’ की पटकथा और फिल्म की एक प्रति भी अदालत में जमा कराए। सूत्रों की मानें तो अदालत के आदेश का पालन करते हुए निर्माताओं ने खुद को निर्दोष बताते हुए फिल्म व पटकथा अदालत में जमा करा दी है।

वैसे फिल्म ‘‘बागी’’ के निर्माता साजिद नाडि़यादवाला और फिल्म के निर्देशक सब्बीर खान अपनी फिल्म ‘‘बागी’’ को मौलिक फिल्म बता रहे हैं। खुद सब्बीर खान कहते हैं -‘‘यह पूरा मामला अदालत में है। इस पर बात करना अजीब सा लगता है। पर हमारी फिल्म पूरी तरह से मौलिक है। हमारी फिल्म भारतीय या विदेशी किसी भी फिल्म का रीमेक या नकल या उससे मिलती जुलती नहीं है।’’ हमारी नजर इस बात पर रहेगी कि अदालत क्या फैसला लेती है।।

SHARE

Mayapuri