एक पाकीज़ा अदाकारा मीना कुमारी

1 min


आज मीना कुमारी की पूण्यतिथि है, भारतीय फिल्म जगत की सबसे काबिल और खूबसूरत अभिनेत्री ने अपने जीवन में एक से एक यादगार भूमिका निभाई.ट्रेजडी क्वीन के नाम से मशहूर मीना कुमारी की हर फिल्म अपने आप में एक इतिहास बन चुकी है.इनका पूरा नाम ‘महजबीं बानो’ था । मीना कुमारी अपनी दर्द भरी आवाज़ और भावनात्मक अभिनय के लिए दर्शकों के बीच बहुत प्रसिद्ध रही है। मीना कुमारी की ‘साहिब बीबी और ग़ुलाम’, ‘पाकीज़ा’, ‘परिणीता’, ‘बहू बेगम’ और ‘मेरे अपने’ दिल को छू लेने वाली कलात्मक फ़िल्में है।

mayapurigroup logo
मीना कुमारी को मिले सम्मानों की चर्चा की जाए तो उन्हें अपने अभिनय के लिए चार बार ‘फ़िल्मफेयर’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। मीना कुमारी को सबसे पहले वर्ष 1953 में प्रदर्शित फ़िल्म ‘परिणीता’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का ‘फ़िल्मफेयर’ पुरस्कार दिया गया। इसके बाद वर्ष 1954 में भी फ़िल्म ‘बैजू बावरा’ के लिए उन्हें ‘फ़िल्मफेयर’ के सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसके बाद मीना कुमारी को ‘फ़िल्मफेयर’ पुरस्कार के लिए लगभग 8 वर्षों तक इंतज़ार करना पड़ा और वर्ष 1963 में प्रदर्शित फ़िल्म ‘साहिब बीबी और ग़ुलाम’ के लिए उन्हें ‘फ़िल्मफेयर’ मिला। इसके बाद वर्ष 1966 में फ़िल्म ‘काजल’ के लिए भी मीना कुमारी सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के ‘फ़िल्मफेयर’ पुरस्कार से सम्मानित की गईं।
लगभग तीन दशक तक अपने संजीदा अभिनय से दर्शकों के दिलों पर राज करने वाली हिन्दी सिनेमा जगत की महान अभिनेत्री मीना कुमारी, 31 मार्च 1972 को इस दुनिया से विदा हो गईं।
मीना कुमारी के बारे में और जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

SHARE

Mayapuri