सुशांत सिंह राजपूत ने ट्रोलिंग पर निकाली  भड़ास..दिखाया भविष्य का आईना

1 min


सोशल मीडिया आज आम लोगों और सेलेब्रिटीज़ के बीच एक ऐसा प्लेटफार्म बन गया है। जहाँ कोई भी अपनी बात सीधे सीधे अपने मनचाहे स्टार्स या सुपरस्टार्स तक पहुंचा सकता है। लेकिन सुशांत सिंह राजपूत के अनुसार इसने एक ऐसे वर्ग को भी जन्म दिया है जो जानबूझ कर लोगों को ट्रोल करते हैं और ऐसा करने के लिए उन्हें पैसे भी दिए जाते हैं। जैसा कि आप जानते हैं कि सोशल मीडिया पर आए दिन सेलेब्रिटीज़ को ट्रोलिंग का सामना करना पड़ रहा है। जो कि आए दिन सभी अख़बारों और टीवी चैनलों कि ब्रेकिंग न्यूज़ बन जाती है। वहीँ अभी हाल ही में पहली बार ऐसा देखने को मिला कि अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने के चलते सिंगर अभिजीत भट्टाचार्य को ट्विटर से हटा दिया गया। जिसके बाद सोनू निगम अभिजीत भट्टाचार्य के सपोर्ट में आए और उन्होंने भी ट्विटर पर खूब भड़ास निकाली और अपना अकाउंट डिलीट कर दिया अब इसी मुद्दे पर सुशांत सिंह राजपूत ने भी अपनी भड़ास जम कर निकाली है और इस ट्रोलिंग को पेड ट्रोलिंग बताया है।

सुशांत सिंह राजपूत ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि ”मेरी बातों को आप ध्यान से सुनिए कि कुछ महीनों में कुछ लोगों को छोड़कर कोई भी सोशल मीडिया को संजीदगी से नहीं लेगा। खासकर उन बातों को जिनकी ट्रोलिंग होती है। इस तरह की इंजीनियर ट्रोलिंग की शुरुआत रशिया में हुई और फिर यह अमेरिका में। अब भारत में यह हो रहा है। ट्रोलिंग करने के लिए लोगों को रुपए मिलते हैं। दूसरा आपने लोगों को एक ऐसा माध्यम दे दिया है, जो लोगों को उनकी बात रखने का अवसर देता है। हॉवर्ड में एक टेस्ट भी किया गया, जिसमें ऐसा रखा गया कि सुनने वालों को 10 रूपये मिलेंगे और बोलने वालों को 5 रूपये। आप यकीन नहीं मानेंगे सुनने वालो से ज्यादा बोलने वाले थे जबकि उन्हें पैसे कम मिल रहे थे। इसका कारण यह है कि सभी चाहते है कि उनकी बात सुनी जाए। इसी तरह आपने लोगों को बोलने के लिए एक मंच दे दिया है। इसके अलावा जब आपके बारे में अच्छा बोला जाता है आप सुनते नहीं है लेकिन जैसे ही आपके बारे में बुरा बोला जाता है आप सुनने लगते हैं। इसी के चलते उन लोगों की ओर ध्यान जाता है। एक तो यह इंजीनियर ट्रोल उस पर यह ध्यानाकर्षण ट्रोल उसे मैं गंभीरता से लूं। इतना पागल मैं नहीं हो सकता।”


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये