प्रसिद्ध गायक मोहम्म्द रफी पर अनूठी द्विभाषी पुस्तक का लोकार्पण

1 min


प्रसिद्ध गायक मोहम्मद रफी के जीवन एवं गीतों पर आधारित द्विभाषी पुस्तक ‘द वर्ल्ड ऑफ रफी बनाम रफी की दुनिया’’ का लोकार्पण राष्ट्रीय राजधानी स्थित इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर में विगत दिवस को आयोजित संगीत समारोह में किया गया।

‘गोल्डेन ग्रेट्स’ की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम के मौके पर बड़ी संख्या में संगीत प्रेमी एवं विभिन्न क्षेत्रों की अनेक जाने-माने शख्सियत मौजूद थे। समारोह में दिल्ली, मुंबई और अमृतसर के गायकों ने मोहम्मद रफी को संगीतमय श्रद्धांजलि दी।

The World of Rafi – Rafi ki Dunia

मोहम्मद रफी हर गायक के आदर्श है

इस पुस्तक का लोकार्पण करते हुए फिल्म निर्माता एवं म्यूजिक प्रोमोटर अमरजीत सिंह कोहली ने कहा कि आज तक के इतिहास में मोहम्मद रफी की तरह असीम विविधतापूर्ण गायन क्षमता वाला गायक पैदा नहीं हुआ। विविधतापूर्ण गायन क्षमता वाला ऐसा गायक एक सहस्त्राब्दी में कभी कभार ही जन्म लेता है। मोहम्मद रफी आज भी हर गायक के आदर्श और सर्वाधिक पसंदीदा गायक बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी को मोहम्मद रफी के योगदानों से परिचित कराने में विनोद विप्लव की यह पुस्तक बहुत ही मददगार साबित होगी। उन्होंने कहा कि विनोद विप्लव ने करीब दस साल पूर्व मोहम्मद रफी की जीवनी ‘‘मेरी आवाज सुनो’’ लिखी थी जो दुनिया भर में किसी भी भाषा में लिखी गई मोहम्मद रफी की पहली जीवनी थी।

संगीत आयोजक एवं एंकर श्री कौशिक कोठारी ने कहा कि गायन की विलक्षण क्षमता के अलावा मोहम्मद रफी की सबसे बड़ी खासियत उनका सरल एवं संत स्वभाव था। लेखक विनोद विप्लव ने इस पुस्तक में मोहम्मद रफी की गायन क्षमता तथा उनके महान व्यक्तित्व के विभिन्न पहलुओं को उजागर किया है। उनका यह प्रयास काबिले तारीफ है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये