INTERVIEW!! ‘‘मैने मिस यूनिवर्स का खिताब दो बार जीता है ’’- उर्वशी रौतेला

1 min


मिस यूनिवर्स उर्वशी रौतेला का फिल्मों में पर्दापण हुआ था सनी देयाल के अपोजिट फिल्म ‘सिंह साहब द ग्रेट’ से। इसके बाद उसने एक इन्टरनेशनल म्यूजिक एलबम के अलावा एक दो साउथ की फिल्में की। अब एक बार फिर उसकी वापसी टी सीरीज की फिल्म ‘ सनम रे’ से हो रही है। इस फिल्म को लेकर उर्वशी से एक बातचीत।

सिंह साहब के बाद इस फिल्म को लेकर क्या सोचती हैं ?

ये मेरी दूसरी फिल्म है तो डेफिनेटली फिल्म को लेकर एक्साइटिड होना मेरे लिये जायज है। ये फिल्म मैने दो हजार चौदह में साइन की थी, जब तक इस फिल्म में कोई साइन नहीं हुआ था, इसके बाद  इस फिल्म में अर्जुन कपूर काम करने वाले थे लेकिन उन्हें रिप्लेस कर पुलकित को लाया गया। दिव्या मैम ने मुझे बताया था कि फिल्म में दो लड़कियों के रोल्स हैं और वे चाहती थी कि मैं गांव की लड़की की भूमिका कंरू, जो मैं नहीं करना चाहती थी।

Urvashi-rauteladf

लेकिन क्यों ?

दरअसल सिंह साहब में मैं ऑल रेडी एक रोने धोने वाली लड़की का रोल प्ले कर चुकी थी। इसलिये इस बार में कुछ अलग चाहती थी। अब जो रोल मैने प्ले किया है उसमें आकांशा नामक आज की लड़की है, बहुत खूबसूरत हैं अंबिशियस है, बहुत ज्यादा बोल्ड है, स्वभाव से भली है, और सच्चे प्यार को भी भली भांती समझती है, लेकिन वो आज की लड़की है। एक राज की बात खोलती हूं उस टाइम मेरे पास मेरी दो चोटियों वाली एक सीधी सादी पिक्चर थी जब दिव्या जी ने किसी ऐसी पिक्चर की डिमांड की थी क्योंकि वे मुझे गांव की लड़की के लुक में देखना चाहती थी लेकिन मैने उन्हें वो पिक्चर नहीं दिखाई, क्योंकि मुझे डर था कि कंही वो पिक्चर देखकर वे मुझे गांव वाली लड़की का रोल ऑफर न कर दें ।

फिल्म के हीरो आकाश से आपकी क्या एसोसियेशन है ?

दरअसल  आकांशा आकाश को प्यार तो करती हैं लेकिन वो उसकी खुशी में ही खुश है। वरना वो भी एक लड़की है, उसका भी दिल धड़कता है लेकिन चूंकि वो एक सेल्फ मेड लड़की है इसलिये आकाश की खुशी में ही खुश है ।

urvashi-rautela

ये किरदार आपकी लाइफ से किस हद तक मिलता है ?

आप कह सकते हैं कि मैं भी आज की आधुनिक लड़की हूं लेकिन आकांशा की तरह सोशल तो नहीं हूं । फिर भी एक हद तक मुझे इसे निभाते ऐसा लगा जैसे मैं अपने आपको ही दौहरा रही हूं ।

यहां आप एक आधुनिक किरदार में हैं जो सिंह साहब से कतई अलग है ?

बिलकुल और आप यकीन करें मैं इसीलिये इस किरदार को करना चाहती थी क्योंकि मैं पहले से कुछ अलग करना चाहती थी। जैसे अब आगे मेरी एक और फिल्म रिलीज पर हैं ‘ग्रेट ग्रैंडमस्ती’ जिसमें मैं अकेली तीनों ब्वायज विवेक ऑबेराय, आफताब शिवदसानी तथा रितेश देशमुख के अपोजिट हूं। बाकी उनकी तीन बीवीयां है। पहले जो अजय देवगन और लारा दत्ता ने किया था वो रोल कहीं न कहीं मैं आगे बढ़ा रही हूं। तो मेरा ऐम यही हैं कि मैं आगे जो भी करूं जो पहले से अलग हो ।

urvashi-rautela-interviewd

फिल्म की डायरेक्टर दिव्या खोसला के साथ काम करना कैसा रहा ?

दिव्या मैम ही नहीं बल्कि मेरे कोआर्टिस्ट पुलकित और यामी गौतम जैसे सीनियर्स आर्टिस्टों के साथ मेरा काफी अच्छा अनुभव रहा। दिव्या मैम की बात कि जाये तो वे हर वक्त फिल्म की बेहतरी के बारे में सोचती रहती है। इससे पहले वे साउथ से कोई लड़की लेने वाली थी। फिर अर्जन कपूर आने वाले थे। यही नहीं यामी को लेकर वे काफी अरसा कन्फयूज थी कि गांव की लड़की के रोल में उन जैसी अति व्यस्त मॉडल को कैसे फिट कर पायेगीं लेकिन उन्होंने ये करके दिखाया क्योंकि यामी फिल्म में बहुत ही अलग और किरदार में फिट लगी हैं ।

urvashi-rautela-with-divya-khoshla-kumar

आपको नहीं लगता कि कहीं न कहीं आपका करियर थोड़ा स्लो चल रहा है ?

मेरे बारे में बहुत कम लोगों पता हैं कि मैं दो हजार तेरह जनवरी में मुबंई आई थी और फरवरी में मैने अपनी पहली फिल्म साइन कर ली थी। इससे पहले जब मैं सोलह साल की थी तब मुझे फिल्म यशराज की फिल्म ‘इश्कजादे’ ऑफर हुई थी लेकिन उस वक्त मुझे मिस यूनिवर्स के लिये तैयारी करनी थी इसलिये मैने वो फिल्म छोड़ दी थी। इसके बाद मैने मिस यूनिवर्स का खिताब जीता। मैं पहली ऐसी भारतीय लड़की हूं जिसने मिस यूनिवर्स का खिताब दो बार जीता, एक बार दो हजार बारह में और एक दो हजार पंद्रह में। यही नहीं फरवरी में मैने फिल्म साइन की थी और नवबंर में वो रिलीज भी हो गई। जबकि बाहर से जो लोग आते हैं उन्हें यहां अपने आपको जमाने में काफी संघर्ष करना पड़ता है। फिल्म के बाद मुझे सो प्रतिशत स्कॉलरशिप न्यूयार्क एकेडमी के लिये मिली। दो हजार चौदह में मेरा इन्टरनेशनल वीडियो एलबम आया जिसे हॉलीवुड डायरेक्टर बैन पीटर्स ने डायरेक्ट किया था वो एलबम यो यो हनी सिंह के साथ था। जिसके यूट्यूब में फोर्टी फाइव से फिफ्टी मिलियन वीयूज हो गये हैं । इसके बाद मैने ये फिल्म साइन की। ऐसा नहीं कि इस बीच मुझे ऑफर्स नहीं आये, काफी आये लेकिन मैं कुछ अलग करना चाहती थी ।

SHARE

Mayapuri