INTERVIEW: मेरे भाई रोहित मेरी बेहतरी के लिए मुझे हमेशा प्रेरित करते रहे – वरुण धवन 

1 min


लिपिका वर्मा 

वरुण धवन ने “मॉय नेम  इज खान” से अपनी फिल्मी जर्नी की शुरुआत की थी। हालांकि वरुण को अभिनेता बनने का ही शौक था किंतु उनके बड़े भाई रोहित धवन ने हमेशा से उन्हें वही करने की सलाह दी जो उसे करना था। वरुण डेविड धवन (निर्माता/निर्देशक) के सुपुत्र है। फिल्मी दुनिया से ही संबंधित रहे है क्योंकि वरुण फिल्मी परिवार का हिस्सा है। आज भी पिता  डेविड धवन अपने बेटे के कैरियर की जानकारी रखते है। यूहीं ही हम वरुण से वर्तालाप करने बैठे  तो उनका एक वीडियो  सॉन्ग लांच हुआ वरुण के फ़ोन की घंटी बजी औऱ  दूसरी तरफ पिता  डेविड ने वरुण को  इतेला दी कि तुम्हारा वीडियो  सॉन्ग बहुत  अच्छा है। फ़िल्म “ढिशूम” के प्रोमोशंस हेतु वरुण धवन ने लिपिका वर्मा से बातचीत की-पेश है बातचित कुछ अंश

भाई रोहित के निर्देशन में काम  कर रहे हो क्या कहना चाहोगे इस बारे में?

“जी हाँ आज भी मुझे याद है रोहित ने मुझे इस बात का एहसास दिलवाया था कि तुम बतौर असिस्टेंट निर्देशक अपना लक्ष्य भूल रहे हो, क्योंकि मेरा झुकाव  निर्देशन की तरफ ज्यादा होते जा रहा था” मॉय नेम  इज खान” के दौरान। रोहित का मानना था-कि यदि में इस दौरान अपने टेलेंट को नही दिखला पाया तो कभी भी अभिनेता नही बन पाऊँगा। मुझे इस बात की खुशी है कि -मुझे तुरतं, “स्टूडेंट ऑफ द ईयर” फ़िल्म के लिए करन जौहर ने चुुन लिया। मेरे भाई रोहित मेरी बेहतरी के लिए मुझे हमेशा प्रेरित करते  रहे।

 Rohit-Dhawan_Varun-Dhawan

डेविड धवन  (पापा) औऱ  भाई रोहित के  निर्देशन में क्या फर्क महसूस हुआ?

पापा अपने टाइम के बेहतर निर्देशक रहे है। आज बहुत बदलाव आ गया है। रोहित बाहर देश से अपनी पढ़ाई  लिखाई करके आये है सो बहुत ही व्यवस्तित है। उनकी बोंडेड स्क्रिप्ट मुझे दी उन्होंने औऱ कहानी को पढ़ने के बाद ही  मैने  उनके साथ काम करने की हामी भरी। उनका मुझ पर कोई भी दबाब नही था। रोहित ने बचपन से मुझे बहुत ही प्यार से देखा है। घर में छोटी-मोटी  लड़ाई हुआ करती थी। मेरी शैतानी की शिकायत मम्मी पापा को लगाने की धमकी हमेशा से दिया करते किंतु वो सब मेरी भलाई के लिए ही किया करते ।

Varun Dhawan_David dhawan

जॉन अब्राहम  के साथ काम कर रहे है क्या कहना है उनके बारे में?

फ़िल्म “देसी बॉयज” करने के बाद जॉन औऱ  रोहित की  काफी दोस्ती हो गयी। अक्सर जॉन रात के खाने पर हमारे घर आया  करते। आज स्क्रीन स्पेस शेयर करके मैं भी उनका दोस्त बन चुका हूँ। वोह फिल्मी बिल्कुल है। उन्हें मै “लोंडे के उपाधि देना चाहूंगा -वो आज भी मस्त मौला  है, फिल्मों के दौरान आप सभी को दिखलाई देंगे फिर  वोह अपनी लाइफ में व्यस्त एवम मस्त रहते है। जॉन औऱ मै सेट्स पर ढेर सारे जोक्स किया करते यहाँ तक  कि हम दोनों ने मिल कर रोहित के बारे में आपस  में शर्त भी लगा ली।

John Abraham_Varun dhawan

क्या शर्त लगाई थी हमसे शेयर करोगे?

 रोहित हमेशा 8/10 टेकस लिया करते। जॉन औऱ मेरी इसी बात पर शर्त लगा करती की आज इस सीन के लिए कितने टेकस लेगा रोहित । कभी मैं शर्त जीतता तो कभी जॉन। मैंने कम से कम 2000 रुपये जीत लिए थे। जीबी हम अबू दुबई गए तो मेरे जीते हुए पैसों से जॉन ने मेरी पसंदीदा शॉपिंग भी  करवाई। मैंने  भी जॉन को उसकी पसंदीदा,”प्रोटीन्स” पेश कर उसे खुश कर दिया। जॉन एक बहुत ही सिंपल एक्टर है उस के अंदर कोई भी घमंड या दिखावा नही है। वो आज भी  चप्पल पहन कर सारी  जगह घूमता फिरता है।

Varun Dhawan

आप कभी उनकी पत्नी  को मिले  है ?

जी हाँ मै उनके साथ औऱ  जॉन के साथ बहुत  बार खाने पर गया हूँ। उनकी पत्नी बहुत  ही सुशील, सुशिक्षित एवं इंटेलीजेंट है। वो खुशकिस्मत है कि उन्हें बहुत ही समझादार पत्नी  मिली है। दोनों में बहुत ताल मेल है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये