वरुण ग्रोवर ने गणतंत्र दिवस पर हुए उपद्रव के लिए महात्मा गांधी को बताया ज़िम्मेदार

1 min


Varun grover

मशहूर कॉमेडियन, लेखक और गीतकार वरुण ग्रोवर ने मंगलवार को हुए गणतंत्र दिवस पर मचे बवाल को लेकर ट्वीट करते हुए व्यंग्यात्मक रूप में मोहन दास करमचंद गांधी (राष्ट्रपिता) और पंडित जवाहरलाल नेहरू (देश के प्रथम प्रधानमंत्री) को इसका दोषी ठहराया।

हालांकि उन्होंने ये बात व्यंग्य के तौर पर कही थी लेकिन लोगों ने उनका जमकर मज़ाक उड़ान शुरू कर दिया। एक ट्वीटर अकाउंट ने तो वरुण के माँ-बाप पर भी कॉमेंट कर दिया।

इससे आहत होकर वरुण ने ट्वीट तो डिलीट नहीं किया लेकिन उसके रिप्लाई बंद कर दिए।

वरुण ने ट्वीट पर आने वाले सारे कमेंट्स / रिप्लाई बंद कर दिए हैं। आप इस ट्वीट का रिप्लाई नहीं कर सकते लेकिन लोग फिर भी इसे retweet करके अपनी बात रख रहे हैं। हालांकि वरुण किसी भी retweet का जवाब नहीं दे रहे हैं।

ज्ञात हो कि वरुण ग्रोवर वहीमशहूर लेखक हैं जिन्होंने गैंग्स ऑफ वसेपुर के गाने लिखे थे। उन्होंने मसान जैसी शानदार फिल्म भी लिखी थी और यशराज फिल्म्स की ब्लॉकबस्टर फिल्म दम लगा के हईशा के अवॉर्ड विनिंग गीत ‘यह मोह-मोह के धागे’ को रचने का श्रेय भी उन्हीं को जाता है। वरुण को इस गीत के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिल था।

कंगना ने किसानों को बताया आतंकवादी


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये