‘वेंकैया नायडू’ ने दिया इस्तीफा ‘स्मृति ईरानी’ को मिला ‘सुचना प्रसारण मंत्रालय’ का पद

1 min


केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया, स्मृती इराणी को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार दिया गया और नरेंद्र तोमर को शहरी विकास मंत्री बनाया गया। गौरतलब है कि पहले यह दोनों पद पहले वैंकैया नायडू के पास ही थे। तोमर वर्तमान में ग्रामीण विकास और पंचायती राज के केंद्रीय मंत्री हैं और स्मृति  वस्त्र उद्योग मंत्री हैं। 2016 में मंत्रिमंडल में फेरबदल में दोनों केंद्रीय मंत्रियों ने अपने पोर्टफोलियो खो दिए ईरानी को प्रकाश जवाडेकर को एचआरडी मंत्री के रूप में स्थान दिया गया था और पियूश गोयल को तोमर की जगह दी गई थी और उन्हें खान मंत्री का अतिरिक्त प्रभार दिया गया था। सोमवार को नायडू को अगस्त में उपाध्यक्षीय चुनाव के लिए एनडीए उम्मीदवार के रूप में चुना गया था। नायडू नामित होने का फैसला भाजपा संसदीय दल की बैठक में लिया गया था। प्रधानमंत्री मोदी कथित तौर पर नायडू को अपने मंत्रिमंडल छोड़ने की इजाजत नहीं दे रहे थे। हालांकि, अमित शाह ने अपना नामांकन जारी कर कहा कि पार्टी को राज्यसभा में अनुभवी हाथ की जरूरत है। नायडू, जिन्होंने 18 महीने की उम्र में ही अपनी मां को खो दिया था उन्होंने कथित तौर पर कहा: “मुझे लगता है कि मैं अपनी मां को छोड़ रहा हूं भाजपा हमेशा मेरे लिए माता रही है।” हालाँकि आज उन्होंने एनडीए के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए वेंकैया नायडू ने अपना नामांकन भर दिया है। इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह समेत कई दिग्गज मौजूद रहें। नामांकन भरने के बाद वेंकैया नायडू को पीएम मोदी ने बधाई दी। इससे पहले वेंकैया नायडू ने बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से मुलाकात की। वहीं, वेंकैया नायडू ने कहा कि मुझे खुशी है कि मुलायम सिंह जी ने अपना आशीर्वाद और समर्थन दिया। दरअसल, नामांकन भरने का आज आखिरी दिन है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये