न्यू कमर्स की फरिश्ता दीदी है विद्या बालन

1 min


आज की तारीख में, बॉलीवुड भरा पड़ा है फिल्म मेकर्स और स्टार के पुत्र पुत्रियों से, जिन्हें फिल्म मेकिंग का मौका जितनी आसानी से मिल जाता है उतनी ही आसानी से मिल जाता है हीरो या हीरोइन बनने का मौका, ऐसे में बाहर से आने वाले नये एक्टर एक्ट्रेस या लेखक, निर्देशक को बेसहारा जूझना पड़ता है इस बेदर्द फिल्मी जहान में जहाँ कोई किसी को आगे बढ़ने का मौका ही नहीं देता। लेकिन चन्द लोग यहां ऐसे भी है जो इन न्यू कमर्स के लिए फरिश्ते बन जाते हैं और इन फरिश्तों में एक है विद्या बालन वह जानती है कि बॉलीवुड में बिना गॉड फादर और बिना किसी पहचान के काम पाना कितना मुश्किल है, क्योंकि खुद भी वह इस दौर से गुजर चुकी है, इसलिए अब वह हर न्यू कमर की मदद करती है, उन्हें सही गाइडेन्स देती है और समझाती है कि हड़बड़ी में उल्टी सीधी फिल्में साइन ना करे, फालतू रोल ठुकरा कर सही मौके का इंतजार करें। नये लेखक निर्देशक की स्क्रिप्ट विद्या वक्त निकाल कर सुनती भी है, अगर बहुत व्यस्तता हो तो न्यू कमर्स को कुछ समय बाद आने को कहती है पर उन्हें निराश नहीं करती है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये