लफड़ा हीरोइन के मेकअप का

1 min


images

 

 

ऊंची स्टूल पर कैमरा मुंह की तरफ बाए को तैयार बैठा था!.. लाईट के फोकस आंखे फाड़े खड़े थे, हीरो गपबाजी से तंग आ कर अलग बैठा पांच सौ पचपन की सिग्रेट फूंक रहा था। उसका फिल्म बाप धोती टोपी में लैस बीड़ी फूंक रहा था! असिस्टेंट डायरेक्टर स्क्रिप्ट संभाले जुम्हाईयां तोड़ रहा था! सेट पर अलग बैठे एकस्ट्रा भी एकस्ट्रानियों से हंसी मजाक निपटा कर ऊंघ रहे थे सब कुछ तैयार था हीरोइन के मेकअप के सिवा डायरेक्टर और मेकअप मैन रूम में पसीना-पसीना हो रहे थे। मगर बत्तीस वर्षीय हीरोइन अड़ी थी कि मै सत्तरह की नही नज़र आ रही हूं.. ड्रेस सप्लायर की दी हुई भरपूर टाइट ड्रेसों के बावजूद वह गुड़ का बोरा नज़र आ रही थी.. मेकअप मैन ने नाक का मेकअप दोबारा सही किया और मन ही मन प्रार्थना की माता जी अब तो तैयार हो जाओ शॉट के लिये!

हाय पोपट लाल! तुम मेकअप मैन हो या चिलगोज़े? यह मेरी नाक को क्या कर दिया?.. अब तो मैं आईने में अपनी ही मौसी जी जैसी नज़र आ रही हू! वह सुबकने लगी नी चम्पाकलिये, चुप हो जा तेरी नाक नूं कुछ नही होया चल, छेती कर डायरेक्टर ने उसे प्यार से समझाया!

नाक का चिंता काए कू करता है, बाई शॉट तो हो जाने दे गड़बड़ हो गया तो इस सीन से तेरी नाक काट देंगे.. खाली पीली काए को टाइम खलास करता? पोपट लाल ने पुचकार कर दिलासा दिया लेकिन इतने भारी मेकअप में मेरी कमर कैसी भद्दी लग रही है पब्लिक मेरा डांस देखेगी तो बोलेगी कि यह कमर है कमरा? बेबी प्लीज हुण तुस्सी शॉट दै छड़ो.. तेरी कमर एकदम मोरा वर्गी मने मोरनी टाइप है मैं वारी जावां रब दी सौ, कैमरे नूं वो हार्ट अटैक होन लगेगा.. डायरेक्टर ने पंजाबी में मक्खन मारा

अपुन तो बाइ गॉड अक्खा लाइफ में डेढ़ हजार कमर देखेला है, पन ऐसा माफिक कब्बी नई तेरी कमर के आगू किलोपेट्रा भी बंडल है चल, शॉट रेडी है पोपट लाल ने डबल मस्का मारा!

हाय सच? मेरी कमर इतनी अपीलिंग है ?.. मम्मी भी यही बोलती है कि तेरी कमर बड़ी प्यारी है बत्तीस वर्षीया हीरोइन बेबी मारे खुशी के ग्यारह साल की हो गयी पर दूसरे ही क्षण आईने में अपनी आंखे देख कर भुनभुना उठी

पोपट भाई, मेरी देख ठीक नहीं है.. मेकअप ठीक करो बुझी हुई लालटेन जैसी लग रही है इनमें चमक पैदा करो.. इतनी भद्दी आंखो से मैं पनघट पर नैन बान कैसे चलाऊंगी? पब्लिक समझेगी कि हीरोइन भंगी है थोड़ा सुरमा सलाई और ठीक करो!

पोपट लाल ने छटांक छटांक सुर्मा दोनों आंखो में पुन: डाल दिया और बोला

चलो बेबी अभी तेरी दोनों आंख लोडेड गन माफिक खतरनाक लग रही हैं.. पोपट ने कहा

हाय रे इतना सुर्मा?.. बच्चे मुझें पर्दे पर देख कर डर जायेंगे थोड़ा सुर्मा कम करो.. हाय मैं सत्तरह की नही लग रही हूं.. मुझसे अच्छा मेकअप तो मेरी मां का रोल करने वाली एक्स्ट्रा का है कही हीरो उसी पर मर मिटा, तो?

हीरो का बाप भी तेरे पर मरेगा.. उसे पैसे तेरे पर मरने के मिले हैं तू चल बाबा, शॉट दे.. बाई गॉड तू एकदम पन्द्रह साल की लग रही है पोपट झल्ला गया नही, पोपट, नही मेरे को मस्का मत मारो मेकअप ठीक करो मैं सत्तरह की नही लग रही हूं.. मुझें ऐसा बना दो कि पर्दे पर मुझें देख कर पब्लिक दनादन सीटियां बजाने लगे.. मेरा थोबड़ा मेरी मम्मी जैसा लग रहा है नाक पकौड़ा हो रही है.. गाल थुल थुले से लग रहे हैं मेरी पहली फिल्म बलम कन्कईया देखी थी? हाय, मैं कैसी कड़क दिखती थीं

पोपट लाल के जी में आया कि कह दे कि बेबी तब तू सत्तरह की थी? अब बत्तीस की है मगर चुप रहा सारा यूनिट परेशान था

तभी अचानक एक फिल्मी पत्रकार चम्पा कली का इंटरव्यू लेने आ गया चम्पा कली एक खास अदा से मुस्कुरा कर इंटरव्यू देने लगीं… और आपकी उम्र? पत्रकार ने पूछा

इक्कीस पूरे कर रही हूं चम्पा कली शर्मा गयी

भई प्लीज झूठ न बोलिए आप सत्तरह साल से एक घंटा ज्यादा नही लगती हैं..एकदम बेबी हैं पत्रकार ने कहा!

हाय सच?..आप बड़े वो हैं चम्पाकली उछली कर सेट पर जा पहुंची.. और शॉट मुकम्मल हो गया

मेकअप मैन पोपट लाल रह-रह कर डायरेक्टर जुगाली राम का मुंह चूम रहा था क्या दिमाग पाया है नकली पत्रकार भेज कर पलक झपकते ही हीरोइन को शॉट देने पर राज़ी कर लिया… जुगाली राम जिंदाबाद!


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये