Rashmi Rocket के वर्ल्ड टेलीविजन प्रीमियर के साथ देखिए लड़ाई आत्म-सम्मान की

1 min


दृढ़ निश्चय, संघर्ष, सच्चाई और सम्मान की एक बेमिसाल कहानी के साथ ज़ी सिनेमा सिनेमा एक बार फिर बंदिशों को तोड़ने के लिए तैयार है। ये एक महिला एथलीट की कहानी है, जो अपने आत्म-सम्मान और पहचान के कड़े संघर्षों से गुजरती है। एक महत्वपूर्ण मुद्दे पर रोशनी डालती और समाज के नियमों पर सवाल उठाती तापसी पन्नू की फिल्म रश्मि रॉकेट (Rashmi Rocket) का प्रीमियर ज़ी सिनेमा पर 27 नवंबर को रात 8 बजे होने जा रहा है।

शानदार स्टोरी टेलर आकाश खुराना के निर्देशन में बनी इस फिल्म को आईएमडीबी पर 7.7 की रेटिंग मिली है। यह फिल्म टैलेंटेड तापसी पन्नू यानी निडर रश्मि वीरा, एक वकील की भूमिका निभाने वाले अभिषेक बनर्जी और पूरी हिम्मत के साथ रश्मि का साथ देने वाले प्रियांशु पैन्युली की विश्वसनीय परफॉर्मेंस की शानदार मिसाल है। इस फिल्म में सुप्रिया पाठक ने रश्मि की मां और सुप्रिया पिलगांवकर ने एक जज के रूप में दमदार महिला किरदारों की भूमिकाएं निभाई हैं।

रश्मि रॉकेट सिर्फ हार जीत या एक एथलीट के सफर की कहानी नहीं है, बल्कि यह छोटे शहरों की उन असंख्य महिलाओं की आवाज है, जो असमानता और पक्षपात का सामना कर रही हैं। यह लीगल ड्रामा व्यवस्था के खिलाफ एक जंग है, जिसमें महिला एथलीट के लिए बनाए गए बेतुके नियमों को कोर्ट में चुनौती दी जाती है, जिसके बाद दुनिया में हमेशा के लिए खेल के नियम बदल दिए जाते हैं। एक अनछुए विषय को टटोलती एक दमदार कहानी और प्रभावशाली परफॉर्मेंस के साथ यह फिल्म अंत तक दर्शकों को जागरूक और शिक्षित बनाने के साथ-साथ उनका मनोरंजन करने का वादा करती है।

रश्मि रॉकेट कच्छ की रहने वाली एक बिंदास लड़की रश्मि वीरा की कहानी है, जिसका बचपन बड़े बेपरवाह अंदाज में गुजरा। उसके मां-बाप ने उसे अपनी हदों से आगे बढ़कर एक वर्ल्ड एथलेटिक चैंपियन बनने में हमेशा उसका साथ दिया। हालांकि उस वक्त उसका करियर समाप्ति की कगार पर आ जाता है, जब वो अपनी सहयोगी महिला एथलीटों के द्वारा लैंगिक भेदभाव का शिकार बन जाती है। इसके बाद उसका असली सफर शुरू होता है, जिसमें वो तमाम बंदिशों को तोड़कर न्याय के लिए लड़ती है।

तो आप भी इस मजेदार सफर के लिए तैयार हो जाइए! देखिए रश्मि रॉकेट 27 नवंबर को, रात 8 बजे सिर्फ ज़ी सिनेमा पर!

SHARE

Mayapuri