2021 में कलाकारों की आमदनी पर कितना असर पड़ेगा?

1 min


karan johar

कोरोना महामारी के बाद पूरे विश्व में लाॅक डाउन लगाया गया। पिछले दो तीन माह से हालात कुछ सुधर रहे थे।

उधर कोविड-19 वैक्सीन के आने की खबर आ गयी है। कुछ फिल्मों की शूटिंग भी षुरू हो गयी है।

लेकिन 20 दिसंबर से अमरीका व इंग्लैंड के साथ पूरा यूरोप एक नए वायरस की चपेट में आ गया है। जिसका डर भारत तक पहुँच गया है।

इसके परिणाम किसी भी सूरत में अच्छे नहीं हो सकते।

शान्तिस्वरुप त्रिपाठी

2020 की ही तरह 2021 में भी हर कलाकार की आमदनी आधे से भी ज्यादा कम हो जाने वाली है

Movies in Lockdown

एक तरफ अभी तक सभी कंपनियां अपना काम षुरू नहीं कर पायी हैं तो दूसरी तरफ कोरोना महामारी की वजह से अखबार व पत्रिकाओं की छपायी व वितरण पर काफी असर पड़ा है।
जिसके चलते अब अखबार व पत्रिकाओं यानी कि प्रिंट में विज्ञापन नहीं छप रहे हैं। जिसका असर कई कलाकारों व माॅडलों पर पड़ा है।
पिछले नौ माह से किसी भी कलाकार या माॅडल ने किसी प्रिंट एड के लिए फोटो शूट यानी कि अभिनय नहीं किया है। यानी कि ‘प्रिंट एड’ से होने वाली इनकी आमदनी एकदम से बंद हो गयी है।
एक अनुमान के अनुसार 2020 की ही तरह 2021 में भी हर कलाकार की आमदनी आधे से भी ज्यादा कम हो जाने वाली है।
जब तक हर कंपनी अपना प्रोडक्षन पूरी तरह से नहीं शुरू कर देती, तब तक वह अपने प्रोडक्ट के लिए ब्रांड अम्बेसेडर या विज्ञापन के लिए किसी कलाकार को पैसे नहीं देगी।
इस तरह ब्रांड अम्बेसेडर बनने या प्रोडक्ट के लिए विज्ञापन व माॅडलिंग कर कलाकारों की जो आय होती थी, उस पर लगभग पूर्णविराम लग चुका है।
इतना ही नहीं कई कलाकार दूसरों की शादी व अन्य कार्यक्रमों में शिरकत कर,डांस कर लंबी चौड़ी रकम कमाते थे, फिलहाल उस पर भी पूर्ण विराम लग चुका है।
इसके अलावा नई दुकान, नए शोपिंग माॅल आदि के खुलने पर कलाकार इनके शुभारंभ का रिबन काटकर भी पैसा कमाया करते हैं, उस पर भी फिलहाल पूर्ण विराम ही लगे रहने की संभावनाएं नजर आ रही है।
हमें पता है कि कई कलाकार महज एक फिल्म या एक सीरियल में अभिनय करने के बावजूद हर वर्ष करोड़ो रूपए विज्ञापन, रिबन काटकर या शादी व्याह वगैरह में डांस कर कमाया करते थे।
कुछ कंपनियां तो अपने प्रोडक्ट को प्रचारित करने के लिए कलाकारों के देश विदेश भ्रमण की ट्रिप स्पाॅसर्ड करते थे, अब उस पर भी लगाम लग गयी है।
इतना ही नहीं कोरोना का डर यदि इसी कदर बना रहा , तो उस अनुपात में फिल्में भी नहीं बनेंगी, जिस अनुपात में बनती रही हैं।

टीवी सीरियलों के बजट में कटौती के साथ ही कलाकार की पारिश्रमिक राशि पर कैंची चल चुकी है

Tv Serials
इसका असर कलाकार की कमाई पर पड़ेगा। इसके अलावा हर फिल्म का बजट कम किए जाने से हर कलाकार की पारिश्रमिक राशि में भी कटौती की गयी है।
टीवी सीरियलों के बजट में कटौती के साथ ही कलाकार की पारिश्रमिक राशि पर कैंची चल चुकी है।
इस तरह देखा जाए,तो 2021 में भी कुछ कलाकारों की कमायी पचास प्रतिशत, मगर ज्यादातर कलाकारों की कमाई अस्सी प्रतिशत कम होने की उम्मीद नजर आ रही है।
यह हर किसी के लिए दुःखद स्थिति है। क्योंकि जब इन कलाकारों की कमाई कम होगी,तो स्वाभाविक रूप से इसका असर कई रूपों में नजर आएगा।
अब यदि कलाकार की आमदनी कम हो जाएगी, तो स्वाभाविक तौर पर मैनेजर, पीआर आदि की लंबी चैड़ी फौज को कम करने का प्रयास कर सकता है।
इसलिए हर कोई यही चाहता है कि हालात जल्द से जल्द सुधरें।
इस हालात के चलते कलाकारों के बिजनेस को संभालने वाली सभी सेलिब्रिटी मैनेजमेंट कंपनियों के माथे पर भी सिलवटें आ चुकी है।
अब हर सेलब्रिटी मैनेजमेंट कंपनी अपने कलाकारों के हित में सोचने पर विवश हैं। इस संबंध में सेलेब्रिटी मैनेजमेंट कंपनी के मालिक अतुल कस्बेकर कहते हैं- ‘‘हमारी कंपनी सारे बदलाव पर नजर रखे हुए हैं।
अब विज्ञापन जगत में बदलाव यह आया है कि अब सिर्फ डिजिटली विज्ञापन ही प्रसारित हो रहे हैं, ऐसे में अब प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी चाहती हैं कि उसके प्रोडक्ट का विज्ञापन उस उम्र के लोगों तक पहुंचे।
ऐसे में यह देखा जाता है कि किस कलाकार के फेसबुक या इंस्टाग्राम पर उस उम्र के फाॅलोवर्स कितने हैं। अब किसी भी अखबार में पूरे पन्ने का विज्ञापन कोई कंपनी नहीं दे रही हैं।
ऐसे में हम अपनी कंपनी के कलाकारों के लिए ‘डिजिटल डील‘ ही ज्यादा कर रहे हैं । मसलन, दो चार माह पहले हमने करण जौहर की गोदरेज हेयर डाई वाली एड की है।
‘ग्रे‘ बालों का डाई करने की बात है। कलाकारों के बड़े एंडोर्समेंट, फीता काटना वगैरह सब बंद हो चुका है । अब शादी में जाना सहित ‘अपियरेंस मनी‘ गायब हो गयी है।
अब सिर्फ डिजिट डील ही कर रहे हैं हर छोटा बड़ा कलाकार भी समझता है कि पिछले वर्ष उनकी जो कमाई थी, वह इस वर्ष नहीं रहने वाली। इसमें कोई कुछ नहीं कर सकता।’’

SHARE

Mayapuri