जब फिरोज खान ने अमिताभ बच्चन को फोन किया

0 507

अली पीटर जॉन

ये उस वक्त की बात है जब अमिताभ बच्चन ने फिल्मों से ब्रेक ले लिया था और वह ज्यादा समय ‘प्रतीक्षा’ अपने घर की देखभाल में बिताते थे और जया चिल्ड्रन फिल्म सोसायटी की चेयरपर्सन के रूप में कार्यरत थी और उसी में व्यस्त रहती थी। अमिताभ बच्चन रातों में मुंबई के उन जगहों को देखने निकल जाते थे जो उन्होंने पहले नहीं देखी थी जैसे मोहम्मद अली रोड,  नल बाजार, भिंडी बाजार सहित कई ऐतिहासिक जगह  जहां उन्हें जाने का मौका नहीं मिला था जब वो एक व्यस्त ‘एंग्री यंग मैन’ थे । वो कभी कभी घर पर ही काम करने वाले सेवकों से घंटों बातें कर समय बिताते थे। उस वक्त अभिषेक और श्वेता विदेश में पढ़ाई कर रहे थे।

मैं अमिताभ के साथ एक दोपहर बैठा हुआ था। उनको एक फोन कॉल आया जिसे उठाकर वो बहुत ही उत्साहित दिख रहे थे। उन्होंने मेरे कान में कहा, ‘सॉरी अली  फिरोज खान हैं लाइन पर और वो मुझसे तुरंत मिलना चाहते हैं। ‘उन्होंने मुझसे माफी मांगी और तुरंत थियोसॉथिसल कॉलोनी, जूहू के लिए निकल पड़े जहां फिरोज खान का घर था। यह घर किसी शेख के महल से कम नहीं था।

दोनों की मीटिंग बहुत लंबी चली। फिरोज खान अमिताभ बच्चन के साथ एक फिल्म बनाना चाहते थे। और अमिताभ इस बात को लेकर बहुत ज्यादा एक्साइटेड थे ।  पर किस्मत में कुछ और ही कहानी लिखी थी। इस मीटिंग के बावजूद कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकला। फिरोज और अमिताभ ने कभी साथ काम नहीं किया। मैंने यह कहानी इसलिए सुनाई क्योंकि लोग जानें कि अमिताभ बच्चन अपने सीनियर्स की कितनी इज्जत करते थे। ये गुण उन्होंने अपने पिता से सीखी है जिनको अमिताभ अपना हीरो मानते हैं।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

Advertisement

Advertisement

Leave a Reply