माधुरी फिर क्यों दूर हैं ‘बेटी बचाओ’ कैम्पेन से

1 min


madhuri
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब हरियाणा के सोनीपत से ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ की मुहिम शुरू किया था, इस कैम्पेन की अम्बेसडर बनकर वहां पहुंची माधुरी दीक्षित लोगों के लिए खास आकर्षण थी। सोचा जा रहा था कि माधुरी वहां पहुंच गई तो प्रदेश में बेटियां ही बेटियां दिखाई देंगी (माफ करियेगा वहां लड़कियों का अनुपात कम है) मगर वैसा कुछ दोबारा नहीं हुआ और ना ही कहीं और माधुरी गई भी! अब कहा जा रहा है कि अगर माधुरी को फिर कहीं बुलाया गया तो ‘बेटी बचाओ…’ का सारा फंड माधुरी को पीएम के साथ शामिल कराने के लिए उन्हें दस लोगों की सुविधाएं मुहैया कराई गई थी। यानि- दस गाड़ियां माधुरी के काफिले के लिए, दस कमरे (फाइव स्टार में) और इतने ही रेगुलर-गार्ड। इसके बाद भी पुलिस प्रोटेक्शन की भगदड़ हो गई थी। उनको जाने के लिए रकम कितनी दी गई थी, यह पता नहीं चल पाया है। यानि- अब आप जान गये होंगे कि माधुरी को ‘बेटी बचाओ’ कैम्पेन से दूर क्यों रहना पड़ रहा है।
शिवजी भाग रहे हैं विवाह से…

SHARE

Mayapuri