क्यों नरगिस दत्त को लगने लगा था कि उनके बेटे संजय दत्त गे हैं ?

1 min


संजय दत्त गे हैं

क्यों दोस्तों के आने पर अपने कमरे का दरवाजा लॉक कर लेते थे संजय दत्त ?

बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त अपने पिता सुनील दत्त और मां नरगिस दत्त के बेहद करीब थे। आज भी संजय दत्त उन्हें बहुत याद करते हैं और कई बार फैंस के साथ उनकी यादें भी शेयर करते हैं। संजय दत्त के अलावा उनकी 2 बहनें भी हैं। प्रिया दत्त और नम्रता दत्त। संजय दत्त ने अपनी मां के गुजर जाने के बाद बॉलीवुड में एंट्री की थी। हाल ही में उनकी बहन प्रिया दत्त ने अपनी बायोग्राफी में संजय दत्त से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा बताया है। उन्होंने बताया कि उनकी मां नरगिस दत्त को ऐसा लगने लगा था कि संजय दत्त गे हैं।

संजय को चप्पल से मारती थीं नरगिस

प्रिया दत्त ने बताया कि जब संजय छोटे थे तो नरगिस दत्त उनके साथ बहुत स्ट्रिक्ट हुआ करती थी, लेकिन वो उनसे इतना प्यार करती थीं कि कुछ ही देर बाद उनकी हर बात मान लेती थीं। यहां तक कि कई बार जब नरगिस, संजय से गुस्सा होती थीं तो उन्हें उल्लू, गधा बोलती थी और चप्पल तक फेंक कर मार देती थीं। प्रिया ने अपनी बायोग्राफी में बताया है कि एक बार उन्होंने अपनी मां को अपनी दोस्त से कहते सुना था कि, जब भी संजय के दोस्त आते हैं तो उसका कमरा लॉक क्यों होता है ? पता नहीं क्या वजह है ? उम्मीद करती हूं कि कहीं वो गे न हो ? यही वजह है कि नरगिस दत्त को लगने लगा था कि संजय दत्त गे हैं।

संजय पर बहुत भरोसा करती थीं नरगिस

नरगिस दत्त,  संजय दत्त को जितना प्यार करती थीं, उन पर वो उतना ही भरोसा भी करती थीं। प्रिया दत्त ने अपनी किताब में इस बात का भी खुलासा किया है कि उनकी मां नरगिस दत्त को कभी इस बात पर यकीन नहीं हुआ कि संजय को ड्रग्स की लत लग गई है। जब भी कोई उनसे संजय के बारे में बात करने की कोशिश करता था, तो वो यही कहती थीं कि मेरा बेटा कभी शराब नहीं पीता और ड्रग्स को हाथ नहीं लगाता। बता दें कि कैंसर की वजह से 3 मई 1981 को नरगिस दत्त का निधन हो गया था।

ये भी पढ़ेंक्या मिस इंडिया फिनाले में सुष्मिता सेन का गाउन पर्दे के कपड़े से बना था ?


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये