क्या सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के पीछे का सच सामने आएगा..

1 min


बाॅलीवुड के एक सशक्त अदाकार सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को अपने घर में पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली, जिससे उनके परिवार के सदस्यों के साथ साथ उनके दोस्त, प्रशंसक तथा पूरा बाॅलीवुड सदमे में है। सुशांत सिंह राजपूत द्वारा आत्महत्या करने की बात लोगों के गले नहीं उतर रही है। वास्तव में सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या करने से पहले अपना कोई ‘सुसाइड नोट’नही छोड़ा है, इस वजह से भी मामला पेचीदा हो गया है। उधर सुषांत सिंह राजपूत के पारिवारिक सदस्य इसे हत्या की संज्ञा दे रहे हैं। तो दूसरी तरफ कंगना रनौत, शेखर कपूर सहित कुछ फिल्मी हस्तियों ने नेपोटिज्म और व्यवसायिक प्रतिद्वंदिता का मुद्दा उठाया है. जिसके चलते महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने इस दृष्टिकोण से भी पुलिस को जाॅच करने के आदेश दिए हैं.अब पुलिस कई पहलुओं पर जाॅंच कर रही है.सूत्रों के अनुसार पुलिस अब तक फिल्म‘दिल बेचारा’के निर्देशक व कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा, सुशांत सिंह राजपूत की दोस्त रिया चक्रवर्ती सहित तकरीबन दस लोगों से पूछताछ कर चुकी है.तो वहीं पुलिस सुशांत सिंह राजपूत के घर से उनका मोबाइल फोन, लैपटैप,पांच डायरियां आदि बरामद कर जाॅंच को आगे बढ़ा रही है.मगर अभी तक सुशांत सिंह राजपूत के डिप्रेशन में होने और आत्महत्या करने की वजह स्पष्ट नही है.

Sushant Singh Fan Suicide

 

परिवार ने की सीबीआई जांच की मांगः
सुशांत सिंह राजपूत के ममेरे भाई अनुज सिंह ने न्यायिक जांच की मांग की है.तो वहीं उनके पिता के के सिंह तथा चचेरे भाई नीरज सिंह बबलू,जो कि बिहार में भाजपा के विधायक हैं,ने भी सीबीआई जांच की मांग की है.पुलिस को दिए बयान में सुशांत सिंह राजपूत के पिता के के सिंह ने इस बात से इंकार किया है कि उनका बेटा डिप्रेशन में था.जबकि सुशांत की एक बहन मीतू सिंह ने बयान दिया है कि उनका भाई डिप्रेशन में था और छह माह से उसका इलाज चल रहा था.मगर  सुशांत सिंह राजपूत की बड़ी बहन रितू सिंह,जिनके पति ओम प्रकाश सिंह हरियाणा में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के विशेष कर्तव्य (ओएसडी)अधिकारी हैं,ने भी शक जाहिर किया है.रितू सिंह का मानना है कि उनका भाई आत्महत्या नहीं कर सकता,बल्कि उसकी हत्या की गयी है.वह जानना चाहती हैं कि उसकी हत्या किसने की?

जांच का जिम्मा अपराध शाखा को
सुशांत सिंह राजपूत के पारिवारिक सदस्यों की माॅंग को देखते हुए मुंबई पुलिस आयुक्त परवीर सिंह ने 14 जून की देर रात सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या की जांच अपराध शाखा को सौंप दी थी.उसके बाद मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने रविवार रात में सुशांत सिंह राजपूत के घर जाकर नए सिरे से जाॅंच करते हुए सुशांत का स्मार्ट फोन,लैपटाप के अलावा उनके कमरे से कई दूसरे दस्तावेज भी अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी.जबकि फोरेंसिक टीम दो बार  सुशांत सिंह राजपूत के घर जाकर अपने हिसाब से सबूत जुटा चुकी है।

पोस्टमार्टम रिपोर्टः
मुंबई के कूपर अस्पताल में सुशांत सिंह राजपूत के शव का पोस्टमार्टम किया गया.पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार उनकी मौत दम घुटने से हुई.पर मुंबई पुलिस बड़ी सतर्कता के साथ जाॅंच में जुटी हुई है.सुशांत सिंह राजपूत के विसरा को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जा चुका है.तो वहीं पुलिस तमाम लोगों से पूछताछ कर रही है.

अब तक मिली जानकारी के अनुसार पुलिस ने उस डाॅक्टर से भी पूछताछ की है,जिससे सुशांत सिंह राजपूत अपने डिप्रेशन का इलाज करा रहे थे.इसके अलावा घर के दोनों रसोइए,नौकर दीपेश सावंत और उनके मित्र सिद्धार्थ पठानी से भी पूछताछ हो चुकी है.

निजी जीवन के रिश्तेः
सुशांत सिंह राजपूत को नजदीक से जानने वालों की माने तो सुशांत की अपनी निजी जिंदगी बहुत सहज तरीके से आगे नहीं बढ़ रही थी.उनकी निजी जिदंगी में कई तरह की मुसीबतें थी. टीवी सीरियल ‘‘पवित्र रिश्ता’’ से अंकिता लोखंडे और सुशांत सिंह राजपूत दोनों को सफलता मिली. इसी सीरियल में रोमांटिक जोड़ी के रूप में उभरे और अभिनय करने के दौरान दोनों के बीच एक रिश्ता कायम हो गया था, जिसे बाद में दोनो ने स्वीकार भी किया था.लगभग 7-8 वर्षो तक दोनों एक साथ रहे.अंकिता लोखंडे के साथ रिश्ता खत्म होने तक सुशांत सिंह राजपूत उनके घर में ही रहा करते थे.अंकिता लोखंडे के साथ संबंध खत्म होने के बाद कुछ अभिनेत्रियों से उनके रिश्ते के जुड़ने की खबरें भी आयी थी,पर वो रिश्ते कुछ माह में ही खत्म हो गए थे.

फिल्म ‘राब्ता’’के बाद से कृति सेनन के साथ उनके रिश्ते चर्चा में रहे, पर जल्द ही इस पर विराम लग गया.पिछले एक वर्ष से अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती के साथ उनके रिश्तों की चर्चा रही है.यह एक अलग बात है कि सुशांत सिंह राजपूत या रिया चक्रवर्ती ने कभी भी रिश्ते की बात कबूल नही की.अब इनके बीच सिर्फ दोस्ती थी या नहीं..यह तो रिया ही बता सकती हैं. उधर सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पठानी ने कहा है कि रिया चक्रवर्ती,सुशांत सिंह के साथ ही रहती थीं और कुछ दिन पहले दोनों के बीच झगड़ा हो गया था.तो वहीं सुशांत के रिश्तेदार व उनके पिता दावा कर रहे हैं कि सुशांत सिंह नवंबर माह में विवाह करने वाले थे.किससे यह किसी को नही पता.इसीलिए नवंबर में उनके पिता मुंबई आने वाले थे.सूत्र दावा कर रहे हैं कि पिछले दो माह से रिया के साथ कुछ अनबन चल रही थी.रिया से अनबन के बाद सुशांत सिंह राजपूत ने अपने पिता को फोन करके जल्दी मुंबई आने के लिए कहा था.पर उनके पिता मुंबई आते, उससे पहले ही सुशांत सिंह राजपूत ने इस संसार को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया.इस तरह देखा जाए,तो सुशांत सिंह राजपूत निजी जीवन के यह जटिल रिश्ते भी उनके डिप्रेशन में जाने और उनका डिप्रेशन बढ़ाने की वजह हो सकती है.सूत्रों के अनुसार सुशांत सिंह राजपूत का इलाज कर रहे डॉक्टर ने भी पुलिस को दिए अपने बयान में इस ओर इशारा किया है.अब पुलिस इस दृष्टिकोण से भी जाँच कर रही है कि 34 वर्ष की उम्र में भी निजी जीवन में स्थिरता ना होने की वजह से तो सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन का शिकार नही हुए.

आर्थिक हालातः
इसके अलावा डिप्रेशन की दूसरी वजह उनके आर्थिक हालात हो सकते हैं.2013 में फिल्म‘‘काई पो छे’’से उन्होने फिल्मों में कदम रखा था.मगर टीवी से फिल्मों में कदम रखने वाले कलाकारों को फिल्मों में उस तरह की पहचान नही मिलती है,जिस तरह की पहचान की अक्सर उन्हें उम्मीद होती है.क्योंकि टीवी पर वह स्टारडम का स्वाद चख चुके होते हैं.

उपरी स्तर पर हम सभी देख रहे थे कि सुशांत सिंह राजपूत फिल्मों में सफल हो गए हैं.उनका करियर अच्छा चल रहा है.मगर हमें यह नही भूलना चाहिए कि बाॅलीवुड जैसी ग्लैमर की दुनिया में एक कलाकार को अपना स्टेटस मेनटेन करने के लिए काफी पैसे खर्च करने पड़ते हैं.फिल्मों में आने के साथ ही इंसान की जीवन शैली पूरी तरह से बदल जाती है.ऊपर से सफल और खुशहाल नजर आने वाला कलाकार अंदर से किस तरह के आर्थिक हालात से गुजर रहा है, इसकी भनक किसी को नही लगती.हर कलाकार के पास घरेलू नौकर के अलावा ड्राइवर, पी आर मैनेजर, बिजनेस मैनेजर, सेक्रेटरी सहित एक लंबी चौड़ी फौज रहती है, जिसके लिए हर माह पैसे खर्च करने पड़ते हैं.हमें याद रखना चाहिए कि फिल्म कलाकार को मासिक वेतन नही मिलता है. उनको प्रति फिल्म पारिश्रमिक राशि मिलती है.उनकी पिछली फिल्म‘‘छिछोरे’’नौ माह पहले रिलीज हुई थी,तो मान कर चलें कि इसकी पारिश्रमिक राशि उन्हें एक साल पहले मिल गयी होगी.

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

उनकी नयी फिल्म ‘दिल बेचारा’ की शूटिंग भी उससे पहले पूरी हो गयी थी. मुकेश छाबड़ा निर्देशित फिल्म‘‘दिल बेचारा’’पहले 29 नवंबर 2019 को रिलीज होने वाली थी. पर नहीं हो पायी थी. फिर 8 मई को रिलीज होने वाली थी,मगर लाॅक डाउन व सिनेमाघर बंद होने के चलते नही हो पायी.अब इसे‘हाॅट स्टार डिजनी’पर रिलीज करने की तैयारी है.इस बात की घोषणा सोमवार,15 जून को ट्वीट कर सुशांत सिंह राजपूत करने वाले थे,मगर उससे पहले ही वह इस संसार को अलविदा कह कर चले गए.कुल मिलाकर पिछले एक वर्ष से सुशांत सिंह राजपूत के पास काम नहीं था.‘कोरोना’के चलते पिछले तीन माह से सब कुछ बंद चल रहा था.किसी को कोई पैसे नही मिल रहे थे.तो स्वाभाविक सी बात है कि सुशांत सिंह राजपूत के पास भी पैसे नही आए होंगे .जबकि एक कलाकार होने के नाते उनके खर्चो में कोई कटौती नहीं आयी होगी.क्योकि ग्लैमर की इस दुनिया में हर किसी को दिखावा तो करना ही पड़ता है.बाॅलीवुड में किसी कलाकार को देखकर उसकी आर्थिक हालत का अंदाजा लगाना सही नही होता.कोई भी कलाकार इस संबंध में अपने करीबी दोस्तों से भी बात नही करता है.

उधर सुशांत सिंह राजपूत के एक नौकर के अनुसार आत्महत्या करने से तीन दिन पहले सुशांत सिंह ने एक नौकर से कहा था कि उन्होने सभी का कर्ज चुका दिया.पर वह नौकरों को वेतन दे पाएंगे या नही,उन्हे पता नही.अब इसके क्या अर्थ निकाले जाएं.मगर सुशांत सिंह की बहन का दावा है कि वह आर्थिक संकट से नहीं जूझ रहे थे.

आर्थिक संकट
धीरे धीरे यह बात भी सामने आ रही है कि फिल्म‘‘छिछोरे’’को मिली अपार सफलता के बावजूद सुशांत सिंह राजपूत पिछले लंबे समय से आर्थिक संकट से जूझ रहे थे. तो वहीं कंगना रनौत व शेखर कपूर सहित कुछ फिल्मी हस्तियां दावा कर रही हैं कि 2018 में उनके पास सात बडे़ बजट की फिल्में थी.पर धीरे धीरे उनके हाथ से यह सभी फिल्में निकल गयीं. सुशांत सिंह राजपूत ने अपनी ख्वाहिशों में ‘नासा’का जिक्र किया है.तो प्राप्त जानकारी के अनुसार इरोज इंटरनेशनल एक फिल्म ‘‘चंदामामा दूर के’’का निर्माण करने वाला था,जिसमें मुख्य भूमिका निभाने के लिए सुशांत सिंह राजपूत को चुना गया था.इस फिल्म की काफी शूटिंग ‘नासा’में होनी थी.उन दिनों यह खबर भी आयी थी कि इस फिल्म की तैयारी के लिए सुशांत सिंह राजपूत अमरीका,नासा गए थे. पर बाद में कहां क्या गड़बड़ी हुई पता नहीं,पर इस फिल्म से उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था.उसके बाद यह फिल्म हमेशा के लिए बंद हो गयी.इसी तरह शेखर कपूर के निर्देषन में बनने वाली फिल्म‘पानी’भी बंद हो गयी थी.

सपना भवनानी का ट्वीट
वहीं मशहूर हेयर स्टाइलिश सपना भवनानी ने अपने ट्वीट पर भी कुछ इसी तरफ इशारा किया है.हेयर स्टाइलिस्ट सपना भवनानी ने सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या पर गहरा शोक जताया है.हालांकि अपने पोस्ट में उन्होंने बॉलीवुड के सितारों पर उंगली भी उठाई है.सपना ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत पिछले काफी समय से बुरे दौर से गुजर रहे थे,लेकिन बॉलीवुड उनकी तकलीफ के समय उनके साथ खड़ा नहीं हुआ.इस पोस्ट में उन्होंने साफ-साफ लिखा है- ‘‘इसमें कोई सीक्रेट नहीं है कि सुशांत पिछले कुछ सालों से काफी बुरे दौर से गुजर रहे थे.उनके इस बुरे दौर में फिल्म इंडस्ट्री से कोई भी उनके साथ खड़ा नहीं हुआ और न ही किसी ने मदद के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया…’’

Sushant singh rajput

मुकेश भट्ट का खुलासा
एक तरफ बाॅलीवुड में हर कोई सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या करने से गमगीन है.तो वहीं फिल्म निर्माता मुकेश भट्ट ने एक टीवी चैनल पर सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि वह इस खबर से स्तब्ध नही है.क्योंकि उन्हें तो पता था कि सुशांत सिंह राजपूत धीरे धीरे परबीन बाॅबी की राह पर  बढ़ रहे हैं. मुकेश भट्ट ने कहा है कि वह सुशांत सिंह राजपूत को फिल्म ‘सड़क 2’का हिस्सा बनाना चाहते थे.इसलिए सुशांत सिंह राजपूत से मिले थे.पर उन्होंने पाया कि सुशांत सिंह राजपूत अपने आप में नही हैं. ..’’

करियर में उतार चढ़ाव
मुंबई पहुंचने पर सुशांत सिंह राजपूत ने अपने करियर की शुरूआत टीवी से की थी.2008 में उन्होने पहला सीरियल ‘‘किस देश में है मेरा दिल’ में अभिनय किया था.फिर एकता कपूर निर्मित सीरियल‘‘पवित्र रिश्ता’’में उन्होने मानव देशमुख का किरदार निभाया,जिसमें अंकिता लोखंडे के साथ उनकी रोमांटिक जोड़ी थी.

सुषांत सिंह की 2013 में आयी पहली फिल्म ‘काई पो छे’में सारे नए कलाकार थे.कम बजट की फिल्म थी.तो स्वाभाविक तौर पर उन्हें बहुत अधिक पैसे भी नही मिले होंगे.इसके बाद उनकी दूसरी फिल्म‘‘शुद्ध देसी रोमांस’’थी,जो कि बुरी तरह से असफल हो गयी थी.फिर वह आमिर खान व अनुष्का शर्मा के साथ फिल्म ‘‘पीके’’में एक छोटे से किरदार में नजर आए थे.इस फिल्म से सारी शोहरत आमिर खान और अनुष्का शर्मा बंटोर ले गए थे.इसके बाद वह फिल्म ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’में नजर आए थे.यह फिल्म कलात्मक फिल्म थी,लेकिन बॉक्स ऑफिस में इसे बहुत ज्यादा सफलता नही मिली थी.इसके बाद ‘एम एस धोनी’ने जरूर उन्हें शोहरत दिलायी.इसके बाद 2017 में फिल्म ‘‘राब्ता’’आयी, जिसमें कृति सेनन के साथ उनके काफी गर्मागर्म सीन भी थे.इसी फिल्म के दौरान कृति सेनन व सुशांत सिंह राजपूत के बीच निजी जिंदगी में भी एक रिश्ता पनपा था,जिसे दोनो ने कभी भी खुलकर स्वीकार नहीं किया था.मगर इस फिल्म से निर्माता को नुकसान हुआ था.45 करोड़ की लागत से बनी यह फिल्म बॉक्स आफिस पर महज 37 करोड़ ही कमा सकी थी.2018 में ‘वेलकम टू न्यूयाॅर्क’ने पानी नही मांगा.‘केदारनाथ’ठीक ठाक चली थी.

2019 में ‘सोनचिरैया’, ‘छिछोरे’और ‘ड्राइव’ आयी.‘ड्राइव’ एक ऐसी फिल्म थी,जो कई वर्षो से बनकर तैयार थी,लेकिन उसे खरीददार नही मिल रहा था.अंततः यह फिल्म ओटीटी प्लेटफार्म पर दे दी गयी.इसी बात पर सुशांत सिंह राजपूत और करण जौहर के बीच कहासुनी होने की बातें भी आयी थीं.फिल्म‘छिछोरे’सफल हुई.इसका काॅसेप्ट भी अच्छा था.पर इसका सारा श्रेय निर्देषक नितेश तिवारी ले गए, सुशांत सिंह राजपूत को जो शौहरत मिलनी चाहिए थी,वह न मिल सकी.और यदि सुशांत सिंह की बहन व पुलिस सूत्रों पर यकीन किया जाए,तो लगभग उसके बाद से ही सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन में चल रहे थे.यहां तक कि अब उनके करियर की अंतिम फिल्म‘‘दिल बेचारा’’भी ओटीटी प्लेटफार्म पर जा रही थी.जिसकी घोषणा 15जून को सुशांत सिंह राजपूत को ही करनी थी.

यूं तो लोगों की नजर में सुशांत सिंह राजपूत का ‘औरा’ बहुत बड़ा था,पर हकीकत में ऐसा नही था.शायद इस बात को सुशांत सिंह राजपूत भी समझते थे कि लोगों को मेरा ‘औरा’जिस तरह का नजर आ रहा है,वहां तक तो मैं पहुंच ही नही पाया.शायद इसके चलते भी वह डिप्रेशन का शिकार हुए होंगे.

कंगना व शेखर कपूर ने लगाए नेपोटिज्म के आरोप
पुलिस की जाॅंच जारी थी,पर इस बीच कंगना रनौत ने 15 जून को अपना एक वीडियो जारी कर तथा शेखर कपूर ने लंबा चौड़ा ट्वीट कर आरोप लगाया कि बाॅलीवुड में नेपोटिज़्म है.इसी के चलते कुछ दिग्गजों ने सुशांत के खिलाफ साजिश रचकर उनसे फिल्में छीनी और सुशांत को आत्महया करने पर मजबूर होना पडा.
बहरहाल,मुंबई पुलिस की अपराध शाखा हर पहलुओं पर बड़ी गहराई से छानबीन कर रही है.अब देखना है कि पुलिस की रिपोर्ट और समय के साथ क्या सच सामने आता है.

शान्तिस्वरुप त्रिपाठी
SHARE