मैं नहीं जानती फेमिनिज्म क्या है, सबकी इस पर अपनी परिभाषा हैं- यामी गौतम

1 min


विक्की डोनर फेम एक्ट्रेस यामी गौतम और शुभ मंगल सावधान के निर्देशक आरएस प्रसन्ना ने हाल ही में इंडिया टुडे कॉन्क्लेव साउथ 2018 के अहम सेशन ‘बॉलीवुड/टॉलीवुड: रीमेक्स एंड रिइन्वेंशन्स’ का दौरा किया। इस दौरान यामी ने साउथ की फिल्मों में अपने काम के एक्सपेरिएंस के बारे में भी बताया, की उन्ही वहा काम करके ख़ुशी हुई।

साथ ही इस इवेंट के दौरान फेमिनिज्म को लेकर भी बात की गई, जिसके चलते फेमिनिज्म पर बोलते हुए यामी गौतम ने कहा- “ईमानदारी से कहूं तो मैं फेमिनिज्म की परिभाषा नहीं जानती। हम में से हर किसी के पास फेमिनिज्म की अपनी परिभाषा है। इसका मतलब दूसरे जेंडर पर हमला करना कतई नहीं है। जब आप जमीनी स्तर पर देखते हैं तो इसके मायने और जरूरतें बिल्कुल अलग होते हैं।”

इसके साथ ही आरएस प्रसन्ना ने फेमिनिज्म के सवाल पर कहा- “जो भी मेरी पत्नी कहती है, मैं उस फेमिनिज्म को फॉलो करता हूं।” अपनी पहली हिंदी फिल्म शुभ मंगल सावधान के बारे में बात करते हुए प्रसन्ना ने कहा- “मैंने इसके लिए कोई रिसर्च नहीं की। मुझे पता था कि मेरी फिल्म सफल होगी, क्योंकि मैं फर्स्ट टाइम फिल्ममेकर था। मेरे पास ऐसे लोग नहीं थे, जो कहें कि ये चलेगी या नहीं। पहली बार में आपके पास खोने के लिए कुछ नहीं होता। हमने छोटे बजट की फिल्म बनाई, इसलिए ज्यादा कुछ खोने का खतरा नहीं था।”

विकी डोनर के बारे में बोलते हुए, यामी ने अपनी फिल्म विकी डोनर साइन करने को लेकर कहा कि “इसकी स्क्रिकप्ट बहुत अच्छी थी, इसलिए ये उन्हें पसंद आई। हर क्रिएटिव बंदा तत्काल इसे सुनने को राजी हो जाएगा। लोग इसके हर कैरेक्टर से कनेक्ट होते हैं। वे इन कहानियों में खुद को पाते हैं।”

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Chhavi Sharma

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये