मूवी रिव्यू: फिर वही प्यार में धोखा,और बदला ‘ये साली आशिकी’

1 min


ये साली आशिकी

रेटिंग**

इस सप्ताह मरहूम अमरीश पुरी के पौत्र वरदान पुरी के साथ शिवालिका ऑबेरॉय ने निर्देशक चिराग रूपारेल की थ्रिलर फिल्म ‘ये साली आशिकी’ से डेब्यू किया है। प्यार में धोखा खाने या देने वाले सब्जेक्ट पर अभी तक न जाने कितनी फिल्में बन चुकी है। मौंजूदा फिल्म भी उनमें से एक है।

कहानी

साहिल मेहरा यानि वरदान पुरी और मीति यानि शिवालिका ऑबेरॉय शिमला में मैनेजमेन्ट कोर्स कर रहे हैं। साहिल मीति को दिल से प्यार करने लगता है, मीति भी उसके प्यार को स्वीकार कर लेती है। लेकिन परिस्थतियां मीति को साहिल के खिलाफ कर देती हैं लिहाजा उसकी वजह से साहिल को पागल करार दे पागलखाने भेज दिया जाता है। इसके बाद, कितने ही टर्न और ट्वीस्ट स्टोरी में शामिल हो उसे क्लाईमेक्स तक पहुंचाते हैं।

अवलोकन

फिल्म, ये साली आशिकी, की शुरूआत आम लव स्टोरीज की तरह शुरू हो आगे बढ़ती है लेकिन मध्यातंर आने तक वो थ्रिलर होने लगती है। किरदार बदलने लगते हैं। कहानी के टर्न और ट्वीस्ट दर्शक को थोड़ा चौकाते हैं। लेकिन एक हद तक ही प्रभावित करते हैं। फिल्म में कुछ ऐसी बातें हैं जिनका हल आखिर तक नहीं मिल पाता ।फिल्म की कथा,पटकथा, संपादन तथा संगीत सभी कुछ एवरेज है।

अभिनय

वरदान पुरी ने अपनी डेब्यू फिल्म में ही इतना भारी भरकम किरदार ले लिया कि एक वक्त वो उसके नीचे दबा हुआ हुआ लगने लगता है। फिल्म में उसके दो शेड्स हैं, लेकिन उनमें उसका नयापन आसानी से दिखाई देता है। शिवालिका शुरू में मासूम और कमसिन लगती है, लेकिन मध्यातंर के बाद वो पूरी तरह खुल जाती है। नगेटिव किरदार में वो अच्छी लगी। जॉनी लीवर के बेटे जेस लीवर ने भी इस फिल्म से शुरूआत की है, लेकिन वे कॉमेडी में नहीं बल्कि हीरो के दोस्त के साधारण से किरदार में जरा भी प्रभावित नहीं करते। छोटे से किरदार में रूसलान मुमताज ठीक ठाक रहे।

क्यों देखें

अमरीश पुरी के पोते से मिलने के लिये ये थ्रिलर फिल्म देखना चाहें तो देख सकते हैं ये साली आशिकी।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

SHARE

Mayapuri