मूवी रिव्यू – जैक सनाइडर की चार घंटे वाली जस्टिस लीग लंबी तो है, पर बोरिंग नहीं

1 min


कॉमिक फैंस के लिए, खासकर बैटमैन के दीवानों के लिए खुशखबरी है कि जस्टिस लीग दोबारा रिलीज हो चुकी है। आप जानते ही होंगे कि पिछली वाली जस्टिस लीग दर्शकों को कोई खास पसंद नहीं आई थी। फैंस ने उसे कम्प्लीट बर्बाद करार दिया था। लेकिन वॉर्नर ब्रदर्स के पुराने डायरेक्टर फिल्ममेकर जैक सनाइडर ने फिल्म दोबारा बनाई और दर्शकों के सामने इस उम्मीद से रख दी कि वो बहुत खुश होंगे, शाबाशी देंगे।

कहानी की बात करें तो पिछली बार से इस बार में कोई बड़ा बदलाव नहीं किया है, बस डीटेल्स बढ़ा दी हैं। अबकी ये दिखाया है कि सुपरमैन (हेनरी काविल) के मरने की वजह से ही सटेपेनवुल्फ़ पृथ्वी पर मदर बोक्सेस लेने आया है और चारों तरफ तबाही मचा रहा है।

लेकिन इस बार अच्छा ये है कि 4 घंटे में नए सुपरहीरोज़ को पनपने का, उन्हें पैर फैलाने का पूरा मौका दिया है। विक्टर यानि साईबॉग बने रे फिशर की एक्टिंग भी अच्छी है और उनका कैरेक्टर भी पिछली बार से बढ़िया निकलकर आया है। इसी तरह एजरा मिलर बने फ्लैश भी पिछली बार से बेहतर नज़र आए हैं।

फिल्म की अहम हिस्सा दोबारा शूट हुआ है जिसमें हैनरी काविल, यानि सुपरमैन ने इस बार अपनी मूंछें नहीं रखी हैं, कहने का मतलब 70 मिलियन डॉलर्स लगाने के बाद सिर्फ डायरेक्टर ने ही नहीं, बाकी कास्ट ने भी उनका भरपूर साथ दिया है।

बेन अफलेक का वजन ज़रूर कुछ जगह कम और कुछ जगह ज़्यादा लगा है, लेकिन ओवर आल फिल्म बढ़िया बनी है।

फिल्म का बैकग्राउन्ड म्यूजिक भी चेंज हुआ है। जस्टिस लीग की थीम के अलावा तीन अलग-अलग गाने भी ऐड किए हैं जो आर्टिस्टिक टच देते हैं।

सबसे बड़ा बदलाव इस बार ये हुआ है कि सटेपेनवुल्फ़ को बहुत छोटा विलन दर्शाकर, बड़े विलन डार्कसेड को दिखाया है और ये साफ किया है कि वो बहुत जल्द ही पृथ्वी पर फिर अटैक करने आने वाला है।

तो दोस्तों देर करने की कोई ज़रूरत नहीं है, अगर आप सुपरहीरो मूवी के दीवाने हैं तो इस वीकएंड 4 घंटे की ये सागा देखने के लिए तैयार हो जाइए।

फिल्म क्योंकि छः अलग-अलग पार्ट्स में हैं इसलिए आपको बीच-बीच में ब्रेक लेने में कोई दिक्कत नहीं होगी। हाँ कुछ एक जगह आपको ये लग सकता है कि शायद और बेहतर होता तो अच्छा होता, पर कोई बात नहीं, बैटमैन सुपरमैन के फैन होने के नाते आप इतना तो सह ही सकते हैं।

एक सर्पराइज़ भी है –

इस फिल्म में एक नए सुपरहीरो की एंट्री भी हो रही है जो पिछली जस्टिस लीग में नहीं था। अब वो हीरो कौन होगा, ये मैं आपको नहीं बताने वाला, ये आप खुद देखकर जानेंगे।

रेटिंग – 7.5/10*

सिद्धार्थ अरोड़ा सहर


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये