पेश हैं वो आवाजें जो आपका दिल छू जाएं…!

1 min


ज़ी टीवी के सबसे बड़े रियेलिटी शो में प्रतिभाओं के चुनाव के लिए संगीत के उस्तादों को लेकर बनाई गई अपनी तरह की पहली 30-सदस्यीय ज्यूरी

देश के सबसे टैलेंटेड गायकों की तलाश में करीब 8 हफ्तों से ज्यादा समय तक चले धुआंधार ऑडिशन में 50,000 लोगों की स्क्रीनिंग हुई। इनमें से ज़ी टीवी के ‘अमूल सा रे गा मा पा को – पावर्ड बाय फ्लिपकार्ट एंड ड्रिवन बाय ह्यूंडई‘ के मंच पर केवल ऐसी दिलकश आवाज वाले लोग ही पहुंच पाएंगे, जिनमें आपके दिलों को छूने की योग्यता हो। शनिवार, 26 मार्च 2016 को रात 9.30 बजे से शुरू हो रहा भारत का पहला और सर्वश्रेष्ठ सिंगिंग रियेलिटी शो – ‘सा रे गा मा पा‘, चार साल के अंतराल के बाद नए सीजन के साथ आपके टीवी स्क्रीन्स पर लौट आया है।

Wajid

यह शो देश की कुछ उल्लेखनीय संगीत प्रतिभाओं को खोजने, उनका हुनर संवारने और उनके लिए इंडस्ट्री के द्वार खोलने में अहम भूमिका निभा रहा है। बीते दो दशकों में इस मंच से देश को श्रेया घोषाल, कुणाल गांजावाला, शेखर रावजियानी, बेला शेंडे, संजीवनी, कमाल खान और रंजीत राजवाड़ा जैसी प्रतिभाएं मिली हैं। एपिसोड विजेताओं को चुनने से लेकर पिरामिड ढांचा अपनाने तक, इस शो ने बीते वर्षों में अपने फॉर्मेट को काफी विकसित किया है। इस तरह ‘सा रे गा मा पा’ संगीत प्रतिभाओं की नई परिभाषा गढ़ने में शीर्ष भूमिका निभा रहा है। 1995 में इसके लॉन्च के बाद, इस साल यानी 2016 में जहां संगीत का यह प्रतिष्ठित मंच 21 साल पूरे कर रहा है, वहीं इसका नया सीजन पहले से कहीं ज्यादा युवा जोश और ताजगी से भरा होगा। इस बार तलाश है कल की आवाजों की – ऐसी अनूठी आवाज जो सही मायनों में आधुनिक भारत का प्रतिनिधित्व करती हैं।

Sajid
Sajid

देश की चुनिंदा संगीत प्रतिभाओं के साथ भारतीय संगीत जगत की विरासत को आगे बढ़ाते हुए ज़ी टीवी ने इस सीजन के प्रतिभागियों का हुनर निखारने के लिए संगीत के उस्तादों का एक विशेष पैनल तैयार किया है। ये मेंटर्स संगीत के वो गुरु हैं जिन्होंने देश को कुछ अविस्मरणीय धुनें दी हैं और जिन्हें दुनिया भर के संगीत प्रेमी अपना आदर्श मानते हैं। इनमें बॉलीवुड संगीत की दबंग जोड़ी साजिद-वाजिद और सबके चहेते एवं अनेक अवॉर्ड्स के विजेता प्रीतम चक्रवर्ती शामिल हैं, जो युवा एवं नई प्रतिभाओं को लगातार अवसर देने के लिए जाने जाते हैं। इनके साथ ‘सा रे गा मा पा‘ के मंच पर पहली बार इंडी-पॉप और बॉलीवुड प्लेबैक के किंग और उत्कृष्ट परफॉर्मर मीका सिंह भी नजर आएंगे। संगीत से जुड़े परिवार में पले-बढ़े आकर्षक आदित्य नारायण नए सीजन को होस्ट करने वापस आ गए हैं। साथ ही पहली बार संगीत के क्षेत्र के 30 पारंगत सदस्यों का एक पैनल ऑडिशन के मंच पर उभरते गायकों की प्रतिभा का आंकलन करेगा और चुनाव प्रक्रिया में मेंटर्स की मदद करेगा। इनमें डीजे से लेकर म्यूजिक प्रोड्यूसर और गायक, अरेंजर्स और गीतकार तक, आज के संगीत जगत की अलग-अलग हस्तियां शामिल हैं।

Pritam Da
Pritam Da

नए सीजन के लॉन्च को लेकर ज़ी टीवी के बिजनेस हेड प्रदीप हेजमाडी कहते हैं, ‘‘बच्चों की रचनात्मकता और अभिनय कुशलता को बढ़ावा देने वाले देशी फॉर्मेट ‘इंडियाज़ बेस्ट ड्रामेबाज़‘ के दूसरे सफल सीजन के बाद अब हम अपना सबसे बड़ा नॉन-फिक्शन शो पेश कर रहे हैं। 1995 से प्रतिभा आधारित रियेलिटी टेलीविजन के क्षेत्र में आगे रहते हुए ‘सा रे गा मा पा‘ अपने हर सीजन के साथ मजबूत होता चला गया। हमें गर्व है कि हमने संगीत जगत को कुछ असाधारण प्रतिभाएं दीं जो आज युवाओं के रोल मॉडल बनकर उन्हें प्रेरित कर रहे हैं। ये वो गायक, संगीतकार और होस्ट हैं जिन्हें दर्शक चाहते हैं और उन्हें अपना आदर्श मानते हैं। लिटिल चैंप्स जैसे इसके बेहद सफल ब्रांड विस्तार के साथ इस मंच ने हमेशा ही विलक्षण प्रतिभा वाले बच्चों की गायन प्रतिभा को भी संवारा है। 21 साल के अपने गौरवशाली सफर के साथ ‘सा रे गा मा पा‘ का आगामी सीजन अब पहले से कहीं ज्यादा ताजगी भरा और मनोरंजक रहने वाला है। हमारा विचार है कि हम इसकी चमक खोए बिना अपनी विरासत को कायम रखें, साथ ही वर्तमान समय के जोश को भी बखूबी प्रस्तुत करें। हमने ध्यानपूर्वक इन आवाजों की खोज की है, जिनमें आज की धुन है और ऐसी गायिकी है जो लोगों की संवेदनाओं और पसंद के अनुरूप हो।‘

Mika Singh
Mika Singh

एस्सेल विजन प्रोडक्शन्स लिमिटेड के बिजनेस हेड आकाश चावला कहते हैं, ‘‘देश के 14 शहरों में ऑडिशन के बाद हमें कुछ बेहतरीन प्रतिभाएं मिली हैं, जो संगीत की विभिन्न विधाओं में माहिर हैं। इससे हमें एक शानदार सीजन की उम्मीद है। ‘सा रे गा मा पा‘ के लिए यह सीजन इसलिए भी खास है क्योंकि इसमें इस बार एक नया फॉर्मेट शुरू किया गया है। हमने देश के 30 संगीत विशेषज्ञों को लेकर एक ज्यूरी बनाई है जो शुरुआत से ही चुनाव प्रक्रिया में मदद करेंगे। यह किसी भी सिंगिंग रियेलिटी शो में पहली बार होगा, जब सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं को चुनने के लिए मेंटर्स के साथ ज्यूरी भी शामिल होगी। एक गायक को संगीत की 30 विभिन्न विधाओं में परखा जाएगा। ऐसे में हर उम्मीदवार के लिए चुनौती और कड़ी हो गई है।‘‘

Aditya Narayan
Aditya Narayan

देश के जिन 14 शहरों में सर्वश्रेष्ठ गायकों की तलाश की गई, उनमें भुवनेश्वर, गुवाहाटी, पटना, लखनऊ, चंडीगढ़, नागपुर, देहरादून, अहमदाबाद, जयपुर, कोलकाता, इंदौर, दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर शामिल हैं।

तो आप भी हमारे साथ ‘अमूल सा रे गा मा पा को पावर्ड बाय फ्लिपकार्ट एंड ड्रिवन बाय ह्यूंडई‘ में संगीत के इस मधुर सफर में शामिल हो जाइए, हर शनिवार और रविवार रात 9.30 बजे सिर्फ ज़ी टीवी पर!


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये