मूवी रिव्यू: हास्य भरे मनोरंजन से भरपूर पारिवारिक फिल्म ‘गुड न्यूज’

0 14

रेटिंग 3.5

आज फिल्मों के सौजन्य से कुछ ऐसी बातें भी देखने को मिल रही हैं जो सीधे कितने ही कपल्स को फायदा पहुंचाती है । राज मेहता निर्देशित फिल्म ‘ गुड न्यूज’ उन दंपतियों को गुड न्यूज देती है जो औलाद से वंचित हैं। फिल्म के द्धारा दिया गया मैसेज निसंतान लोगों को  हास्य भरे मनोरंजन के द्धारा एक तकनीक से परिचित करवाता है।

कहानी

मुंबई में एक अपरक्लास कपल वरूण बत्रा (अक्षय कुमार) दीप्ती बत्रा रहते हैं । दोनों की शादी को सात साल हो चले हैं लेकिन उनके यहां अभी तक औलाद पैदा नहीं हो पाई । दीप्ती जहां पेशे से एक पत्रकार है और बच्चे के लिये डिस्प्रेट है वहीं वरूण इस मामले में शांत है ।जब कि दोनों के ऊपर उनके सगेसंबधियों तथा सामाजिक प्रेशर भी बना हुआ है । एक  दिन दोनों को वरूण की बहन अंजना सुखानी के  दिल्ली स्थित घर लोहड़ी मनाने के लिये जाना पड़ता हैं वहां अजंना उन्हें डा. जोशी दंपति (आदिल हुसॅन, टिस्का चैपड़ा) के पास जाने की सलाह देती हैं जंहा उन्हें आई वीएफ नामक तकनीक  से  पेरेन्ट्स बनाया जा सकता है । दीप्ती इसके लिये वरूण को कैसे भी तैयार करती है । लेकिन डा. जोशी के ट्रीटमेंट के तहत उन दोनों की जिन्दगी में एक ऐसी मुसीबत सामने  आ जाती  है जो उनकी जिन्दगी उथल पुथल कर देती है । दरअसल उनकी तरह पंजाब से भी एक जोड़ा हनी  बत्रा (दिलजीत दोसांझ) और मोनिका बत्रा (कियारा आडवानी) बच्चे के लिये वहां इलाज करवाने आये हैं । गलती से वरूण और हनी के स्पर्म चेंज हो जाते हैं। इस प्रकार अब हनी का स्पर्म दीप्ती के पेट मे चला जाता है और वरूण का मोनिका के पेट में ।इसके बाद दोनों जोड़ी की लाइफ में कैसे कैसे मूमेंट्स आते हैं ये फिल्म में देखते हुये ज्यादा मजा आयेगा ।

अवलोकन

फिल्म की विशेषता ये हैं कि फिल्म विकी डोनर की तरह कवशय को लेकर  इस फिल्म में भी कहीं अष्लीलता नजर नहीं आती, बल्कि आइवीएफ जैसी तकनीक से दर्शकों को वाकिफ़ करवाने के लिए काॅमेडी का सहारा लिया गया है । लिहाजा फिल्म का पहला भाग चारों किरदारों के क्रियाकलापों से खूब हास्य भरा मनोरंजन पैदा करता है । लेकिन दूसरे भाग में ड्रामा के तहत औरत और मर्द के बीच बच्चे की पैदाइश को लेकर एक दूसरे के योगदान का विषलेशण दिखाया गया है । फिल्म की  यूनिक कथा, पटकथा काफी चुस्त और टाइट है, संपादन कसा हुआ और म्युजिक की बात की जाये तो ‘सौदा खरा खरा’ तथा ‘चंडीगढ मे’ जैसे गीत काफी लोकप्रिय हो रहे हैं ।

अभिनय

अक्षय कुमार ने अपने किरदार को कुछ ऐसी शक्ल दी कि वे अपने वन लाइनर संवादों से दर्शकों को लगातार हंसाते रहते हैं, वहीं करीना कपूर ने बच्चे के लिये किसी भी हद तक जाती पत्नि की भूमिका इतनी दक्षता से निभाई हैं कि उसमें रीयलनेस और उच्चस्तर का दंभ प्रभावी तौर पर उभर कर आता है । लेकिन दिलजीत दोसांझ मनोरंजन करने के  नाम पर सबसे आगे नजर आते हैं उनकी गजब की काॅमिक टाइमिंग दर्शकों को पेट पकड़कर हंसने पर मजबूर कर देती है, वहीं मोनिका की भूमिका में कियारा आडवानी का अभिनय भी दर्शनीय बन पड़ा है । इनके साथ डॉक्टर कपल की भूमिका में आदिल हुसॅन और टिस्का चैपड़ा भी प्रभावी रहे ।

क्यों देखें

 एक साथ बैठकर फिल्म देखने वाले  परिवार इस हास्य भरी पारिवारिक फिल्म का   भरपूर मजा ले सकते हैं ।

Advertisement

Advertisement

Leave a Reply