21 सालों के बाद भी यदि बंधन टूट जाता है तो यकीनन उस बंधन में प्यार नहीं था... (कमल सदाना और लिसा भी अलग हो गए)- अली पीटर जॉन

| 21-07-2021 5:30 AM 2

प्रेम ईश्वर का सबसे अमूल्य उपहार है। सच्चे प्यार के लिए शादी सबसे कठिन परीक्षा होती है! लेकिन जिस समय में हम रह रहे हैं, ऐसा लगता है कि, सच्चे प्यार और शादी दोनों को हम इंसान बहुत हल्के में ले रहे हैं, और यही कारण है कि, हम बहुत सारी प्रेम कहानियों को बुरी तरह से गिरते हुए देखते हैं और शादियाँ टॉस के लिए की जा रही हैं। इस सच्चाई को साबित करने वाले अनगिनत उदाहरण हैं और नवीनतम कमल सदाना और लिसा के बीच क्या हुआ है, जिनकी शादी को 21 साल हो चुके थे और उनकी शादी पिछले हफ्ते ही टूट गई थी!कमल प्रसिद्ध फिल्म निर्माता ब्रिज सदाना के इकलौते बेटे थे, जिन्होंने ‘विक्टोरिया 203‘, ‘यकीन‘ और ‘बॉम्बे 405 माइल्स‘ जैसी सफल फिल्में बनाई हैं। कमल ने ‘बेखुदी‘ में एक प्रमुख नायक की भूमिका से अपनी शुरुआत की, जोकि सैफ अली खान और काजोल की भी पहली फिल्म थी! लेकिन निर्देशक राहुल रवैल के सैफ के साथ गंभीर मतभेद हुए और उन्हें सैफ को फिल्म छोड़ने के लिए कहना पड़ा और सैफ की जगह कमल ने ले ली! फिल्म की छह रील हो गईं थीं! फिल्म ने बिल्कुल भी अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था, लेकिन काजोल बड़ी स्टार बन गईं और कमल को छोटी-छोटी फिल्मों में छोटे-छोटे रोल से ही संतुष्ट होना पड़ा!जब कमल एक अभिनेता के रूप में पैर नहीं जमा सके, तो उन्होंने अपनी खुद की प्रोडक्शन कंपनी शुरू की और कुछ फिल्में बनाईं जो अच्छी नहीं चलीं ...उन्हें गोवा की लिसा नाम की एक फैशन डिजाइनर से प्यार हो गया और उन्होंने शादी कर ली! उनके दो बच्चे थे, एक लड़का और एक लड़की और जीवन चलता रहा.... लेकिन अभी कुछ सालों से उनके बीच कुछ समस्या होने की कहानियाँ उद्योग में फैलने लगीं थीं! अफवाहें समाप्त हो गईं जब वास्तविकता पिछले हफ्ते बाहर हो गई, लिसा अपने बच्चों के साथ गोवा के लिए रवाना हो गई और कमल अब एक ऐसे व्यक्ति है जिसे अपने भविष्य के बारे में सोचना और योजना बनाना है!अगर इसी तरह प्रेम कहानियों का अंत होने जा रहा है, तो प्रेम, प्रेम कहानियों और विवाह को स्वर्ग समझने वालों के भविष्य का क्या? यह एक ऐसा प्रश्न है जिस पर हर युवक-युवती को विचार करना होगा कि आने वाला समय खुशनुमा देखना है या अंधकारमय। पहले लोग गाते थे, प्यार किया तो डरना क्या। आज तो ऐसे लगता है कि प्यार बहुत संभल करके करना होगा और शादी उससे भी ज्यादा संभल कर करनी पड़ेगी। सोचो, सोचो मेरे जवान साथियों!