फ़िल्म 'पृथ्वीराज' के लिए वाईआरएफ ने 50,000 से अधिक कॉस्टयूम तैयार किए हैं।

| 16-05-2022 5:30 AM 1 view

अक्षय कुमार कहते हैं, 'शायद ही कभी किसी फ़िल्म में इतने बड़े पैमाने पर काम हुआ है'वाईआरएफ की पहली हिस्टॉरिकल फ़िल्म 'पृथ्वीराज' में सुपरस्टार अक्षय कुमार मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। यह फ़िल्म बड़े ही दिलेर और बहादुर राजा 'पृथ्वीराज चौहान' की ज़िंदगी और उनकी वीरता पर आधारित है। बेमिसाल दृश्यों वाली इस फ़िल्म में अक्षय उस महान योद्धा की भूमिका निभा रहे हैं, जिन्होंने भारत पर हमला करने वाले बेरहम मोहम्मद गोरी से देश को बचाने के लिए बहादुरी से लड़ाई लड़ी थी। फ़िल्म-मेकर्स बड़े पैमाने की इस फ़िल्म को बिल्कुल ऑथेंटिक तरीके से तैयार करना चाहते थे, लिहाजा इस बात में कोई हैरानी नहीं है कि फ़िल्म के लिए 50,000 से ज्यादा कॉस्ट्यूम तैयार करना पड़ा और शूटिंग के दौरान अलग-अलग तरह की 500 पगड़ियों का भी इस्तेमाल किया गया था!फ़िल्म के डायरेक्टर डॉ.चंद्रप्रकाश द्विवेदी कहते हैं, “पृथ्वीराज जैसी फ़िल्म बनाने के लिए इसकी बारीकियों पर ध्यान देना बेहद जरूरी था। उदाहरण के तौर पर, फ़िल्म के लिए अलग-अलग तरह की 500 पगड़ी तैयार की गई थी। उस समय के राजाओं, आम जनता और अलग-अलग पेशे से जुड़े लोगों द्वारा पहनी जाने वाली पगड़ियों की हूबहू नकल तैयार की गई थी। सेट पर टर्बन स्टाइलिंग के एक्सपर्ट भी मौजूद थे, और हर बार हमारे एक्टर्स को पगड़ी पहनाने का काम उनकी निगरानी में ही किया गया।”वे आगे कहते हैं, 'हमारे कॉस्ट्यूम डिज़ाइनर ने फ़िल्म के लिए 50,000 से ज्यादा कॉस्ट्यूम अपने हाथों से तैयार किए। उन्होंने अपनी टीम के साथ राजस्थान से मुंबई आकर बिल्कुल नए सिरे से सभी कॉस्ट्यूम तैयार किए। मुझे खुशी है कि मुझे आदित्य चोपड़ा जैसे फ़िल्म मेकर का पूरा सहयोग मिला, जिन्होंने इस फ़िल्म के लिए मेरे विजन पर पूरा भरोसा जताया और इस तरह की कहानी को बेमिसाल अंदाज में लोगों के सामने पेश करने के लिए हर कदम पर मेरा साथ दिया।”अक्षय कुमार कहते हैं, ''शायद ही कभी किसी फ़िल्म में इतने बड़े पैमाने पर काम होता है जो हमेशा याद रह जाए। सम्राट पृथ्वीराज चौहान के जीवन पर आधारित इस फ़िल्म के हर पहलू को पूरी ईमानदारी, सच्चाई और आदर के भाव के साथ पेश किया गया है। हमने फ़िल्म बनाते समय छोटी-छोटी बातों पर पूरा ध्यान दिया है, क्योंकि हम चाहते थे कि सम्राट पृथ्वीराज की ज़िंदगी की कहानी को बड़े पर्दे के जरिए सबसे शानदार तरीके से लोगों तक पहुंचाया जाए।”डॉ.चंद्रप्रकाश द्विवेदी फ़िल्म पृथ्वीराज के डायरेक्टर हैं, जो टेलीविजन के सबसे बड़े एपिक, 'चाणक्य' के अलावा दर्शकों एवं क्रिटिक्स की भरपूर तारीफ़ पाने वाले फ़िल्म 'पिंजर' के निर्देशन के लिए जाने जाते हैं। ख़ूबसूरती की मिसाल बन चुकी मानुषी के साल 2022 में फ़िल्मी सफ़र की शुरुआत का लोग बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं। यह फ़िल्म 3 जून को हिंदी, तमिल और तेलुगु में रिलीज़ के लिए पूरी तरह तैयार है।